National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज में भी क्लीन स्वीप के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया

दांबुला। टेस्ट सीरीज में क्लीन स्वीप के बाद टीम इंडिया रविवार से श्रीलंका के खिलाफ शुरू हो रही 5 मैचों की वनडे सीरीज में भी क्लीन स्वीप के इरादे से उतरेगी। जाहिर है टीम अपनी लय बरकरार रखना चाहेगी। इधर भारतीय टीम प्रबंधन पहले ही कह चुका है कि सीरीज में टीम इंडिया कई प्रयोग कर सकती है, खासतौर से बल्लेबाजी क्रम में बड़े परिवर्तन किए जाएंगे। टीम इंडिया की नजरें 2019 के विश्व कप पर हैं और इस सीरीज के जरिए विश्व कप के संभावित खिलाड़ियों का चयन होगा। विश्व कप की संभावित टीम से पहले मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद कह चुके हैं कि इंग्लैंड में 2019 में होने वाले विश्व कप के मद्देनजर खिलाड़ियों का प्रदर्शन और फिटनेस ही पैमान रहेगा। लिहाजा खिलाड़ियों के दावे और अपनी रणनीति, विकल्पों को आजमाने के लिए कई तरह के प्रयोग किए जा सकते हैं।

राहुल के क्रम में परिवर्तन –

केएल राहुल भले ही अभी तक पारी की शुरुआत करते रहे हों लेकिन अब उन्हें पूरी सीरीज में चौथे नंबर पर बल्लेबाजी कराई जा सकती है। दरअसल टीम प्रबंंधन राहुल की फिटनेस परखेगा और विकल्पों को लेकर अपनी रणनीति को मैदान में आजमाएगा। अभी तक वनडे खेलने वाले राहुल फिटनेस के चलते ही चैंपियंस ट्रॉफी में नहीं खेल पाए। उन्हें मध्यक्रम में आजमाया जा सकता है। दरअसल टीम प्रबंधन के लिए 2015 के विश्व कप से ही चौथे नंबर पर बल्लेबाजी सिरदर्द बना हुआ है।

धवन-रोहित करेंगे आगाज –

राहुल को मध्यक्रम में लाने से साफ है कि पारी की शुरुआत शिखर धवन और रोहित शर्मा ही करेंगे, जबकि तीसरे नम्बर पर अजिंक्य रहाणे, पांचवे पर महेंद्र सिंह धोनी, छठे पर मनीष पांडे और केदार जाधव में से एक बल्लेबाजी करेंगे। जाहिर है टीम प्रबंधन का सारा ध्यान बल्लेबाजी क्रम को व्यवस्थित करने पर है। गेंदबाजी में भारत का दारोमदार भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह पर रहेगा। अक्षर पटेल या युजवेंद्र चहलके साथ स्पिनर कुलदीप यादव को अंतिम एकादश में जगह मिल सकती है।

प्रतिष्ठा बचाना चाहेगा श्रीलंका –

टेस्ट सीरीज के तीनों मैच गंवाने के बाद श्रीलंका के लिए ये सीरीज प्रतिष्ठा बचाने का मौका होगी। मेजबान टीम को 2019 विश्व कप में अपने आप क्वालीफाई करने के लिए दो और वनडे जीतने होंगे। यदि भारत के खिलाफ वह ऐसा कर पाती है तो उसके 90 अंक हो जाएंगे। ऐसे में वेस्टइंडीज उनसे ऊपर नहीं जा सकेगा, भले ही वह 30 सितंबर की समयसीमा से पहले आयरलैंड और इंग्लैंड के खिलाफ सभी छह मैच जीत जाए।

रिकॉर्ड भारत के पक्ष में नहीं –

भारत भले ही जबर्दस्त फॉर्म में हो लेकिन दांबुला का अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम भाग्यशाली नहीं रहा है। भारत और श्रीलंका के बीच यहां 11 वनडे मैच खेले गए हैं। इनमें से टीम इंडिया को केवल 4 मैचों में ही जीत मिली है।

  • टीमें –

भारत : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, केएल राहुल, मनीष पांडे, अजिंक्य रहाणे, केदार जाधव, महेंद्र सिंह धौनी (विकेटकीपर), हार्दिक पांड्या, अक्षर पटेल, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार और शार्दूल ठाकुर।

श्रीलंका : उपुल थरंगा (कप्तान), एंजेलो मैथ्यूज, निरोशन डिकवेला (विकेटकीपर), धनुष्का गुणातिलके, कुशल मेंडिस, चामरा कापूगेदारा, मिलिंडा श्रीवर्धना, मालिंडा पुष्पकुमारा, अकिला धनंजय, लक्षण संदाकन, तिषारा परेरा, वानिनडु हसारंगा, लसिथ मलिंगा, दुष्मंता चामीरा और विश्व फर्नांडो।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar