National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

भाजपा सरकार में अपने आपको उपेक्षित महसूस कर रहा है ओबीसी समाज : राकेश भड़ाना

कांग्रेस के ओबीसी चेयरमैन का गांव सिहा में हुआ जोरदार स्वागत

फरीदाबाद। कांग्रेस ओबीसी सैल के प्रदेश चेयरमैन राकेश भड़ाना ने भाजपा सरकार पर ओबीसी समाज की अनदेखी का आरोप लगाते हुए कहा कि आज ओबीसी समाज के लोग आर्थिक रुप से पिछड़पने का शिकार हो रहे है और समाज के युवा बेरोजगारी की मार झेल रहे है परंतु तीन वर्षाे के दौरान सरकार ने इस समाज की कोई सुध नहीं ली, जिसके चलते यह समाज आज अपने आपको उपेक्षित महसूस कर रहा है, जबकि कांग्रेस शासनकाल में पिछड़े, गरीब व आर्थिक रुप से कमजोर लोगों को स्वाबलम्बी बनाने के लिए केंद्र व प्रदेश सरकार ने भरसक प्रयास किए थे। श्री भड़ाना आज पलवल के गांव सिहा में ग्रामीणों द्वारा आयोजित विशाल स्वागत समारोह को संबोधित कर रहे थे। इससे पूर्व गांव सिहा की मौजिज सरदारी की ओर से राकेश भड़ाना को सम्मानरुपी पगड़ी पहनाकर उनका स्वागत किया। ग्रामीणों के मिले स्नेह रुपी प्यार से गद्गद् राकेश भड़ाना ने कहा कि चुनावों के समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने आपको ओबीसी समुदाय का सबसे बड़ा हितैषी बताते थे परंतु तीन वर्षाे के दौरान उन्होंने ओबीसी समाज के लिए कुछ नहीं किया। यह समाज पिछले तीन वर्षाे से अपने विकास की बाट जोह रहा है परंतु भाजपा सरकार के वायदे केवल वायदे ही साबित हुए है। श्री भड़ाना ने प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर पर हमला बोलते हुए कहा कि उनकी सरकार घुमंतु जाति व अन्य पिछड़ी जातियों के लिए केवल कागजों में विकास के कार्यक्रम आयोजित कर रही है, जबकि जमीनी स्तर पर सच्चाई यह है कि आज ओबीसी समाज निरंतर पिछड़ता जा रहा है, उसे विकसित करने की बजाए सरकार उसकी अनदेखी करने में लगी हुई है। श्री भड़ाना ने सरकार को चेताते हुए कहा कि ओबीसी समाज की अनदेखी किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी और कांग्रेस ओबीसी सैल सरकार के इस सौतेले व्यवहार के खिलाफ सडक़ों पर उतरकर धरना प्रदर्शन करने से भी गुरेज नहीं करेगा। उन्होंने समारोह में उपस्थित लोगों से आह्वान किया कि जल्द ही प्रदेश स्तर पर भाजपा सरकार के खिलाफ जनांदोलन चलाकर समाज के लोगों को एकजुट करने का काम किया जाएगा ताकि आने वाले चुनावों में जनविरोधी भाजपा सरकार को सबक सिखाया जा सके। इस मौके पर निंदा पायला, शीशपाल मवई, देवेंद्र, मास्टर श्रद्धाराम, शादीराम, मलखान सिंह, अंगदराम, भागीरथ, कंवर सिंह सहित अनेकों गणमान्य लोग मौजूद थे।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar