न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

पटना के प्रॉपर्टी डीलर की हत्या, झाडिय़ों से शव हुआ बरामद

फरीदाबाद। गांव बैरिया समपतचक पटना बिहार निवासी प्रॉपर्टी डीलर प्रवीण विश्वकर्मा (37 वर्ष) की दिल्ली बुलाकर हत्या कर दी गई। हत्यारों ने उसे दिल्ली बुलाया था। हत्यारे उसे अधमरी हालत में फरीदाबाद में सूरजकुंड-पाली रोड के पास झाडिय़ों में फेंककर भाग गए थे। घायल अवस्था में उसने घर फोन कर सूचना दी। फोन से ही परिवार वालों को उसके साथ हुई घटना का पता चला। परिजन पुलिस को लेकर उसके पास पहुंचते, इससे पहले प्रवीण ने दम तोड़ दिया। प्रवीण के पैर टूटे हुए हैं। परिवार वालों के अनुसार उसने फोन पर गोलियां मारे जाने की बात कही थी। पुलिस ने शव पोस्टमॉर्टम के लिए बादशाह खान अस्पताल में भिजवाया है। मौत का कारण पोस्टमॉर्टम के बाद पता चलेगा। हत्या का आरोप प्रवीण के पटना निवासी साथी वरुण ङ्क्षसह पर है। डेढ़ करोड़ रुपये का लेन-देन हत्या की वजह बताई जा रही है। सूरजकुंड थाना पुलिस ने प्रवीण के रिश्तेदार रंजीत ङ्क्षसह की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस प्रवक्ता के अनुसार रंजीत ङ्क्षसह ने बताया कि बहनोई प्रवीण विश्वकर्मा प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करते थे। पटना निवासी वरुण ङ्क्षसह नाम के व्यक्ति से उसने किसी को एक प्लॉट दिलाया था। इस प्लॉट के बदले वरुण ङ्क्षसह को डेढ़ करोड़ रुपये भुगतान किए गए थे, मगर अब वह प्लॉट की रजिस्ट्री नहीं करा रहा था। प्रवीण उससे लगातार रुपये वापस करने या रजिस्ट्री कराने के लिए दबाव डाल रहा था। 29 नवंबर की शाम वरुण ने प्रवीण को पेमेंट करने के बहाने दिल्ली बुलाया। उसकी हवाई जहाज की टिकट भी कराकर दी। दिल्ली एयरपोर्ट पर चार-पांच युवकों ने उसे बोलेरो कार में बिठा लिया। इसके बाद वे उसे फरीदाबाद की तरफ ले आए। कार में ही उसके साथ मारपीट की गई। उसके पैर तोड़ दिए गए। पसलियों में दो गोलियां मारकर उसे अधमरी हालत में सूरजकुंड-पाली रोड पर फेंककर भाग गए। उसका फोन चालू था। 30 नवंबर की तडक़े उसने पटना में अपनी पत्नी संगीता को फोन करके सारी घटना के बारे में बताया। परिजनों ने फरीदाबाद पुलिस से संपर्क साधा। 11 बजे के बाद उसने फोन उठाना बंद कर दिया। 30 नवंबर की देर शाम पुलिस ने उसका शव बरामद किया। थाना सूरजकुंड प्रभारी पंकज सिह का कहना है कि थाने के अलावा क्राइम ब्रांच की टीमें आरोपियों की तलाश में जुटी हुई हैं। आरोपी के बारे में अहम सुराग हाथ लगे हैं। आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar