न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

स्वयं को इंदिरा समझकर कार्य करें महिलाएं : शारदा राठौर

फरीदाबाद। स्वर्गीय प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी जी की 100वीं जयंती पर बल्लभगढ़ में महिला सम्मान समारोह का आयोजन हुआ। ‘मैं इंदिरा हूं’  विषय पर महिलाओं ने अपने अनुभव सभी को बताए। इस अवसर पर पूर्व मुख्य संसदीय सचिव शारदा राठौर ने विभिन्न क्षेत्रों में अच्छे प्रदर्शन के लिए महिलाओं को सम्मानित किया। योग के लिए राजबाला शर्मा, घूंघट प्रथा खत्म करने के लिए अंजू यादव, खेल के लिए बीरवती, शिक्षा के लिए सुमन सिसोदिया ,साहस के लिए सुषमा, स्वास्थ्य के लिए मीना, गरीबों के विवाह के लिए आशा, कानूनी सहायता के लिए रितु, गायन के लिए धर्मवती, सामाजिक सौहार्द के लिए गीता सहित 100 महिलाओं को समाज सेवा के लिए सम्मानित किया। इस अवसर पर श्रीमती साधना ने इंदिरा गांधी के जीवन पर प्रकाश डाला व महिलाओं को कानूनी जानकारी दी। महिलाओं को संबोधित करते हुए शारदा राठौर ने बताया हर महिला स्वंय को इंदिरा समझ कर जीवन में साहस व दृढ़ निश्चय के साथ आगे बढ़े। इंदिरा जी के जीवन से प्रेरणा लेकर हमें अपनी बेटियों को आगे बढ़ाना चाहिए। हमारी बेटियों में प्रतिभा की कमी नहीं है । आज हर क्षेत्र में बेटियां अपनी योग्यता का लोहा मनवा रही हैं ।  हम सब मिलकर बेटे और बेटी के बीच का भेदभाव खत्म करें। महिलाओं की शौर्य गाथाओं से हमारा इतिहास गौरवशाली बना है। 21वीं सदी महिलाओं व युवाओं की है। अब समय आ गया है कि महिलाओं को विधानसभा व लोकसभा में आरक्षण मिलना चाहिए । उन्होंने विश्व सुंदरी का खिताब जीतने पर हरियाणा की बेटी मानुषी छिल्लर को भी बधाई दी। इंदिरा जी की जयंती को सभी महिलाओं ने शक्ति दिवस के रूप में मनाया ।

‘मैं हूं इंदिरा’ नामक कार्यक्रम के तहत 100 महिलाओं को किया सम्मानित
Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar