National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

फरीदाबाद के बाल सुधार गृह में लाया गया प्रद्युम्न हत्याकांड का आरोपी छात्र

कड़ी सुरक्षा में लाया गया छात्र, 21 नवंबर तक रहेगा ऑब्जर्वेशन होम मेें

मनोज तोमर/विजय न्यूज ब्यूरो
फरीदाबाद। गुरुग्राम के बहुचर्चित प्रद्युम्र हत्याकांड में सीबीआई के रडार पर आए रेयान स्कूल के 11वीं कक्षा के छात्र को शनिवार सायं 7 बजकर 25 मिनट पर एनआईटी पांच स्थित ऑब्जर्वेशन होम लाया गया। सीबीआई अधिकारियों और पुलिस के सुरक्षा इंतजाम के बीच छात्र को आब्जर्वेशन होम प्रबंधन के सुपुर्द किया गया। भारी सुरक्षा के बीच पुलिस की दो गाडिय़ां बाल सुधार गृह के सामने पहुंची और आरोपी छात्र को बाल सुधार गृह के मुख्य गेट से अंदर ले गई। यह छात्र 21 सितंबर को होने वाली अदालती सुनवाई तक यहीं रहेगा, फिलहाल इस बाल सुधार गृह में 70 जुविनाइल आरोपी रह रहे है। मालूम हो कि रेयान इंटरनेशनल स्कूल गुरुग्राम के शौचालय क्षेत्र में 22 सितंबर की सुबह कक्षा दो के छात्र प्रद्युम्र की चाकू से गला काट कर हत्या कर दी गई थी। गुरुग्र्राम पुलिस ने इस मामले में स्कूल बस के कंडक्टर को गिरफ्तार किया था। परिजनों ने हत्याकांड का सही खुलासा नहीं किए जाने का आरोप लगाते हुए मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग की थी। मामले की जांच में जुटी सीबीआई ने 8 नवंबर को स्कूल के ही 11वीं कक्षा के छात्र को प्रद्युम्र की हत्या करने के आरोप में हिरासत में लिया था। छात्र ने पीटीएम और परीक्षाओं से बचने के लिए स्कूल बंद करवाने की नीयत से प्रद्युम्र की हत्या करने की बात सीबीआई को बताई थी। उसे तीन दिन की रिमांड पर लिया गया था। शनिवार को रिमांड की अवधि समाप्त होने पर सीबीआई टीम ने गुरुग्राम की अदालत में पेश किया। बाल सुधार गृह के अधीक्षक दिनेश यादव के अनुसार न्यायाधीश ने उसे 21 नवंबर तक ऑब्जर्वेशन होम में रखे जाने के आदेश जारी किए। देर शाम छात्र को ऑब्जर्वेशन होम लाया गया। होम सूत्रों के मुताबिक छात्र को फिलहाल कुछ दिन तक अन्य किशोरों से अलग रखा जाएगा। तीन चार दिन के बाद छात्र के सामान्य होने के बाद अन्य किशोरों के साथ उसे भी रखा जाएगा। इस दौरान उसके पढऩे-लिखने की व्यवस्था भी की जाएगी।

सीबीआई ने नकारे आरोप:
सीबीआई ने रिमांड के दौरान के 11वीं के छात्र का उत्पीड़न करने के आरोपों को गलत बताया है। जांच एजेंसी यह बयान हत्यारोपी पिता के उस बयान के बाद आया है। जिसमें उन्होंने सीबीआई द्वारा बेटे को टार्चर करने के आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था कि सीबीआई ने छात्र को उलटा टांग पीटा। पिता ने ये आरोप बेटे से मुलाकात करने के बाद लगाए। पिता ने शनिवार को कोर्ट की अनुमति के बाद बेटे से 10 मिनट तक मुलाकात की। पिता ने कहा कि सीबीआई ने बेटे के कपड़े, जूते, मोबाइल और लैपटॉप को आदि को कब्जे में लिया है।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar