National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

बढ़ने लगे बुखार, खांसी और सांस के मरीज

फरीदाबाद l सर्द मौसम में बुखार, सर्दी, खांसी और सांस के मरीज बढ़ने लगे हैं। सरकारी तथा निजी अस्पतालों में पिछले दो-तीन दिनों से आने वाले मरीजों में बड़ी संख्या में बच्चे तथा बुजुर्ग हैं। सर्द मौसम में सूर्य की किरणें न मिलने से शरीर को पर्याप्त ऊर्जा नहीं मिल पाती है। स्वास्थ्य विशेषज्ञ कहते हैं कि ऐसे मौसम में सूर्य निकलने के बाद ही बुजुर्ग घर से बाहर निकलें।

सरकारी अस्पताल के रिकार्ड की बात करें तो सोमवार को बादशाह खान अस्पताल की ओपीडी में दो हजार से ज्यादा मरीज इलाज को आए। इनमें से 200 से अधिक मरीज खांसी, बुखार तथा सांस संबंधी हैं।

  •  इस मौसम में बुजुर्ग सूर्य निकलने से पहले सैर न करें।
  • सूर्य की किरणें न मिलने से रक्त संचार प्रभावित होता है, ऐसे में लापरवाही भारी पड़ सकती है।
  • कई बार प्रदूषित वातावरण में सांस की नली सिकुड़ जाती है। जिन लोगों में प्रतिरोधक क्षमता कम होती है, उन्हें ज्यादा दिक्कत रहती है।
  • घर में अगर पेड़-पौधे हैं तो बेहतर रहेगा। पर्याप्त ऑक्सीजन मिलती रहेगी।
  • अगर घर में कच्ची जमीन नहीं है तो जिस कमरे में आप रहते हैं, उस कमरे में गमले जरूर होने चाहिए।
  • सर्द में बच्चों को खांसी एवं गले में खराश की समस्या भी होती है। ऐसे में अपनी मर्जी से दवा न लें।
  • जो लोग सांस की बीमारी से पीड़ित हैं, वे अपने सांस रोग विशेषज्ञ की सलाह से समय पर दवा लेते रहें।
  • डॉ.जीएस छाबड़ा, सांस रोग विशेषज्ञ, क्यूआरजी हेल्थ सिटी।
    इन दिनों सांस रोगियों की संख्या बढ़ जाती है। ऐसे में लोग स्वयं एहतियात बरत कर काफी बचाव कर सकते हैं। हमने सभी अस्पतालों, डिस्पेंसरियों और स्वास्थ्य केंद्रों में पर्याप्त दवा की व्यवस्था की हुई है। सभी प्रभारियों को निर्देश दिए गए हैं कि कहीं भी दवाओं की कमी नहीं आनी चाहिए।
  • डॉ.बीर ¨सह सहरावत, मुख्य चिकित्सा अधिकारी।
Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar