National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

मथुरा के संत युवराज ने महिला से किया रेप, पीड़िता ने फरीदाबाद में एसीपी ऑफिस में खाया जहर

संत युवराज पर यौन शोषण व जमीन हड़पने का आरोप लगाकर एसीपी मुजेसर कार्यालय के बाहर जहर निगलने वाली महिला बीके अस्पताल में उपचाराधीन।

यौन शोषण के मामले में एक और बाबा का नाम सामने आया है. जिस पर एक महिला ने उसके संग बलात्कार करने का आरोप लगाया है. साथ ही आरोपी बाबा पर महिला की संपत्ति हड़पने का भी इल्जाम है. जब पीड़िता को इस मामले में न्याय नहीं मिला तो उसने दुखी होकर फरीदाबाद में एसीपी ऑफिस के बाहर जहर खा लिया.

फरीदाबाद के मुजेसर में एसीपी ऑफिस परिसर में उस वक्त हड़कंप मच गया, जब एक महिला ने पुलिस की कार्रवाई से असंतुष्ट होकर वहीं जहर का लिया. आनन-फानन में महिला को अस्पताल में ले जाया गया, जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है. दरअसल महिला के साथ मथुरा के एक बाबा ने बलात्कार किया था. लेकिन पुलिस ने महिला की सुनवाई नहीं की.

इसी बात से खफा होकर पीड़िता ने एसीपी के ऑफिस में ही जहर खा लिया. इस घटना के फौरन बाद पुलिस हरकत में आ गई और आरोपी बाबा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया. पीड़िता महिला फरीदाबाद की ही रहने वाली है. मथुरा के एक फर्जी बाबा ने उसे अपनी हवस का शिकार तो बनाया ही, साथ ही उसकी संपत्ति भी हड़प ली.

महिला की मानें तो उसके पड़ोस में रहने वाली एक महिला ने तीन साल पहले उसे मथुरा के एक कथावाचक संत युवराज से मिलवाया था. महिला का आरोप है कि इसी दौरान संत युवराज ने उसे न केवल अपनी हवस का शिकार बनाया बल्कि फरीदाबाद और वृन्दावन में उसकी जमीन भी बिकवा दी और उसे पैसे भी नहीं दिए.

पुलिस ने इस संबंध में अब मामला दर्ज कर लिया है

बुधवार को आरोपी बाबा युवराज फरीदाबाद आया तो महिला उसके पास पहुंच गई और अपने पैसे मांगे. लेकिन बाबा ने उसे पैसे देने से साफ इंकार कर दिया. इस पर महिला फरीदाबाद के मुजेसर थाने की संजय कॉलोनी पुलिस चौकी में शिकायत लेकर पहुंची. पर वहां उसकी कोई सुनवाई नहीं हुई.

परेशान महिला गुरुवार की दोपहर करीब 1 बजे अपनी शिकायत लेकर एसीपी मुजेसर के दफ्तर में पहुंची. वहां भी पुलिसवालों ने महिला की बात नहीं सुनी. इसी बात से दुखी होकर पीड़ित महिला ने वहीं जहरीला पदार्थ खा लिया. जैसे ही वह जमीन पर गिरी तो दफ्तर में मौजूद पुलिसकर्मियों के होश फाख्ता हो गए.

महिला को फौरन अस्पताल में भर्ती कराया गया. अब पुलिस अपने ऊपर लगे आरोपों से इंकार कर रही है. पुलिस के मुताबिक़ महिला की शिकायत पर आरोपी बाबा संत युवराज के खिलाफ आईपीसी की धारा 354A, 128, 377, 420, 342, और 34 के तहत मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस उसे जल्द ही गिरफ्तार करने की बात कह रही है.

उधर, बीके अस्पताल के आरएमओ डॉ. विकास शर्मा की मानें तो महिला की हालत अब सामान्य है, लेकिन कई बार बाद में तबीयत खराब हो जाती है. इसलिए महिला को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में रैफर किया जाएगा.

फरीदाबाद। डेरा प्रमुख संत राम रहीम गुरमीत पर साध्वी यौन शोषण का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ कि फरीदाबाद में एक बार फिर एक संत पर एक महिला ने यौन शोषण सहित जमीन हड़पने के गंभीर आरोप लगाए है। मथुरा छाता निवासी कथावाचक संत युवराज पर तीन साल पहले यौन शोषण करने, प्लॉट व जमीन हड़पने के गंभीर आरोप लगाते हुए संजय कॉलोनी निवासी एक 35 वर्षीय महिला ने बृहस्पतिवार को एसीपी मुजेसर कार्यालय में जहरीला पदार्थ निगलकर जान देने की कोशिश की। महिला को इलाज के लिए बादशाह खान जिला नागरिक अस्पताल में भर्ती कराया गया है, उसकी हालत खतरे से बाहर है। पुलिस ने कथावाचक सहित एक महिला के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पीडि़त महिला अविवाहित है। एसीपी मुजेसर कार्यालय में मौजूद पुलिसकर्मियों के अनुसार महिला दोपहर करीब 3 बजे एक शिकायत लेकर आई थी। उस समय एसीपी राधेश्याम मौजूद नहीं थे, वे किसी कार्यक्रम में सम्मिलित होने गए थे। महिला ने ऑपरेटर को शिकायत दी और कार्यालय से बाहर आ गई। बाहर आकर उसने साथ लाई हुई एक पुडिय़ा खोली और निगल ली। पुडिय़ा निगलने के बाद महिला को उल्टियां शुरू हो गईं। पुलिसकर्मियों द्वारा पूछे जाने पर उसने जहर निगलने की बात कही। इससे पुलिसकर्मियों ने तुरंत महिला को कार में बिठाया और सरकारी अस्पताल लेकर पहुंचे। पीडि़त महिला ने बताया कि संजय कॉलोनी निवासी एक महिला कथावाचक के संपर्क में है। वह भी उसी महिला के कारण ही कथावाचक के संपर्क में आई थी। करीब तीन साल पहले कथावाचक ने आस्था का फायदा उठाकर महिला का यौन शोषण किया था। इसके बाद संत ने उससे प्लॉट व जमीन हड़प ली। महिला ने कई बार कथावाचक से प्लॉट व जमीन की पेमेंट देने को कहा था लेकिन हर बार वह उसे डरा धमकाकर भगा देता था। बुधवार रात कथावाचक संजय कॉलोनी में आया हुआ था। महिला उसके पास प्लॉट व जमीन की पेमेंट मांगने गई। वहां कथावाचक से जुड़ी महिला और उसके बेटों ने महिला के साथ न केवल मारपीट की बल्कि उसके खिलाफ पुलिस में शिकायत कर दी। महिला का कहना है कि पुलिसकर्मी उससे पूछताछ के लिए घर गए थे। इस कारण वह परेशान हो गई। बृहस्पतिवार सुबह वह एसीपी कार्यालय पहुंची और शिकायत देकर जहर निगल लिया। डीसीपी एनआईटी आस्था मोदी के अनुसार महिला की शिकायत पर कथावाचक संत युवराज व उसकी महिला साथी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जाएगी।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar