न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

बिजली विभाग ने दिव्यांग को भेजा 65 हजार का बिल

घर में एक बल्ब व एक पंखा

फरीदाबाद। जगमग हरियाणा का नारा देने वाली सरकार के बिजली विभाग के अफसरों ने एक दिव्यांग (नेत्रहीन)व्यक्ति के जीवन में और अधिक अंधेरा ला दिया है। फरीदाबाद के सेक्टर-22 में रहने वाले दिव्यांग मुन्ना प्रसाद को बिजली विभाग द्वारा एक साल का 65688 रुपए का मिल भेजा है  और उसके बिल को ठीक करने की बजाय घर का मीटर काटकर ले गए। दिव्यांग और उसका परिवार अब अंधेरे में वक्त गुजार रहा है।  मुन्ना प्रसाद नेत्रहीन व्यक्ति है और वह अपने परिवार का गुजारा उसके मिलने वाले पेंशन से होता है। उसके घर में सिर्फ  एक पंखा और एक बल्ब है। जिसका बिजली विभाग ने पिछले एक साल का बिल 65688 रुपये भेज दिया है। सेक्टर-22 की झुग्गियों में मुन्ना प्रसाद अपनी पत्नी और एक छह साल की बेटी के साथ रहता है। उसके घर में गर्मियों के दिन में एक पंखा और एक बल्ब जलता है। उसके घर में ना तो कोई टी.वी. है और ना ही कुछ और बिजली का बड़ा सामान है, फिर भी उसके घर का बिजली का बिल 65688 रुपए भेज दिया गया है। मुन्ना प्रसाद को पता भी नहीं है कि इतना बिजली का बिल कैसे आ गया।  नेत्रहीन व्यक्ति मुन्ना प्रसाद ने पोर्टल टीम को बताया कि उनके घर का बिजली का बिल 500 महीना आता था लेकिन इस बार 65 हजार बिल आया है। पीडि़त मुन्ना प्रशाद अपनी पेंशन और उसकी पत्नी दूसरों के घर का काम करके अपने घर का खर्चा चलाती हैं। उसने बिल ठीक कराने के लिए इसकी शिकायत बिजली विभाग के जेई, एसडीओ, एक्सईएन सभी से की, लेकिन इस पर कोई सुनने को राजी नहीं है। उल्टा उससे यह बोल दिया जाता है कि तुमने बिजली जलाई है तो बिल भरना ही पड़ेगा। अब बिजली विभाग के कर्मचारी बिना बताए उसके घर का मीटर भी काट कर ले गए और इसकी सूचना भी नहीं दी। पिछले वह 15  दिनों से ऐसे ही अंधेरे में अपने परिवार के साथ रह रहा है और ऐसे ही अंधेरे में अपना गुजारा कर रहा है। इस मामले में विभाग के अधिकारी मीडिय़ा को कुछ भी बताने के लिए तैयार नहीं हैं।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar