न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

स्वतंत्रता दिवस पर दिल्ली को दहलाने की साजिश नाकाम, दो बांग्लादेशी आतंकी गिरफ्तार

नोएडा। दोनों स्वतंत्रता दिवस से पहले किसी बड़ी साजिश को अंजाम देने की फिराक में थे। खुफिया एजेंसियां दोनों संदिग्धों से पूछताछ कर जानकारी जुटा रही हैं।
एक ओर जहां पूरे देशभर में स्वतंत्रता दिवस की तैयारियां जोरों पर हैं, वहीं मंगलवार को उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्धनगर में यूपी एटीएस और पश्चिम बंगाल पुलिस ने दो संदिग्धों को गिरफ्तार किया है। आशंका जताई जा रही है कि ये दोनों स्वतंत्रता दिवस से पहले किसी बड़ी साजिश को अंजाम देने की फिराक में थे, हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हुई है।
जानकारी के मुताबिक, दोनों की गिरफ्तारी सूरजपुर क्षेत्र से पश्चिम बंगाल पुलिस और यूपी एटीएस ने संयुक्त रूप से की है। कुछ देर बाद दोपहर तीन बजे आईजी (एटीएस) असीम अरुण लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस करेंगे। प्रेस कांफ्रेस में वह संदिग्धों से जुड़ी जानकारी मीडिया के सामने रखेंगे। हालांकि, शुरुआती जानकारी यही सामने आ रही है कि दोनों संदिग्ध बांग्लादेश के रहने वाले हैं, जो गैरकानूनी तरीके से भारत में घुसे थे। पश्चिम बंगाल पुलिस की सूचना पर यूपी एटीएस ने संयुक्त ऑपरेशन में दोनों संदिग्धों को गिरफ्तार कर लिया है।
बता दें कि आइएस और हिजबुल मुजाहिदीन के अलावा दिल्ली पर दिल्ली पर खालिस्तानी आतंकियों का भी खतरा मंडराता रहता है। पिछले दिनों खुफिया एजेंसियों को दो खालिस्तानी आतंकियों के भारत में प्रवेश करने की सूचना मिली थी कि। दोनों संसद भवन पर हमला करने के इरादे से भारत आए थे। इसके बाद पुलिस ने नई दिल्ली व मध्य जिले को अलर्ट किया था। दहशतगर्द मंसूबे में कामयाब न हों सके इसके लिए पुलिस ने संसद सहित दोनों जिले में कई स्तरीय सुरक्षा घेरा तैयार किया था। संदिग्धों पर अब भी नजर रखी जा रही है।
संसद भवन और दोनों जिलों में पतंग उड़ाने पर प्रतिबंध के अलावा सुरक्षा कर्मियों को उड़ने वाली संदिग्ध वस्तु (यूएफओ) को दिखते ही उसे मार गिराने का निर्देश दिया गया है। सूत्रों के मुताबिक खुफिया एजेंसियों को जानकारी मिली है कि खालिस्तान के लखविंदर सिंह और परमिंदर सिंह नाम के दो कुख्यात आतंकी नेपाल के रास्ते भारत में प्रवेश कर गए हैं। उनके पास उत्तर प्रदेश के नोएडा की पंजीकृत इनोवा कार है।
सुरक्षा एजेंसियों ने दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान पुलिस को कहा है कि यूपी 16 एआर नाम से पंजीकृत सफेद रंग की इनोवा कार को विशेष रूप से चेकिंग करें। दोनों आतंकी की उम्र 40 वर्ष है और बम विस्फोट में माहिर हैं। किसी ने नई दिल्ली जिला पुलिस को फोन कर भी इससे मिलती जुलती जानकारी गत दिनों दी थी। पुलिस ने जांच में पाया कि जिस नंबर ने फोन आया था वह उधमपुर का है। पुलिस की टीम फोन करने वाले की तलाश में जम्मू-कश्मीर रवाना की गई है।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar