National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

फिल्‍म समीक्षा : सीक्रेट सुपरस्टार

  • फिल्म का नाम : सीक्रेट सुपरस्टार
  • डायरेक्टर: अद्वैत चंदन
  • स्टार कास्ट: आमिर खान, जायरा वसीम, मेहर विज, राज अर्जुन
  • अवधि: 2 घंटा 30 मिनट
  • सर्टिफिकेट: U /A
  • रेटिंग: 4 स्टार

आमिर खान की कोई भी फिल्म हो उनका नाम भर शामिल हो जाने से दर्शकों की उम्मीद दोगुनी हो जाती हैं. इस बार एक लंबे वक्त के बाद दिवाली पर उनकी कोई फिल्म रिलीज हो रही है. ऐसे में दर्शकों को इंटरटेनमेंट के डोज का बेसब्री से इंतजार था. आमिर की सीक्रेट सुपरस्टार इस शुक्रवार रिलीज हुई. इसमें आमिर बिलकुल अलग अंदाज में नजर आएंगे. फिल्म को डायरेक्ट किया है, सालों से उन्हीं के साथ काम कर रहे अद्वैत चंदन ने. ये उनके डायरेक्शन में बनने वाली पहली हिंदी फिल्म है. फिल्म की स्टार कास्ट और ट्रेलर अब तक दर्शकों का दिल जीत ही चुके हैं. देखना मजेदार होगा कि ये दर्शकों पर कितना प्रभाव बनाने में कामयाब होगी.

कहानी:
कहानी गुजरात के बड़ोदरा की रहने वाली लड़की इंसिया (जायरा वसीम) की है. वह एक सिंगर बनना चाहती है. इंसिया के सपने पूरा करने में सबसे बड़ी बाधा उसके पापा फारुख (राज अर्जुन) हैं. वो अपने पिता के डर से कभी अपने सपने के बारे में बात नहीं कर पाती, लेकिन इंसिया की मां नजमा (मेहर विज) अपनी बेटी के सपने को पूरा करवाना चाहती है. पर वो भी अपने पति से डरती है. फारुख पूरे घर में अपनी मर्जी चलाता है. उसकी कोशिश है कि वो पूरे परिवार के साथ सऊदी अरब शिफ्ट हो जाए. इंसिया अपने सपने पूरा करने के लिए मुंबई जाना चाहती है. इसी बीच उसकी मुलाकात स्ट्रगलिंग म्यूजिक डायरेक्टर शक्ति कुमार (आमिर खान) से होती है. शक्ति की एंट्री के बाद कहानी में बहुत सारे मोड़ आते हैं. अब क्या इंसिया को अपना सपना पूरा करने का मौका मिलता है या पूरी फैमिली के साथ सऊदी अरब जाना पड़ता है, यही फिल्म का खास हिस्सा है.

क्यों देखें ये फिल्म:
जैसा कि आमिर की हर फिल्म के पीछे कोई न कोई संदेश छिपा होता है, वैसे ही इस फिल्म में घरेलू हिंसा और यौन उत्पीड़न की समस्या को दिखाया गया है. वैसे कहानी काफी सामान्य है, लेकिन उसे खास अंदाज में दिखाया गया है. फिल्म के कई किरदार रोजमर्रा की जिंदगी से जुड़ते दिखते हैं. सिनेमेटोग्राफी, लोकेशन, स्क्रिप्ट डायलॉग्स और स्क्रीनप्ले कमाल का है. दंगल के बाद जायरा वसीम ने एक बार फिर से बहुत ही उम्दा काम किया है. जायरा की मां के रोल में अभिनेत्री मेहर विज ने भी अपनी अदाकारी से आकर्षित किया है. जायरा के पिता के रोल में राज अर्जुन की भूमिका भी सराहनीय है. उन्होंने अपने किरदार को भरपूर निभाया है. वहीं जायरा के दोस्त के रोल में तीर्थ ने अच्छा काम किया है. फिल्म हंसाती भी है, इमोशनल भी करती है और एक अहम मैसेज भी देती है कि सपनों पर पाबंदी नहीं लगानी चाहिए. अद्वैत चंदन ने पहली ही फिल्म में कमाल का डायरेक्शन किया है.

कमज़ोर कड़ियां:
फिल्म की कमजोरी इसकी लेंथ है, जिसे छोटा किया जा सकता था. फिल्म अभी ढाई घंटे की है, अगर कुछ गानों को और कुछ दृश्यों को छोटा किया जाता ये और भी ज्यादा क्रिस्प हो जाती.

बॉक्स ऑफिस:
प्रमोशन और प्रोडक्शन के साथ फिल्म का बजट लगभग 50 करोड़ है. इसे 2000 से ज्यादा स्क्रीन्स पर रिलीज किया जाएगा. आमिर खान की मौजूदगी इस फिल्म को ओपनिंग जरूर दिलाएगी मगर आगे का सफर फिल्म की बाकी चीजों पर ही निर्भर करेगा. बॉक्स ऑफिस पर इस फिल्म के साथ गोलमाल अगेन भी रिलीज होनी है, वीकेंड के बाद दोनों फिल्म में से वही आगे जायेगी, जिसका वर्ड ऑफ माउथ तगड़ा होगा.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar