National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

प्रद्युम्न हत्याकांड : रेयान के संचालक और प्रबंधन के खिलाफ मुकदमा

गुरुग्राम। दो दिनों तक किरकिरी कराने के बाद रविवार की शाम पुलिस ने रेयान इंटरनेशनल स्कूल के संचालक और प्रबंधन के खिलाफ बाल अपराध अधिनियम तथा अन्य धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। भोंडसी थाने में दर्ज एफआइआर के साथ पदनाम भी जोड़े गए हैं। जांच में शामिल होने के लिए पुलिस सोमवार को स्कूल प्रबंधन को नोटिस भेजेगी। इस बात की पुष्टि पुलिस आयुक्त संदीप खिरवार ने की है। थाना प्रभारी भोंडसी नरेंद्र खटाना ने बताया पहली एफआइआर के साथ नए आरोप पत्र को जोड़ा गया है। वहीं पुलिस भी जांच में स्कूल की तीन अध्यापिकाओं की भूमिका संदिग्ध मान रही है। उन्हें पूछताछ के लिए बुलाया गया है। सोमवार को मामले की जांच कर रही एसआइटी तीनों से अलग-अलग पूछताछ करेगी। तीनों शक के दायरे में इसलिए हैं कि उन्होंने वारदात के बाद साक्ष्य मिटाने का काम किया। बच्चों से ही बरामदे का खून साफ कराया। घटना स्थल पर मिले चाकू को भी धुल दिया गया। ताकि कातिल के हाथ के निशान उस पर नहीं रहे। वहीं एक अध्यापिका ने मामले को पहले ब्लू व्हेल से जोड़ गुमराह करने का प्रयास किया। इसके पूर्व रविवार को प्रद्युम्न हत्याकांड की सीबीआइ से जांच कराने की मांग करने वालों पर लाठियां बरसाईं। इस बल प्रयोग में 29 लोग जख्मी हुए हैं। मधेपुरा के सांसद पप्पू यादव को पुलिस ने लाठियां तो मारी ही, लात चलाने से भी पीछे नहीं रहे। 29 घायल लोगों में नौ मीडियाकर्मी भी हैं। मीडिया वालों के कई कैमरे भी तोड़ डाले गए। उधर, प्रदेश के शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा ने सीबीआइ जांच की मांग को खारिज नहीं किया किंतु यह जरूर कहा कि वह चाहेंगे कि इस पूरे मामले में 7 दिनों में चार्जशीट दाखिल कर दी जाए और पूरे मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में हो। उन्होंने जोर देकर कहा कि प्रद्युम्न की हत्या में स्कूल प्रबंधन भी दोषी है और किसी को बख्शा नहीं जाएगा। इस बीच प्रद्युम्न के घर पर रविवार को पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा और पूर्व मंत्री अजय सिंह यादव भी गए और परिजनों को ढाढस बंधाया। हुड्डा ने कहा कि सूबे का सिस्टम फेल हो चुका है। अब राष्ट्रपति शासन लगाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। पूर्व मंत्री अजय सिंह यादव ने कहा कि इस हत्याकांड की सीबीआइ से जांच होनी ही चाहिए। रविवार को सुबह ही सैकड़ों लोग रेयान स्कूल के सामने सीबीआइ जांच की मांग को लेकर जुट गए थे। अचानक लोग हिसक हो उठे।

गुस्साए लोगों ने स्कूल से 30 कदम की दूरी पर स्थित शराब के ठेके को आग के हवाले कर दिया। पहले से तैनात पुलिस के जवानों ने उन्हें रोकने के लिए बल प्रयोग किया। बल प्रयोग में मधेपुरा के सांसद पप्पू यादव चोटिल हो गए। कई अभिभावक भी जख्मी हुए। बल प्रयोग में नौ मीडियाकर्मी भी घायल हुए। तीन मीडियाकर्मियों के हाथ टूट गए। सभी को अस्पताल लाया गया। दो मीडियाकर्मी अभी जिला अस्पताल में इलाज करा रहे हैं जबकि एक को घर भेज दिया गया।

 

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar