National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

नि:शुल्क नेत्र जाँच कैंप का आयोजन

विज़न भारत यू० के० और भारती आई फाउंडेशन एवं हॉस्पिटल नें विशाल निःशुलक नेत्र जाँच कैंप का आयोजन दिल्ली के बवाना में किया

विजय न्यूज़ संवाद सहयोगी
नई दिल्ली। विज़न भारत यू० के० व भारती आई फाउंडेशन एवं हॉस्पिटल नें विशाल निःशुलक नेत्र जाँच कैंप का आयोजन दिल्ली के बवाना एल. के. इंटरनेशनल स्कूल, (राजीव गाँधी स्टेडियम के सामने), औचंदी रोड पर किया । कैंप सुबह 9 बजे से 2 बजे तक चला । जिसमे सैकड़ो मरीज़ो नें आखो की जाँच करवाइये । ऑपरेशन की लिए बहुत से मरीज़ो का रजिस्ट्रेशन भी हुआ । विज़न भारत यू० के० व भारती आई फाउंडेशन एवं हॉस्पिटल ने रजिस्टर्ड मरीज़ो का ऑपरेशन अगले कुछ दिनों में निःशुलक कराया जाएगा ।

इस अवसर पर संस्था के चेयरपर्सन राज गुलशन ओलिवर नें कहा – “जरुरत मंद लोगो को आखो की रोशनी दिलाना विज़न भारत यू० के० का मुख्य कार्य है और इस पुनीत कार्य में हम पिछले 9 वर्षो से लगे हुए है ।”

इस अवसर पर संस्था के सेक्रेटरी निरंजना भट्टी नें कहा-” आँखों की रोशनी वापिस आने से जिंदगी वापिस आ जाती है । लोगो के मुख पर ख़ुशी आ जाती है ।

विज़न भारत यू० के० व भारती आई फाउंडेशन एवं हॉस्पिटल आँखों की चेकउप कैंप मैं 1000 से ज्यादा मरीज़ आए, 150 मरीज़ो का आँखों कई निःशुलक मोतियाबिन्द ऑपरेशन की लिए रजिस्ट्रेशन किया गया , निःशुलक दवाइया, 500 निःशुलक चश्मे का वितरण किया ।

विज़न भारत यू० के० एक निष्काम कार्य करने वाली कुछ लोगो के दवारा चलने वाली संस्था है । जिस का लक्षय मात्र उन लोगो को आखो की रोशनी प्रदान करना है, जो देखने में असमर्थ है, तथा महगे इलाज का खर्च सहन नें कर सकते । विज़न भारत यू० के० संस्था 9 वर्ष पहले कुछ मित्रो नें मिलकर मानव सेवा के लिए शुरू किया जो इंग्लैंड से यहाँ आकर निष्काम भाव से लोगो का निःशुलक मोतियाबिन्द का ऑपरेशन डॉक्टर्स की द्वारा करवाते है ।

विज़न भारत (यू० के०) के सदस्य हर वर्ष भारत की पिछड़े गांव में जा कर लोगो की आखो के ऑपरेशन के द्वारा उनकी रोशिनी दिलवाते है । सारा ऑपरेशन का, दवाइयों का, चश्मे का खर्च संस्था उठाती है । इस संस्था के चेयरपर्सन राज गुलशन ओलिवर, सेक्रेटरी निरंजना भट्टी, कुछ और लोगो के प्रयास से यह संस्था समाज में भलाई के कार्य कर रही है ।

भारती Eye फाउंडेशन, ईस्ट पटेल नगर एवं ग्रेटर कैलाश दिल्ली सेंटर की तरफ से डॉ. अस. भारती, डॉ. भूपेश सिंह, डॉ. धरित्री, डॉ. विनोद बी.म, डॉ. अमृता, डॉ. अनुरीता नें मरीज़ो को देखा । श्री श्रीशिर झा, मर्केटकिंग हेड, भारती Eye फाउंडेशन का भी सेवा और सहयोग मिला ।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar