National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

युवाओं को शहीद ए आजम से लेनी चाहिए प्रेरणा : सीमा त्रिखा

शहीद भगत सिंह के जन्मदिन पर विधायक ने की माल्यार्पण

फरीदाबाद। आजादी की बात तब तक अधूरी है जब तक देश के वीर भगत सिंह का जिक्र ना हो, भारत मां के इस लाल ने मौत को महबूबा और आजादी को दुल्हन माना था, इस वीर ने ही सिर पर कफन का सेहरा बांधकर अपनी मां से कहा था मेरा रंग दे बंसती चोला। यह उदगार बढख़ल विधानसभा क्षेत्र की विधायक श्रीमती सीमा त्रिखा ने एनआईटी चोक स्थित शहीदे आजम भगत सिंह प्रतिमा पर उनके जन्मदिवस पर माल्र्यापण करते हुए कहे। श्रीमती त्रिखा ने कहा कि देश हमेशा इनका कर्जदार रहेगा और आने वाली पीढिय़ों को शायद अचरज होगा कि इस तरह का मानव कभी इस धरती पर जन्मा था। इस अवसर पर यादवेन्द्र सिंह सन्धू ने कहा कि इस विशाल जनसमूह को देखकर ऐसा लग रहा है कि वे शहीद भगत सिंह के अकेले वारिस नहीं है ब्लकि सारा देश ही उनका परिवार है। उन्होनें कहा कि देश के युवाओं को शहीद ए आजम से प्रेरणा लेनी चाहिए और उनके विचारों से दोस्ती करनी चाहिए। उन्होनें युवाओं से आह्रवान किया कि वे ज्यादा से ज्यादा संख्या में शहीद भगत सिंह बिग्रेड से जुडकर राष्ट्र को एक सूत्र में पिरोने का काम करें। यादवेन्द्र सिंह ने कहा कि यादुवेन्द सिंह ने कहा कि जौ कौम अपने शहीदों को भुला देती है उसका भविष्य कभी भी उज्जवल नहीं होता। उन्होनें कहा कि हमें भी देश के शहीदों की तरह निडर होकर किसी भी समय अपने देश के लिए बलिदान देने के लिए सदैव तत्पर रहना है। यादवेन्द्र सन्धू ने विधायक श्रीमति सीमा त्रिखा के समक्ष मांग रखी की शहीद भगत सिंह जी की प्रतिमा के ऊपर एक छतरी लगाई तथा इस चौक का नवीनीकरण इस प्रकार कराया जाए ताकि यहां आने पर हर किसी के अंदर देशभक्ति की भावना पैदा हो जो और शहरों के लिए भी यह चौक मिसाल बन सके। इस मौके पर उनके साथ फरीदाबाद की महापौर श्रीमती सुमन बाला, शहीद भगत सिंह के पौत्र एवं शहीद भगत सिंह बिग्रेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष यादवेन्द्र सिंह सन्धू पार्षद मनोज नासवा, जसंवत सिंह,विशम्बर भाटिया, अमित आहूजा, कपिल शर्मा आदि लोग मौजूद थे।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar