न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

वोटर के कुत्ते के शोक में डूबे नेताजी

लो जी वो आ ही गए । आज पूरे पांच वर्ष बाद आए । वोटर के द्वार तक रेंगकर आ ही गए । आते ही जोर – जोर से रोने लगे । वोटर के गले मिलकर फफकने लगे । चुनाव पूर्व उनको रोने – फफकने का पूरा पअभ्यास है । आज वोटर के कुत्ते को मरे हुए एक घंटा बीत गया था । इनको भनक लग गई । परिणाम यह निकला कि वह फटे कुर्ते और टूटी चप्पलों को धारण कर सीधे वोटर के द्वार पर आ गए । वे पछाड़ खा – खा कर रोने लगे । गुलाटी मार – मार कर रोने लगे । बुक्के फाड़ – फाड़ कर रोने लगे । रोने ही नहीं बल्कि अपने आंसुओं की नदी से वोटर के चरण कमल भी धोने लगे । लोगों को विश्वास ही नहीं हो पा रहा था । शायद यह सच ना हो । लेकिन यह सच ही था । वोटर का कुत्ता मर गया था आज । और नेताजी शोक जताने के लिए आए थे । पूरे दल – बल के साथ ।
उन्होंने इतना गहरा – गहरा शोक व्यक्त किया जैसे ये भी स्वर्गीय कुत्ते साहब के सगे भाई ही हों । साथ ही अब वे कुत्ते के सगे भाई जैसा बर्ताव भी करने लगे । वोट जो लेना है नेता जी को ! वोटरों का जूता चाटकर चुनाव के पूर्व दिवस पर संवेदना से नोटों की फसल काट रहे थे नेताजी ! आज उन्होंने नोटों की एक थैली वोटर के आगे सरका दी । कह रहे थे – ‘भाई ! कुत्ते साहब के क्रिया कर्म के लिए ये चंद रुपए ले लो । रख लो । ना मत कहना । कुत्ता मेरा भी भाई लगता था ।’ इसी समय कैमरा वाला फोटो खींचे जा रहा था । वोटर अपने आप को असमंजस की स्थिति में पा रहा था । वे आज पैदल ही आए थे । वे कार को पिछवाड़े की गली में ही छोड़ आए । वे धीरे – धीरे रेंग कर आ रहे थे । वे वोटरों को भी निहार रहे थे । वे वोटरों की पग चम्पी कर रहे थे ।
टूटी चप्पल और मैले कुर्ते की एक फटी जेब वाला गेटप सहानुभूति पैदा कर रहा था । वोटरों को देख रहे थे ऐसे जैसे कोई सूअर नाली के बिलबिलाते कीड़ों पर अपनी थूथन फेरता हो । ऐसे जैसे कोई कुत्ता हड्डी पर लार टपकाता हो । लोग उनको माला पहना रहे थे । और वे रो रहे थे । वे अपने गले की माला उतार कर वोटर को पहना रहे थे । आज वोटर के कुत्ते के मर जाने का शोक मना रहे थे । माला भी उनकी ही थी और भीड़ भी उनकी । आज वोट साधना के लिए नाना प्रकार के आसन लगा रहे थे । अभी – अभी वह वोटर के कुत्ते के लिए हाथ – पैर जोड़ासन कर चुके हैं । अब अन्य वोटर के घर पर चूहा मर जाने का शोक मनाने के लिए जा रहे हैं । किसी और वोटर के घर के पास की नाली को साफ करने के लिए फावड़ा भी चला रहे हैं । भीड़ नारे लगा रही है नेता जी तुम संघर्ष करो हम आपके साथ हैं । नेताजी एक – एक वोटर के आगे संघर्षरत है ।

— रामविलास जांगिड़ , 18 , उत्तम नगर , घूघरा , अजमेर (305023) राजस्थान

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar