National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

मुंबई में मुसीबत की बारिश: कई इलाकों में भरा पानी, लोकल ठप, उड़ानों में भी आधे घंटे की देरी

नई दिल्लीः देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में आज भारी बारिश से लोगों का हाल बेहाल हो गया है. सुबह से हो रही भारी बरसात के चलते जगह-जगह जलभराव से कभी न रुकने वाली मुंबई की चाल धीमी पड़ गई है. मुंबई, नवी मुंबई और ठाणे क्षेत्र में भारी बारिश के कारण जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया. भारी बारिश के साथ-साथ आज शाम मुंबई में हाई टाईड का अलर्ट भी जारी किया गया था. मुंबई में तीनों रेलवे लाइनों सेंट्रल, हार्बर और वेस्टर्न पर लोकल ट्रेन भी रुक गई है.

जरूरत पड़ने पर ही घर से बाहर निकलें लोगः सीएम
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने भारी वर्षा से मुम्बई में उत्पन्न स्थिति की समीक्षा की. देवेंद्र फड़णवीस ने लोगों से अपील की है कि जरूरत पड़ने पर ही घरों से बाहर निकलें. जो ट्रैफिक एडवाइजरी जारी की गई हैं लोग उनका पालन करें. मुंबई पुलिस को कॉल करके या ट्वीट कर अपनी लोकेशन की जानकारी दे सकते हैं, पुलिस आपके बचाव के लिए जगह पर पहुंचेगी.

अगले 24 घंटे भारी बारिश की चेतावनी
मौसम विज्ञान केंद्र कोलाबा ने अगले 24 घंटों के लिए लगातार बारिश होने की उम्मीद जताई है. वेस्टर्न लाइन पर लोकल ट्रेनों की आवाजाही ठप हो गई है और और सड़कों पर पानी भरने के चलते कई जगह ट्रैफिक जाम की स्थिति है. बीएमसी ने बारिश में फंसे लोगों को 1916 नंबर डायल करने के लिए कहा है. अगर लोग इस पर मदद नहीं ले पा रहे हैं तो 100 नंबर डायल करके भी मदद ले सकते हैं. फिलहाल पूरे महाराष्ट्र में बारिश की चेतावनी जारी की गई है. महाराष्ट्र के साथ-साथ गुजरात, मध्यप्रदेश और कोंकण में भी भारी वर्षा हो रही है.

2005 जैसे नहीं है हालात: मौसम विभाग
मौसम विभाग (मुंबई रीजन) के डीडीजी के एस होसालिकर ने बताया कि सांताक्रूड वेदर स्टेशन ने सुबह 8.30 बजे से दोपहर 11.30 बजे तक 86 एमएम बारिश दर्ज की है जो कि भारी वर्षा का संकेतक है. वहीं मुंबई सिटी ने 3 घंटों में 15-16 एमएम की बारिश रिकॉर्ड की गई है. एक दिन में 65 एमएम से ज्यादा बारिश को हैवी रेन की कैटेगरी में गिना जाता है. हालांकि मौसम विभाग ने साफ कहा है कि इस बारिश की तुलना 2005 की बारिश से न करें, 2005 में एक ही दिन 94.5 एमएम बारिश हुई थी. वहीं 26 जुलाई 2005 को मुंबई की बारिश को लोग आज भी भूल नहीं पाए हैं जब पूरा शहर पानी भरने के चलते ठप्प हो गया था.

मुख्यमंत्री देवेंद्र फणडवीस ने लिया जायजा
मुंबई में बारिश से हालत खराब है और जहा-तहां लोग फंसे हुए हैं, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फणडवीस ने आज आपदा प्रबंधन नियंत्रण कक्ष जाकर स्थिति का जायजा लिया है. सीएम फणडवीस ने कहा है कि आपदा प्रबंधन सेल और मुंबई पुलिस को हॉटलाइन पर निर्देश देने के साथ कर्मचारियों को जल्दी घर जाने के लिए कहा गया है.

कहां-कहां भरा है पानी?
भारी बारिश के बाद हिंदमाता, परेल, किंग सर्कल, लाल बाग पश्चिम और उत्तर-पूर्वी उपनगर में कई जगहों पर पानी भर गया है. वहीं, वर्ली, जोगेश्वरी, अंधेरी के कई सबवे में भी पानी भर गया है. मुंबई के निचले इलाकों जैसे लोअर परेल, माटुंगा, हिंदमाता, दादर समेत कई जगहों से भारी वॉटर लॉगिंग की खबरें आ रही हैं.

फ्लाइट्स में देरी
मुंबई आने-जाने वाली सभी फ्लाइट्स भी देरी से चल रही हैं. एयर इंडिया के प्रवक्ता धनंजय कुमार ने इस बात की जानकारी दी है कि मुंबई आने-जाने वाली उड़ानों में 30 मिनट से ज्यादा की देरी देखी जा रही है

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar