National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

राशिफल: 11 अक्टूबर 2017

मेष (Aries): आज आप विचारों की अत्यधिक गतिशीलता से दुविधा का अनुभव कर सकते हैं। इस स्थिति के कारण किसी एक निर्णय पर पहुंचने में दिक्कत आ सकती है। आज का दिन आपके लिए नौकरी-धंधे के क्षेत्र में स्पर्धा युक्त रहेगा।

वृषभ (Taurus): आज आपका दुविधापूर्ण व्यवहार आपको मुश्किल में डाल सकता है। इस कारण कुछ महत्वपूर्ण समय खराब हो सकता है। आपके जिद्दी स्वभाव को आज त्याग दें, नहीं तो किसी के साथ चर्चा विवाद के स्तर तक पहुंच सकती है।

मिथुन (Gemini): गणेशजी कहते हैं कि तन-मन की ताजगी के अनुभव के साथ आज की शुरुआत होगी। घर या कहीं बाहर दोस्तों तथा परिवार के साथ आप खाना खाने जा सकते हैं।

कर्क (Cancer): गणेशजी कहते हैं कि आज ज्यादा खर्च का दिन है। परिवार का वातावरण भी ज्यादा अच्छा नहीं होगा। कुटुंब के लोगों के साथ मतभेद हो सकते हैं। मन में अनेक प्रकार की अनिश्चितता के कारण मानसिक बेचैनी रहेगी।

सिंह (Leo): आज किसी भी बात पर दृढ़ता से निर्णय नहीं ले सकने के कारण, आप मिला हुआ मौका गवां सकते हैं। सतर्क रहें। विचारों में आपका मन अटका हुआ रहेगा।

कन्या (Virgo): आज आप नए कार्यों से संबंधित सफल आयोजन कर सकेंगे। व्यापारी और नौकरीपेशा वर्ग दोनों के लिए आज का दिन लाभदायी होने की बात गणेशजी कहते हैं।

तुला (Libra): आज कार्यक्षेत्र में अधिकारियों की नाराजगी सहनी पड़ सकती है। व्यवसाय में परेशानी हो सकती है। संतान के प्रति भी चिंता सता सकती है।
वृश्चिक (Scorpio): गणेशजी वर्तमान समय शांतिपूर्वक बीताने को कहते हैं। गुस्से को काबू में रखें। अनैतिक कार्यों से दूर रहें। आज कोई नया संबंध बनाने से पहले विचार लें।

धनु (Sagittarius): आज बौद्धिक, तार्किक, विचार-विनिमय के लिए समय बहुत अच्छा है। समाज में सम्मान मिलेगा। मित्रों के साथ मुलाकात होगी। उनके साथ घूमने-फिरने का अवसर मिलेगा।

मकर (Capricorn): आपको व्यापार-धंधे में खूब सफलता मिलेगी। आज कानूनी पचड़ों से दूर रहें। व्यवसायिक योजना सफलतापूर्वक संपन्न होगी। पैसों का लेन-देन उचित रहेगा।

कुंभ (Aquarius): गणेशजी कहते हैं कि आज आप बौद्धिक शक्ति से लेखनकार्य और सृजन कार्य अच्छी तरह से पूरे कर सकेंगे। आज विचारों में स्थिरता का अभाव रह सकता है।

मीन (Pisces): गणेशजी मकान, वाहन या अन्य जरूरी दस्तावेजों को अत्यंत संभालकर रखने की सलाह देते हैं। परिवार का माहौल बिगडे़ नहीं इसके लिए वाद-विवाद टालें।।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar