National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

पंचकूला कोर्ट ने हनीप्रीत और सहयोगी सुखदीप को 6 दिन की रिमांड पर भेजा

पंचकूला। डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम की गोद ली बेटी हनीप्रीत को कोर्ट ने 6 दिनों की रिमांड पर भेज दिया है। अदालत ने इसके साथ उसकी सहयोगी को भी रिमांड पर भेजा। हरियाणा पुलिस ने इस रिमांड की मांग की थी। इससे पहले पुलिस हनीप्रीत और उसकी सहयोगी को लेकर कोर्ट पहुंची। कोर्ट में मामले की सुनवाई के दौरान हनीप्रीत हाथ जोड़े खड़ी रही। उसकी पेशी के चलते कोर्ट के बाहर भारी सुरक्षा इंतजाम किए गए थे। इसके अलावा पुलिस हनीप्रीत की एक डमी भी लेकर आई थी। बता दें कि हनीप्रीत को मंगलवार को पंजाब के जीरकपुर से मोहाली पुलिस ने गिरफ्तार किया गया था। जिस वक्त उसे गिरफ्तार किया गया वह एक महिला के साथ इनोवा कार से पटियाला की तरफ जा रही थी। यह कार पंजाब के एक पूर्व मंत्री के सुरक्षा काफिले में चलती है। हालांकि हरियाणा पुलिस ने इससे इनकार किया है।

सरेंडर से पहले दबोचा

हनीप्रीत पर पंचकूला में 25 अगस्त को दंगे भड़काने की साजिश रचने एवं देशद्रोह का केस दर्ज है। इस दिन गुरमीत को दुष्कर्म का दोषी ठहराया गया था। उसके बाद वह गुरमीत के साथ हेलिकॉप्टर से रोहतक जेल तक गई थी और फिर फरार हो गई थी। नीप्रीत पंजाब-हरियाणा हाई कोर्ट में सरेंडर करना चाहती थी लेकिन उससे पहले ही पुलिस को उसकी लोकेशन मिल गई और उसे मंगलवार दोपहर ढाई बजे मोहाली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उसने भागने की भी कोशिश की लेकिन असफल रही। कार चला रही महिला को भी गिरफ्तार किया गया है, हालांकि उसकी पहचान अभी उजागर नहीं की गई है। दोनों को पंचकूला लाया गया है।

अब खुलेंगे कई राज

हनीप्रीत की गिरफ्तारी के बाद पुलिस उससे डेरे से जुड़े कई सवालों का जवाब तलाशने की कोशिश में जुट गई है। हनीप्रीत ने बताया कि वह 38 दिनों में चंडीगढ़ के अलावा दिल्ली, राजस्थान और आसपास के एरिया में भी रुकी थी। चंडीगढ़ में वह सोमवार को ही आई थी।

पंजाब के एक पूर्व मंत्री का संरक्षण

सूत्र बताते हैं कि हनीप्रीत को पंजाब के एक पूर्व मंत्री ने संरक्षण दिया था। पूर्व मंत्री और हरियाणा के एक पुलिस अधिकारी के माध्यम से हनीप्रीत का एक निजी न्यूज चैनल में इंटरव्यू हुआ। इसके बाद हनीप्रीत चंडीगढ़ भी गई और वह फिर पटियाला की ओर इसी मंत्री के पास जा रही थी। यह भी चर्चा है कि पिछले एक सप्ताह से हनीप्रीत पंजाब के एक पूर्व विधायक हरबंस जलाल व जीरकपुर में डेरा समर्थकों के संपर्क में थी।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar