National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

सत्ता से जाने के बाद कांग्रेस को याद आए किसान और मजदूर : नयनपाल रावत

गांव हीरापुर, पृथला व सागरपुर में भाजपा नेता का हुआ जोरदार स्वागत

मनोज तोमर
फरीदाबाद। पृथला विधानसभा क्षेत्र के पूर्व भाजपा प्रत्याशी नयनपाल रावत ने कहा है कि देश व प्रदेश में सबसे ज्यादा समय तक सत्ता पर राज करने वाली कांग्रेस पार्टी को सत्ता गंवाने के बाद अब किसान और मजदूरों की याद आ रही है। लेकिन जनता यह भलीभांति समझ चुकी है कि किसान-मजदूरों का अगर कोई सही मायनों में भला कर सकती है तो वह है भारतीय जनता पार्टी इसलिए जनता आज पूरी तरह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के साथ खड़ी है और उनके कुशल नेतृत्व में देश व प्रदेश के किसानों की भलाई के लिए अनेकों योजनाएं क्रियान्वित हो रही है, जिनका लाभ किसानों को मिल रहा है। श्री रावत आज गांव हीरापुर, सागरपुर व पृथला में आयोजित विशाल स्वागत समारोहों में उपस्थित ग्रामीणों को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर उनके साथ मुख्य रुप से पृथला ब्लाक समिति के वाईस चेयरमैन अशोक तंवर, पंचायत राज के कार्यकारी अभियंता रामकुमार हुडडा, पंचायत सचिव श्याम हुड्डा, ब्लाक मेम्बर पंडित इंद्रजीत कौशिक मुख्य रुप से मौजूद थे। स्वागत समारोहों में ग्रामीणों ने गांव की सरदारी की ओर से भाजपा नेता नयनपाल रावत को सम्मान रुपी पगड़ी पहनाकर उन्हें खुला समर्थन देते का ऐलान करते हुए कहा कि पिछले चुनावों में वह जातपात की भावनाओं में बह गए थे, लेकिन आने वाले चुनावों में वह अपनी इस गलती को सुधारते हुए उन्हें भारी मतों से विजयी बनाकर विधानसभा में भेजेंगे। ग्रामीणों के सम्मान से गद्गद् नयनपाल रावत ने कहा कि वह बेशक पिछले चुनावों में कुछ मतों से पीछे रह गए हो, लेकिन उन्होंने सदैव पृथला विधानसभा क्षेत्र की एक लायक बेटे की तरह सेवा की है। पिछले तीन वर्षाे के दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के आर्शीवाद एवं केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर के सहयोग से करोड़ों रुपए की ग्रांट मंजूर करवाकर क्षेत्र के विकास को बढ़ावा दिया। श्री रावत ने पूर्व की कांग्रेस सरकार पर हल्ला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस शासनकाल में किसानों को यूरिया व खाद के लिए न केवल लाठियां खानी पडती थी, बल्कि इनकी जमकर कालाबाजारी होती थी परंतु भाजपा सरकार बनने के बाद देश व प्रदेश में यूरिया का स्टाफ भरपूर करते हुए सरकार ने केवल किसानों के उपयोग के लिए इसे निर्धारित किया है और आज किसानों को आसानी से खाद एवं बीज उपलब्ध हो रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार में प्राकृतिक आपदा से खराब हुई फसल के मुआवजे के 100-100 रुपए के चैक मिलते थे, जबकि भाजपा सरकार में केवल फरीदाबाद जिले में 205 करोड़ रुपए का मुआवजा किसानों को फसल खराब होने की एवज में वितरित किया गया। इस मौके पर गांव हीरापुर के ग्रामीणों ने श्री रावत के समक्ष गांव में श्मशान घाट बनाने सहित अन्य समस्याएं रखी, जिस पर श्री रावत ने पंचायत राज के एक्सईएन और सेक्रेटरी को गांव में जल्द से जल्द श्मशान घाट बनाने के आदेश दिए वहीं उन्होंने ग्रामीणों को यह भी बताया कि गांव के विकास के लिए मुख्यमंत्री व केंद्रीय राज्यमंत्री के आर्शीवाद से 51 लाख रुपए की रािश आई है, जिससे जल्द ही विकास कार्य शुरू करवाए जाएंगे। वहीं राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जयंती के उपलक्ष्य में उन्होंने गांवों में स्वयं झाडू लगाकर साफ सफाई की और लोगों से भी स्वच्छ भारत अभियान को सफल बनाने की अपील की। इस मौके पर बलिराम मास्टर, सरपंच राजबाला, सरपंच सोहनपाल ककडीपुर, अजीत सिंह, चुन्नी लाल, हुकम सिंह, धर्मवीर यादव, रामनारायण, हुकमचंद नंबरदार, मास्टर अमीचंद, जयसरुप, लखीराम फौजी, रामगोपाल मेम्बर, मोतीराम, ब्रहानंद, अमित शर्मा, संतराम, मुकेश रावत, गिर्राज, राकेश डाक्टर, धीरु भाई, भगत सिंह, पलटू जैलदार, लुक्की सरपंच, रामनिवास पूर्व पार्षद, लक्ष्मण, दया तंवर, बिजेंद्र नेहरा सागरपुर, दिगम्बर चौधरी, हुकम दीक्षित, लोकेश फौगाट, गजेंद्र सुनपेड, मनोज भाटी सहित अनेकों गणमान्य लोग मौजूद थे।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar