National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

हरियाणा कांग्रेस के उपाध्यक्ष सुभाष चौधरी पर बलात्कार का मामला दर्ज

तेलंगाना निवासी युवती से कई बार दुष्कर्म एवं जमीन हड़पने का आरोप

फरीदाबाद। हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष सुभाष चौधरी पर कांग्रेस की वरिष्ठ नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री के लोधी एस्टेट स्थित सरकारी आवास में घरेलू सहायिका से दुष्कर्म किए जाने का मामला सामने आया है। तेलंगाना निवासी पीडि़ता ने आरोप लगाया है कि उसे आरोपी ने चार बार हवन का शिकार बनाया और लाखों रुपए की जमीन भी हड़प ली। महिला की शिकायत पर तुगलक रोड थाना पुलिस ने सुभाष के खिलाफ दुष्कर्म व जान से मारने की धमकी देने की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। फिलहाल आरोपी फरार है। पुलिस ने आरोपी की गिरफ्तारी के लिए फरीदाबाद के सेक्टर-14 स्थित उनके निवास पर छापेमारी की परंतु उन्हें यहां से आरोपी की बरामदगी नहीं हुई। प्राप्त जानकारी के अनुसार नई दिल्ली जिले के डीसीपी बीके सिंह के मुताबिक, 32 वर्षीय महिला पूर्व केंद्रीय मंत्री के सरकारी आवास में 14 सालों से बतौर घरेलू सहायिका काम कर रही है। सुभाष चौधरी वहीं रहकर आवास की देखरेख करता था। शिकायत में महिला ने कहा है कि 2011 में वह अपने गांव की जमीन बेचना चाह रही थी जो उसकी मां के नाम थी। सुभाष चौधरी से इसका जिक्र किया तो उसने जमीन खरीदने की बात कही। उस समय जमीन की कीमत 25 लाख रुपये थी। इसके बाद सुभाष चौधरी ने अपने रिश्तेदार सेवा चौधरी को महिला के गांव भेजकर उसकी मां से कागजात पर अंगूठे का निशान लगवाकर जमीन अपने नाम करा ली, लेकिन पैसे नहीं दिए। जब वह पैसे मांगती तो छेडख़ानी करने लगता। सितंबर 2015 में पूर्व केंद्रीय मंत्री दिल्ली से बाहर गई थीं तो देर रात 11 बजे सुभाष चौधरी ने बहाने से उसे अपने कमरे में बुलाया और दुष्कर्म किया। शोर मचाने पर वहां पहुंचे अन्य घरेलू सहायकों विष्णु व शिवाजी रेड्डी के सामने धमकी दी कि किसी को कुछ बताया तो जान से मार डालेगा। आरोप है कि 23 सितंबर तक सुभाष चौधरी ने चार बार दुष्कर्म किया। इसके बाद वह फरीदाबाद चला गया। महिला ने कई बार फोन कर उससे जमीन के पैसे मांगे, लेकिन उसने नहीं दिए। इसके बाद 4 अक्टूबर को थाने पहुंचकर उसने मुकदमा दर्ज करवा दिया। सुभाष चौधरी अखिल भारतीय छात्र संगठन कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी रह चुके है वहीं 1999 में बल्लभगढ़ विधानसभा से कांग्रेस की टिकट पर चुनाव भी लड़ चुके है। उधर इस बाबत जब सुभाष चौधरी से फोन पर बात करने का प्रयास किया गया तो उनसे संपर्क नहीं हो पाया।

 

 

 

 

 

 

 

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar