न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

फतेहाबाद में कृषि आधारित उद्योग स्थापित होगा: खट्टर

चंडीगढ़/ सिरसा। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने आज फतेहाबाद में कृषि आधारित उद्योग स्थापित करने की घोषणा की है।
श्री खट्टर ने फतेहाबाद के रंगोली रिसोर्ट में जिला पंचनंद ट्रस्ट द्वारा आयोजित अभिनंदन समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि हरियाणा स्टेट इंडस्ट्रीयल एंड इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलेपमेंट कोर्पोरेशन (एचएसआईआईडीसी) कृषि आधारित उद्योग स्थापित करने के लिए फतेहाबाद में जमीन खरीदेगी। इंडस्ट्रीयल अब विकसित होने के बाद पूंजी निवेश बढ़ेगा, वहीं यहां के युवाओं के रोजगार उपलब्ध होंगे। इसके अलावा उन्होंने धांगड़ गांव में स्थापित बहुतकनीकी संस्थान को इंजीनियरिंग कॉलेज बनाने की भी घोषणा की।
उन्होंने कहा कि प्रदेश का बजट एक लाख करोड़ रुपये से भी अधिक है। पूरे प्रदेश में समान रूप से ‘सबका साथ-सबका विकास’ और ‘हरियाणा एक-हरियाणवी एक’ की भावना पर विकास कार्य करवाए जा रहे हैं। सड़के, धर्मशालाएं और दूसरे प्रकार के आधारभूत ढांचे का विकसित करना ही विकास नहीं है। मनुष्य निर्माण और समाज निर्माण उससे भी जरूरी है।
श्री खट्टर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर प्रदेश सरकार ने लिंगानुपात में सुधार करने का बीड़ा उठाया और ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ अभियान को आगे बढ़ाते हुए लिंगानुपात को 835 से बढ़ाकर 937 के लक्ष्य को प्राप्त किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें महापुरूषों के दिखाए मार्ग पर चलकर अपना चरित्र निर्माण करना होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने सभी महापुरूषों की जयंतियों को राज्य में सरकारी स्तर पर मनाने का निर्णय लिया और गीता ग्रंथ को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लगातार तीसरी बार मनाया गया है। गीता के कुछ श्लोकों को भी पाठ्यक्रम में शामिल किया गया है।
श्रीमद्भगवद् गीता के कर्म सिद्धांत की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से गीता में वर्णन किया गया है कि कर्म करते रहे और फल की इच्छा न करें, उस भाव को हमें जीवन में उतरना है और समाज की सेवा करनी है। राजनीतिक क्षेत्र और नेताओं के प्रति लोगों की सोच कोई बहुत अच्छी नहीं रही है लेकिन श्री मोदी ने पीएम बनने के बाद इस चुनौती को स्वीकार करते हुए इस छवि को बदलने की कोशिश में जुटे हैं ।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar