National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

सुनंदा मर्डर केस: HC का पुलिस को निर्देश- 8 हफ्ते में फाइनल रिपोर्ट करें पेश

नई दिल्ली। पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत की जांच में हो रही देरी पर दिल्ली हाईकोर्ट ने गुरुवार को दिल्ली पुलिस को आड़े हाथों लिया। हाईकोर्ट ने दिल्ली पुलिस को फटकार लगाते हुए आठ हफ्ते के भीतर इस मामले में फाइनल रिपोर्ट देने का आदेश दिया। कोर्ट ने कहा कि अब इस मामले में आगे और समय नहीं दिया जा सकता है।

कोर्ट ने कहा कि हम साल 2017 के 9वें महीने में पहुंच गए हैं और अबतक इस मामले की जांच ही पूरी नहीं हो पाई है। कोर्ट ने सुनवाई के दौरान पुलिस से कहा कि हमें आपसे ये पूछने का पूरा हक है कि अब तक आपने क्या जांच की, कैसे की और आप किस नतीजे पर पहुंचे हैं। हमें ही नहीं सुनंदा के बेटे को भी ये जानने का पुरा हक है कि आखिर उसकी मौत कैसे हुई। हाईकोर्ट ने दिल्ली पुलिस को 2 हफ्ते के भीतर कोर्ट में हलफनामा देने को भी कहा है कि वह 8 हफ्ते में अपनी जांच को पूरी कर लेंगे। अब 2 महीने के भीतर साफ हो जाएगा कि सुनंदा की मौत कैसे हुई और किसने की थी।

इससे पहले हुई सुनवाई में सुनंदा पुष्कर की मौत मामले में दिल्ली पुलिस ने कोर्ट को बताया था कि वह इस मामले की जांच में अपराध मनोविज्ञान विधि का इस्तेमाल करना चाहती है।

यहां पर बता दें कि 17 जनवरी, 2014 की रात दक्षिणी दिल्ली के एक होटल लीला में संदिग्ध हालात में सुनंदा पुष्कर की मौत हो गई थी। उनकी शव होटल के एक कमरे में बिस्तर पर पड़ा मिला था। दिल्ली पुलिस ने जांच शुरू की और एक साल बाद मर्डर केस दर्ज किया था। सुनंदा की मौत के हाईप्रोफाइल मामले में शशि थरूर से भी पूछताछ हो चुकी है। एम्स की विसरा रिपोर्ट के मुताबिक, सुनंदा की बॉडी में किसी तरह का जहर नहीं मिला था। ।

वहीं सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि पुलिस ने खुद अपनी जांच में कहा है कि यह मर्डर आईपीएल से जुड़ा हो सकता है। इसलिए ईडी को जांच सौंपी जानी चाहिए। पुलिस ने कहा कि अभी तक कि रिपोर्ट से ये साफ है कि ईडी जांच की इस मामले में जरूरत नहीं है। कोर्ट में इस मामले की अगली सुनवाई 26 अक्टूबर को होगी.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar