National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

राम रहीम पर फैसले से पहले पंजाब-हरियाणा ठप, हिंसा होने पर होगा पैलेट गन का इस्तेमाल

पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में अगले 72 घंटे के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद करने का ऐलान किया जा चुका है. इतना ही नहीं अगले 72 घंटे के लिए उत्तर रेलवे को पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ की तरफ आने वाली ट्रेनों को रोकने के निर्देश दिए गए हैं और दोनों राज्यों में बस सर्विस को भी बंद करने का आदेश दिया गया है.

नई दिल्ली: बाबा राम रहीम पर रेप के आरोप को लेकर कल फैसला आने वाला है. इससे पहले पंजाब और हरियाणा में तनाव का माहौल है. इसके पीछे की वजह है पंचकूला में लाखों की संख्या में डेरा समर्थकों की मौजूदगी. धारा 144 के बावजूद जिस तरह से बाबा राम रहीम के समर्थक पंचकूला के हर चौक चौराहे पर डटे हुए हैं उसे लेकर आज पंजाब हरियाणा हाई कोर्ट ने हरियाणा सरकार को फटकार लगाई. कोर्ट ने टिप्पणी करते हुए कहा कि जब धारा 144 लगी है तो फिर इतने समर्थक कैसे आ गए. क्यों ना डीजीपी को सस्पेंड कर दिया जाए और सेना को बुलाया जाए.
साथ ही कोर्ट ने बाबा राम रहीम को निर्देश दिया कि वो अपने समर्थकों को वापस लौटने को कहें. कल सुबह साढ़े 11 बजे पहले हाई कोर्ट ये देखेगा कि उसके निर्देश पर क्या कार्रवाई हुई उसके बाद ही पंचकूला की सीबीआई अदालत बाबा राम रहीम पर अपना फैसला सुनाएगी.

सड़कों पर निकलने पर पाबंदी
बता दें कि बाबा राम रहीम पर फैसला आने के मद्देनजर डीएम ने गुरुवार रात 10 बजे से सिरसा में कर्फ्यू लगाने का आदेश दिया है. सिरसा के तीन गांव बाजेकां, शाहपुर बेगु और नेजियाखेड़ा में भी कर्फ्यू लगाने का आदेश दिया गया है. इसके साथ ही सड़कों पर निकलने की पाबंदी रहेगी. अगला आदेश आने तक कर्फ्यू जारी रहेगा.

अर्द्धसैनिक बलों को पैलेट गन से लैस किया गया
सरकार और पुलिस दोनों को ही इस बात की आशंका है कि अगर फैसला बाबा राम रहीम के खिलाफ आया तो उनके समर्थक हंगामा कर सकते हैं. यही वजह है कि पहली बार कश्मीर से बाहर अर्द्धसैनिक बलों को पैलेट गन और पावा शेल्स से लैस किया गया है. हाई कोर्ट ने आज यहां तक कह दिया कि जरूरत पड़े तो सेना की भी मदद ली जाए. हरियाणा और पंजाब में अर्द्धसैनिक बलों की 167 कंपनियों को तैनात किया गया है. इसके साथ ही 100 कंपनियों को रिजर्व में रखा गया है. इतना ही नहीं अर्द्धसैनिक बलों की महिला बटालियन की भी तैनाती की गई है. इसके अलावा पंचकूला, चंडीगढ़ और सिरसा में स्टेडियम्स को जेल में तब्दील कर दिया गया है.

रात में ही डेरा समर्थकों को हटाया जाएगा
इसके अलावा पंचकूला में सेना को तैनात किया जा रहा है. डीजीपी ने कहा है कि पंचकुला में जुटे डेरा समर्थकों को आज रात में ही हटाया जाएगा. इसके लिए बसें बुलाई गई हैं, रात में ही बसों में ही समर्थकों को बाहर भेजा जाएगा. हरियाणा के डीजीपी का ये कहना कि लोग पैदल आ रहे थे इसलिए उन्हें रोका नहीं जा सका.

मोबाइल इंटरनेट, ट्रेन और बस सर्विस ठप
इससे पहले पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में अगले 72 घंटे के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद करने का ऐलान किया जा चुका है. इतना ही नहीं अगले 72 घंटे के लिए उत्तर रेलवे को पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ की तरफ आने वाली ट्रेनों को रोकने के निर्देश दिए गए हैं और दोनों राज्यों में बस सर्विस को भी बंद करने का आदेश दिया गया है.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar