National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

बिहार शिक्षा बोर्ड : 10वीं और 12वीं परीक्षा के पैटर्न में बदलाव, अब 50 फीसदी सवाल होंगे ऑब्जेक्टिव

पटना: बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने मैट्रिक (10वीं) और इंटरमीडिएट (12वीं) की वार्षिक परीक्षा के प्रश्नपत्रों के पैटर्न में बदलाव करने का फैसला लिया है. साल 2018 में होने वाली वार्षिक परीक्षा से इसे लागू कर दिया जाएगा. इस बदलाव के तहत 10वीं और 12वीं के परीक्षा में सभी विषयों में 50 फीसदी प्रश्न वस्तुनिष्ठ (ऑबजेक्टिव) प्रश्न पूछे जाएंगे. बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने सोमवार को इसकी जानकारी देते हुए कहा कि इन प्रश्नों के उत्तर अब परीक्षार्थियों को ओएमआर पर देना होगा. आनंद किशोर ने बताया कि नए प्रश्नों के पैटर्न के तहत 100 अंकों वाले विषयों में 50 प्रश्न एक अंक के होंगे. इसके उत्तर के लिए चार विकल्प होंगे. उत्तर ओएमआर पर भरना होगा. इसके अलावा दो-दो अंकों के लघु उत्तरीय और पांच-पांच अंकों के दीर्घ उत्तरीय प्रश्न पूछे जाएंगे. कुछ विषयों में पांच अंक से ज्यादा के भी प्रश्न पूछे जा सकते हैं. उन्होंने बताया, “प्रत्येक विषय में ‘अथवा’ वाले प्रश्नों की संख्या बढ़ा दी गई है. लघु उत्तरीय प्रश्न में 50 प्रतिशत प्रश्नों में ‘अथवा’ वाले प्रश्न होंगे, जबकि दीर्घ उत्तरीय प्रश्न में 100 प्रतिशत ‘अथवा’ वाले प्रश्न होंगे. यानी, लघु उत्तरीय में अगर 15 प्रश्न होंगे, तो उसमें से 10 प्रश्न का उत्तर देना होगा.” 

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष ने बताया कि समिति नवंबर महीने में 10 सेट का मॉडल प्रश्नपत्र (नए पैटर्न) जारी करने जा रहा है. 10 सेट के मॉडल प्रश्नपत्र को समिति की वेबसाइट पर जारी किया जाएगा.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar