National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

रिकॉर्ड : भारत ने श्रीलंका दौरे पर तीनों फॉर्मेट के सभी मैच जीते

कोलंबो। टीम इंडिया ने बुधवार को श्रीलंका को एकमा‍त्र टी20 मैच में 7 विकेट से हराकर इतिहास रच दिया। श्रीलंका ने दिलशान मुनावीरा की फिफ्टी (53) की मदद से 7 विकेट पर 170 रन बनाए। जवाब में भारत ने विराट कोहली (82) और मनीष पांडे (51) के अर्द्धशतकों की मदद से 3 विकेट खोकर 4 गेंद शेष रहते लक्ष्य हासिल कर लिया। इसी के साथ भारत ने श्रीलंका दौरे की समाप्ति तीनों फॉर्मेट के सभी मैच (9 मैच) जीतकर की। टीम इंडिया यह उपलब्धि हासिल करने वाली ऑस्ट्रेलिया के बाद दूसरी टीम बन गई। ऑस्ट्रेलिया ने 2009-10 में पाकिस्तान के खिलाफ सभी 9 मैच जीते थे।

भारत ने इस दौरे पर धमाकेदार प्रदर्शन कर टेस्ट सीरीज में श्रीलंका का 3-0 से सफाया किया था। टीम इंडिया ने इसके बाद पांच वनडे मैचों की सीरीज में घरेलू टीम का 5-0 से क्लीन स्वीप किया था। इसके पश्चात भारत ने बुधवार को टी20 मैच में श्रीलंका को हराकर 9-0 के साथ अपना नाम इतिहास में दर्ज कर दिया।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे भारत को पहला झटका मलिंगा ने दिया जब उन्होंने रोहित शर्मा को परेरा के हाथों झिलवाया। रोहित हवा में शॉट खेल बैठे और परेरा को कैच पकड़ने में कोई परेशानी नहीं हुई। राहुल अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे, लेकिन वे 24 रन बनाने के बाद प्रसन्ना की गेंद पर दासून शनाका द्वारा लपके गए। शनाका ने शॉर्ट कवर पर अपनी बाई तरफ डाइव लगाकर उनका शानदार कैच लपका।

42/2 की स्थिति के बाद विराट को पांडे का साथ मिला और दोनों ने श्रीलंकाई गेंदबाजों की जमकर पिटाई की। इन्होंने तीसरे विकेट के लिए शतकीय भागीदारी (119) कर टीम को जीत के करीब पहुंचाया। विराट 54 गेंदों में 7 चौकों और 1 छक्के की मदद से 82 रन बनाकर आउट हुए। मनीष पांडे 51 रन बनाकर तथा महेंद्रसिंह धोनी 1 रन बनाकर नाबाद रहे।

इससे पहले भारत ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। वर्षा और गीले आउटफील्ड की वजह से मैच शुरू होने में 40 मिनट की देर हुई। श्रीलंका को पहला झटका भुवनेश्वर कुमार ने दिया जब उन्होंने कप्तान उपुल थरंगा को बोल्ड किया। निरोशन डिकवेला तेज खेल रहे थे, लेकिन बुमराह की गेंद पर प्रयोगात्मक शॉट लगाने के चक्कर में वे बोल्ड हुए। मेजबान टीम को एंजेलो मैथ्यूज से काफी उम्मीदें थी, लेकिन वे मात्र 7 रन बनाकर चहल की गेंद पर विकेटकीपर धोनी द्वारा खूबसूरती से स्टंप किए गए।

मुनावीरा ने तूफानी गति से फिफ्टी पूरी की, लेकिन वे कुलदीप की गेंद को समझ नहीं पाए और बोल्ड हो गए। उन्होंने 29 गेंदों में 5 चौकों और 4 छक्कों की मदद से 53 रन बनाए। चहल ने इसके बाद एक ही अोवर में थिसारा परेरा और दासून शनाका को चलता किया। प्रसन्ना 11 रन बनाकर कुलदीप यादव के शिकार बने। प्रियंजन 40 गेंदों पर 41 रन बनाकर नाबाद रहे। चहल ने 43 रनों पर 3 और कुलदीप यादव ने 20 रनों पर 2 विकेट लिए।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar