National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

हिंदू चाहते हैं राम मंदिर बने लेकिन मस्जिद को गिराकर नहीं : शशि थरूर

सोलन । पांच राज्यों के विधानसभा और आने लोकसभा चुनाव से पूर्व बीफ की राजनीति का जिन्न एक बार फिर आ गया है। दरअसल कांग्रेस नेता व सांसद शशि थरूर ने कसौली में चल रहे खुशवंत सिंह लिट फैस्ट में उनके द्वारा लिखी गई वाई.आई.एम. हिन्दू पर चर्चा करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के न खाऊंगा और न खाने दूंगा नारे पर तंज कसते हुए कहा कि यह उन्होंने बीफ के लिए कहा था। राम मंदिर के निर्माण पर चर्चा करते हुए कहा कि हिन्दू चाहता कि राम मंदिर बने लेकिन यह मस्जिद को गिराकर नहीं बनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि राम मंदिर के निर्माण के लिए सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का इंतजार करना चाहिए। अभी यह मामला सर्वोच्च न्यायालय में विचाराधीन है। इस मौके पर थरुर ने कांग्रेस के स्टैंड को स्पष्ट तो नहीं किया। लेकिन संकेत दिया कि कांग्रेस भी राम मंदिर के खिलाफ नहीं।
राफेल इतिहास के रक्षा सौदे का सबसे बड़ा घोटाला है। इस घोटाले को लेकर पीएम मोदी राफेल डील पर क्यों चुप्पी साधे हुए है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार में किसानों ने सबसे ज्यादा आत्महत्या की है। मोदी सरकार के नोटबंदी व जीएसटी के गलत फैसलों से भारत की अर्थव्यवस्था चरमरा गई है। सरकार की गलत नीतियों का नतीजा है कि देश में पैट्रोल व डीजल की कीमतें अनियंत्रित हो गई हैं। उन्होंने कहा कि देश में गौ रक्षा के नाम पर सड़कों पर गुंडागर्दी का नंगा नाच चला हुआ है। गौ रक्षा के नाम पर निर्दोष लोगों को मारा जा रहा है। इसके खिलाफ आवाज उठाने वालों को देशद्रोही की संज्ञा दी जा रही है। इन सभी कारणों के चलते अब मोदी सरकार रिपीट नहीं होगी।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar