न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

व्हाट्सएप-फेसबुक 4 हफ्ते में लिखकर दे, नहीं कर रहे डाटा शेयरिंगः SC

नई दिल्ली। व्हाट्सएप की निजता नीति (प्राइवेसी पॉलिसी) को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने व्हाट्सएप और फेसबुक को नोटिस जारी किया है। कोर्ट ने 4 हफ्ते में इनसे जवाब मांगा है कि ये यूजर्स का डाटा शेयर कर रहे हैं या नहीं।  उधर, केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज बीएन श्रीकृष्ण के नेतृत्व में एक कमेटी बनाई है। कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद इस बारे में कानून बनाया जा सकता है। मामले की सुनवाई प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पांच जजों की संविधान पीठ कर रही है।

फेसबुक व अन्य को दे रहा डाटा –

उल्लेखनीय है कि फेसबुक ने 2014 में व्हाट्सएप को खरीद लिया है। याचिकाकर्ताओं का दावा है कि व्हाट्सएप अपने यूजर्स के डाटा फेसबुक व अन्य कंपनियों को मुहैया करा रहा है। यह प्राइवेसी पॉलिसी का उल्लंघन है। याचिकाकर्ताओं के वकीलों ने ऐसी डाटा शेयरिंग पर तत्काल रोक लगाने की मांग की। इस पर कोर्ट ने व्हाट्सएप व फेसबुक को नोटिस जारी कर चार हफ्ते में हलफनामा दायर करने का आदेश दिया। हलफनामे में उन्हें बताना होगा कि क्या वे किसी तीसरे पक्ष को डाटा शेयर कर रहे हैं? कोर्ट में मौजूद दोनों कंपनियों के वकीलों कपिल सिब्बल व अरविंद दातार ने कहा कि किसी कंपनी के साथ डाटा शेयर नहीं कर रहे हैं। हालांकि बाद में सिब्बल ने कहा कि सिर्फ “लास्ट सीन, टेलीफोन नंबर व मोबाइल सेट के डिटेल” ही शेयर किए जा रहे हैं। इसके बाद कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई 28 नवंबर तय की।

कमेट में क्षेत्र के विशेषज्ञ शामिल –

सरकार की ओर से अतिरिक्त सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता ने कोर्ट में कहा कि कमेटी की रिपोर्ट मिलने पर देश में डाटा संरक्षण कानून बनाए जाने की पूरी संभावना है। मेहता ने पीठ से कहा कि कमेटी में इस क्षेत्र के विशेषज्ञों को शामिल किया गया है। कमेटी डाटा संरक्षण कानून का प्रारूप भी तैयार करेगी। उन्होंने कहा कि डिजिटल इकॉनामी के विकास को देखते हुए सरकार नागरिकों के डाटा सुरक्षित रखने के महत्व को अच्छे समझती है।

कमेटी में कौन-कौन –

अध्यक्ष : जस्टिस श्रीकृष्ण रिटायर्ड जज सुप्रीम कोर्ट

सदस्य : अरुणा सुंदरराजन, दूरसंचार सचिव

सदस्य : अजय भूषण पांडे : यूआईडीएआई के सीईओ

सदस्य : अजय कुमार, इलेक्ट्रॉनिक्स व आईटी के अति. सचिव

सदस्य : गुलशन राय, राष्ट्रीय सायबर सुरक्षा समन्वयक

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar