National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

फर्जी मतदाता सूची मामला : सर्वोच्च न्यायालय से कांग्रेस को झटका

कमलनाथ और सचिन पायलट की याचिकाएं खारिज
नई दिल्ली। सर्वोच्च न्यायालय की ओर से राजस्थान और मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। शुक्रवार को दोनों राज्यों में कांग्रेस ने जो वोटिंग लिस्ट में फर्जी मतदाताओं के नाम की याचिका लगाई थी सर्वोच्च न्यायालय ने उसे खारिज कर दिया हैं। याचिका कमलनाथ और सचिन पायलट की ओर से लगाई गई थी।
मध्यप्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ ने याचिका में वोटर लिस्ट की समीक्षा और लिस्ट टेक्सट फॉर्मेट में देने की मांग की थी। वहीं राजस्थान कांग्रेस के अध्यक्ष सचिन पालयट ने भी अपनी याचिका में वोटर लिस्ट की समीक्षा की मांग की थी। दोनों नेताओं ने विधानसभा चुनाव में 10 फसीदी वीवी पेड पर्ची के ईवीएम से मिलान की भी मांग की थी। कमलनाथ का कहना है कि टेक्स्ट रूप में मतदाता सूची उपलब्ध होने से फर्जी मतदाताओं की पहचान की जा सकती है। कांग्रेस नेता ने कहा कि वह राज्य की मतदाता सूची में करीब 60 लाख फर्जी मतदाताओं की पहचान कर चुके हैं। सुप्रीम कोर्ट ने दोनों राज्यों में इसी साल होने वाली चुनाव की तारीख नजदीक आने का हवाला देते हुए वोटर लिस्ट की जांच की मांग वाली याचिका खारिज कर दी। गौरतलब है कि मध्यप्रदेश में 28 नवंबर को तथा राजस्थान में 7 दिसंबर को वोट डाले जाना हैं।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar