National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

बैडमिंटन खिलाड़ी ज्वाला गुट्टा ने अपना नाम वोटर लिस्ट से गायब होने पर जताई नाराजगी

हैदराबाद l तेलंगाना विधानसभा चुनाव के लिए शुक्रवार (7 दिसंबर) को कड़ी सुरक्षा एवं व्यवस्था के बीच मतदान जारी है. मतदान की प्रक्रिया सुबह सात बजे शुरू हुई. राज्य की 119 विधानसभा सीटों पर चुनाव हो रहा है. अधिकारियों का कहना है कि राज्य के 31 जिलों में 32,815 मतदान केंद्रों पर मतदान प्रक्रिया शुरू हुई. इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) में तकनीकी गड़बड़ी की वजह से कुछ मतदान केंद्रों पर मतदान देर से शुरू हुआ. राज्य में 2.8 करोड़ से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे, जिनमें से लगभग आधी महिलाएं हैं. इस बीच बैडमिंटन स्टार ज्वाला गुट्टा ने वोटर लिस्ट से अपना नाम गायब होने पर नाराजगी जाहिर की है.
ज्वाला गुट्टा ने सबसे पहले लोगों से वोट डालने की अपील करते हुए एक ट्वीट किया. इसके बाद खुद ज्वाला गुट्टा वोट डालने मतदान केंद्र पहुंची थी. लेकिन वहां उन्हें अपना नाम वोटर लिस्ट में नहीं मिला. वोटर लिस्ट से नाम गायब होने पर ज्वाला काफी नाराज हो गईं. ज्वाला गुट्टा हैदराबाद से हैं और वोटर लिस्ट में नाम ना होने की वजह से अपना वोट नहीं डाल पा रही हैं.
ज्वाला गुट्टा ने टि्वटर पर इस बात का खुलासा करते हुए अपनी नाराजी जाहिर की है. उन्होंने दो ट्वीट किए. पहले ट्वीट में उन्होंने लिखा- ऑनलाइन अपना नाम देखने के बाद यहां वोटर लिस्ट से मेरा नाम गायब है. मैं हैरान हूं. इसके बाद उन्होंने एक और ट्वीट करते हुए लिखा- यह चुनाव कैसे सही हो सकता है. जब आपका नाम वोटर लिस्ट से रहस्यमयी ढंग से गायब हो रहा है.
बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु और पूर्व बैडमिंटन खिलाड़ी और कोच पुलेला गोपीचंद ने तेलंगना में वोट डाल दिया है. बता दें कि तेलंगाना विधानसभा चुनाव के लिए प्रतिद्वंद्वी पार्टियों के धुआंधार चुनाव प्रचार के बाद कुल 119 सीटों पर वोटिंग हो रही है. राज्य में सत्तारूढ़ टीआरएस, कांग्रेस नीत गठबंधन और भाजपा में त्रिकोणीय मुकाबला होने की संभावना है.
इस दौरान मतदाता मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव और उनके कैबिनेट के 14 सहयोगियों सहित 1,821 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे. तेलंगाना के मुख्य निर्वाचन अधिकारी रजत कुमार सिंह ने कहा कि मतदान की प्रक्रिया शाम पांच बजे तक जारी रहेगी. पहली बार राज्य में वोटर वेरिफाएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपैट) लगाए गए हैं. प्रशासन ने 42.751 वीवीपैट का इंतजाम किाय है, जो ईवीएम से जुड़ी हुई हैं.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar