National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

यहां पढ़ें- डेरा सच्चा सौदा हेडक्वार्टर में अब तक क्या-क्या मिला?

सिरसा (हरियाणा)। जेल में बंद दुष्कर्मी गुरमीत राम रहीम के सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा के झूठ-सच का खुलास करने के लिए शुक्रवार से गहन जांच शुरू हुई। सेना, पुलिस व अर्द्धसैनिक बलों के 5000 जवानों की निगरानी में प्रशासन के अफसरों व कर्मचारियों ने 800 एकड़ में फैले विशाल परिसर की जांच-पड़ताल की। प्रारंभिक जानकारी के मुताबिक डेरे में 5 कमरे सील किए गए हैं, उनमें से दो कमरे नए-पुराने नोटों से भरे बताए गए हैं। डेरे से भारी मात्रा में बिना ब्रांड की दवाएं, कंप्यूटर व मोबाइल व उनकी हार्ड डिस्क व अन्य सामान जब्त किया गया है। कई जगह जेसीबी से खुदाई करा कर डेरे में कंकाल दबे होने की सच्चाई का पता लगाया जा रहा है। सुबह से रात तक तलाशी सिरसा डेरे की तलाशी का काम शुक्रवार सुबह सवा 7 बजे से शुरू हुआ। ये रात 8 बजे तक जारी था। हाईकोर्ट द्वारा नियुक्त कोर्ट कमिश्नर रिटायर्ड जिला जज एकेएस पंवार पूरे ऑपरेशन की निगरानी कर रहे थे। ऑपरेशन की शुरुआत नए डेरे से हुई। बाद में पुराने डेरे में भी तलाशी हुई। इसके साथ ही पूरे क्षेत्र में गहमागहमी का माहौल था। पूरे क्षेत्र में कड़ी सुरक्षा के बीच घुड़सवार पुलिस चक्कर लगा रही थी। जांच रिपोर्ट हाईकोर्ट में सौंपी जाएगी।

संदिग्ध हालत में 5 बच्चे मिले दो नाबालिग

सर्च ऑपरेशन के दौरान संदिग्ध हालत में 5 लड़के भी मिले हैं। इनमें से दो नाबालिग बच्चों को बाल संरक्षण टीम को सौंप दिया गया व अन्य तीन को पुलिस ने अपनी कस्टडी में ले लिया है। उनसे पूछताछ कर उनके घर-परिवार के बारे में जानकारी जुटाने की कोशिश की जा रही है। कोर्ट कमिश्नर कर रहे निगरानी हरियाणा के जनसपंर्क विभाग के डिप्टी डायरेक्टर सतीश मेहरा ने बताया कि सुरक्षा के लिहाज से मौके पर बम स्क्वॉड को भी शामिल किया गया है। सुरक्षा के लिहाज से 41 पेरा मिलिट्री कंपनियों के अलावा 4 आर्मी कॉलम, 4 जिलों की पुलिस के अलावा 1 स्वाट और 1 डॉग स्क्वाड तैनात किया गया है। अभियान के लिए डेरे को कई सेक्टरों में बांटा गया है। प्रत्येक सेक्टर के लिए अलग-अलग डयूटी मजिस्ट्रेट व सर्च टीम की तैनाती की गई है। एक टीम में 60 सदस्य हैं। प्रत्येक टीम के साथ एक जनप्रतिनिधि व बैंक अधिकारी भी मौजूद रहेंगे। सर्च अभियान की पूरी वीडियोग्राफी होगी। इसके लिए 60 वीडियोग्राफर बुलाए गए हैं। सिरसा, करनाल, सोनीपत से फॉरेंसिक एक्सपर्ट की टीमें बुलाई गई हैं। इंटरनेट सेवा कल तक बंद डेरा मुख्यालय के आसपास कर्फ्यू लगाया गया है। किसी को बगैर इजाजत अंदर नहीं जाने दिया जा रहा है। मीडिया को भी शाह सतनाम चौक पर रोक दिया गया। यहां से डेरा 7 किमी दूर है। सिरसा में 10 सितंबर तक इंटनरेट सेवाओं पर रोक लगा दी गई है।

अब तक ये मिला
> नए-पुराने नोटों से भरे 2 कमरे (विस्तृत जांच बाकी)
>  7 हजार रुपए के पुराने नोट, 12 हजार नकद।
>  10 रुपए व ज्यादा मूल्य के सिक्के।
>  टीवी प्रसारण से जुड़ी ओबी वैन।
>  बिना नंबर की लेक्सस कार।
>  बिना लेबल/ब्रांड की दवाएं।
>  1500 रसोई गैस सिलेंडर

क्या-क्या है परिसर में
800 एकड़ में फैले सिरसा डेरा परिसर में शिक्षा संस्थान, बाजार, अस्पताल, स्टेडियम, आवासीय परिसर हैं। पूरे हरियाणा में इस डेरे के 130 आश्रम व नामचर्चा घर हैं।

22 लोहार खोलेंगे खजाने के ताले
दुष्कर्मी राम रहीम के खजाने के ताले खोलने के लिए 22 लोहारों की टीम लगाई गई है। डेरे में कई गुप्त कमरे होने की भी चर्चा है। खुदाई के लिए कई जेसीबी मशीनें और 200 ट्रैक्टर ट्रॉलियां मलबा उठाने के लिए लगाई गई हैं।

हरियाणा में अलर्ट
सर्च ऑपरेशन के दौरान कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए राज्य में मौजूद अर्धसैनिक बलों के साथ सभी संवेदनशील जिलों में पुलिस को अलर्ट पर रखा गया है। गुरुवार शाम को डीजीपी बीएस संधू ने अफसरों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर हालात का जायजा लिया। उन्होंने सर्च आपरेशन शुरू करने से पहले प्रदेश में अलर्ट घोषित करने का निर्देश दिया।

मुख्य सेवादार जोरा सिह गिरफ्तार

पंजाब में डेरा सच्चा सौदा के मालवा में सबसे बड़े डेरे सलाबतपुरा के मुख्य सेवादार जोरा सिह को थाना फूल पुलिस ने गुरुवार शाम गिरफ्तार कर लिया। उसे शुक्रवार अदालत में पेश किया जाएगा। तीन दिन पहले दयालपुरा चौकी पुलिस ने रेड करके डेरे में जोरा सिह के कमरे से 315 बोर की मॉडिफाई की गई गन तथा 66 कारतूस बरामद किए थे।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar