National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

नूंह में डिप्थीरिया से 15 बच्चों की मौत, 52 संक्रमित

मेवात। नूंह जिले के नूंह और पुन्हाना खंड में डिप्थीरिया (गलाघोंटू) से 15 बच्चों की मौत हो चुकी है। इस इलाके में डिप्थीरिया से संक्रमित बच्चों की संख्या बढ़कर 52 तक पहुंच गई है। स्वास्थ्य विभाग पहले तो मान ही नहीं रहा था कि बच्चों की मौतें डिप्थीरिया से हुई हैं, लेकिन बाद में जब दो बच्चों में डिप्थीरिया की पुष्टि हुई तो स्वास्थ्य महकमा सक्रिय हुआ और इसे नियंत्रित करने के उपायों में जुट गया है।
डीप्थीरिया से मरने वाले या पीड़ित बच्चों की उम्र 2-17 वर्ष के बीच है। उल्लेखनीय है कि गलाघोंटू अब तक पशुओं में होता रहा है, लेकिन अब इंसान भी इसकी चपेट में आ रहे हैं।
स्वास्थ्य विभाग ने गलाघोटू से मौत के आंकड़ों को देखते जांच के लिए प्रभावित इलाके में टीमें भेजी हैं। नूंह के सिविल सर्जन डॉ. राजीव बातिश के मुताबिक बीमारी पहले भी होती थी, लेकिन मौत नहीं हुई थी। जिले में अब तक 15 बच्चों की जान जाने की बात सामने आई है और जांच में 35 बच्चों में बीमारी के लक्षण पाए गए हैं। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग ने गांव में टीम भेजकर जांच शुरू कर दी है। स्वास्थ्य विभाग ने करीब 26 गांव चिह्नित किए हैं, जिनमें डिप्थीरिया का प्रभाव है।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar