National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

प्रद्युम्न हत्याकांड: पुलिस ने 12 घंटे में ऐसे सुलझाया केस

रेयान इंटरनेशनल स्कूल में शुक्रवार को सात साल के बच्चे की हत्या मामले में प्रदुमन के दोस्तों की मदद से 12 घटें के अंदर आरोपी तक पहुंची पुलिस। बच्चे की हत्या होने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने बाथरूम के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरा लगा होने के कारण पुलिस मामले को जल्द सुलझाने की बात कह रही थी। लेकिन जब पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगालनी शुरू की तो पुलिस को उस कैमरे के खराब होने के बारे में पता चला। उससे पुलिस के लिए समस्या खड़ी हो गई। स्कूल कॉरीडोर में लगे दूसरे कैमरे से पुलिस ने कुछ बच्चों को बाहर आते-जाते हुए देखा गया था। उसके बाद पुलिस ने बच्चों से बातचीत शुरू की गई। फुटेज में अशोक बाथरूम के पास जाते हुए एक कैमरे में कैद हुआ है। एसीपी सोहना ब्रहम सिंह ने बताया कि प्रदुमन के तीन दोस्तों ने पूछताछ में खुलासा किया कि बस कंडेक्टर को बाथरूम और बाहर लगे वाटरकूलर पर हाथ धोते हुए देखा गया था। उसके बाद स्कूल के नौ बस ड्राइवर और कंडेक्टर को बुलाया गया। जिसमें बच्चों ने बस कंडेक्टर की पहचान की गई। उसके बाद पुलिस ने अशोक से पूछताछ करने के हिरासत में लिया गया और देर शाम रात दस बजे पुलिस ने अशोक को गिरफ्तार कर लिया था। ब्रहम सिंह ने कहा कि जिन तीन बच्चों से बातचीत हुई। वह बच्चे दूसरी कक्षा में पढ़ते है। बच्चों में जो सच बोलने का आत्मविश्वास जो था वह देखने लायक था। बच्चों ने निडर होकर कुछ ही देर में बस कंडेक्टर की पहचान कर ली थी।

मदद कर रहा था अशोक
एसीपी सोहना ब्रहम सिंह ने बताया कि वारदात को अंजाम देने के बाद अशोक बाहर वाटरकूलर से हाथ धो रहा था। जब दूसरे माली ने प्रदुमन को खून से लदपद देखा तो भाग कर अशोक आया और बच्चें को उठा कर स्कूल के मेडिकल रूम में ले गया। उसके बाद बच्चें को गाड़ी तक ले गया था। जिससे उस पर शक न हो। क्योकि हत्या करने के बाद अशोक के हाथ और कपड़ो पर खून लग गया था।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar