National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

मध्य प्रदेश में हजयात्रा पर सब्सिडी खत्म, खुद के खर्च पर भी एक बार जा पाएंगे

श्योपुर। हज यात्रा के लिए अब ज्यादा खर्च करना पड़ेगा, क्योंकि भारत सरकार ने हज यात्रियों की सब्सिडी खत्म कर दी है। हज यात्रा के लिए एक यात्री को हवाई टिकट के किराए में बतौर सब्सिडी के 50 प्रतिशत राशि की छूट मिलती थी। यह सब्सिडी अब नहीं मिलेगी। इतना ही नहीं खुद के खर्च पर भी एक व्यक्ति एक बार हज यात्रा कर सकता है। दूसरी बार उसे हज यात्रा करने की परमिशन नहीं दी जाएगी। गौरतलब है कि इस साल हज यात्रा के लिए आवेदन 15 नवंबर से 17 दिसंबर तक लिए जाएंगे। हज यात्रा से पहले हर साल हज कमेटी ऑफ इंडिया दिशा निर्देश जारी करती है। इस बार की हज यात्रा के लिए सोमवार को ही हज कमेटी ने दिशा निर्देश जारी किए हैं जिन्हें सुनकर, हज यात्रा की तमन्ना कर बैठे लोगों को झटका सा लगा है। हज कमेटी के 14बिंदुओं का दिशा-निर्देश जारी किया है जिसमें साफ कहा गया है कि, इस साल से हज यात्रियों को सरकार की ओर से कोई सब्सिडी नहीं मिलेगी।

हवाई जहाज के टिकट का खर्च भी हज यात्री को देना होगा। इतना ही नहीं एक व्यक्ति जीवन में एक बार ही हज यात्रा कर पाएगा। किसी भी सूरत में उसे दोबारा हज की परमिशन नहीं दी जाएगी। इसके अलावा चार-पांच साल से लगातार फार्म भरने वालों को पहले रिजर्व कडेगरी में रखकर वरीयता दी जाती थी,लेकिन इस साल से यह वरीयता सिस्टम खत्म कर दिया। पिछले सालों से जो वेटिंग में थे अब फिर से आवेदन करना होगा और उन्हें किसी भी तरह की वरीयता नहीं दी जाएगी।

तो भोपाल से बंद हो जाएगी हज की उड़ान

मप्र से हर साल औसतन 2 हजार लोग हजयात्रा पर जाते हैं। यह सभी यात्री भोपाल हवाई अड्डे से हज के लिए रवाना होते थे लेकिन, इस बार भोपाल से हज जाना बेहद खर्चीला होगा। क्योंकि, भोपाल से हजयात्रा जाने पर एक हजयात्री को हवाई टिकट के लिए 95 हजार 328 रुपए देना पड़ेगा, लेकिन यही यात्री यदि मुंबई एयरपोर्ट से हज के लिए उड़ान भरेगा तो टिकट की शुल्क 54 हजार 254 रुपए देनी होगी। यानी भोपाल से हज यात्रा करने पर 41 हजार 74 रुपए ज्यादा देने होंगे। ऐसे में भोपाल से हज यात्रा की उड़ान बंद होने की पूरी संभावनाएं हैं क्योंकि, 41 हजार की राशि बचाने के लिए यात्री मुंबई से ही सफर करना पसंद करेंगे। मप्र सरकार ने करोड़ों रुपए खर्च करके जो हज हाउस विकसित किया है वह भी अनुपयोगी हो जाएगा।

-हजयात्रा के लिए नए दिशा निर्देश मिले हैं जिनमें सेन्ट्रल हज कमेटी ने इस साल से सब्सिडी खत्म कर दी है और एक व्यक्ति को एक बार ही हज की पात्रता के भी आदेश दिए हैं। भोपाल से हज यात्रा महंगी पड़ेगी, इसलिए ज्यादातर लोग मुंबई से ही जाएंगे।

काजी जकाउल्ला कुरैशी, खादिमुल हुज्जाज, श्योपुर

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar