National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

हिमाचल में दोपहर तक 28 फीसदी मतदान

शिमला.  हिमाचल प्रदेश विधानसभा के चुनाव में आज दोपहर 12 बजे तक करीब 28 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। राज्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार दोपहर 12 बजे तक करीब 28 फीसदी मतदान हुआ। शुरुआती दो घंटों में 13.72 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग कर लिया था। सभी केेंद्रों पर मतदान शांतिपूर्ण तरीके से जारी है और कहीं से भी कोई अप्रिय घटना की खबर नहीं है।
मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने पत्नी के साथ रामपुर बुशैर में मतदान किया। भारतीय जनता पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार प्रेम कुमार धूमल ने हमीरपुर के समीरपुर मतदान केंद्र पर अपना वोट डाला। श्री धूमल के बेटे और हमीरपुर सीट से सांसद अनुराग ठाकुर ने भी इसी मतदान केन्द्र पर मतदान किया। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने बिलासपुर में परिवार सहित मतदान किया। मतदान के बाद श्री सिंह और श्री धूमल ने अपनी-अपनी पार्टी की जीत का दावा किया। पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने शिमला के कल्टी मतदान केंद्र पर मतदान किया। माकपा के पूर्व सचिव राकेश सिंग्ला ने अपने गांव कोटागढ़ में वोट डाला।
पूर्व केंद्रीय मंत्री तथा भाजपा के वरिष्ठ नेता शांता कुमार ने पालमपुर में वोट डाले। सुरक्षा के कड़े इंतजामों के बीच हिमाचल प्रदेश विधानसभा की सभी 68 सीटों पर सुबह आठ बजे से मतदान चल रहा है। चुनाव के लिए 7525 मतदान केंद्र बनाये गये हैं, जहां 50 लाख से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव संपन्न कराने के लिए 983 मतदान केंद्रों को अतिसंवेदनशील और 399 मतदान केंद्रों को संवेदनशील घोषित किया गया है। इस चुनाव में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों के साथ 11 हजार 50 वीवीपैट का भी पहली बार इस्तेमाल हो रहा है। मतगणना गुजरात विधानसभा चुनाव के साथ ही 18 दिसंबर को होगी। पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने शिमला के कल्टी मतदान केंद्र पर मतदान किया। माकपा के पूर्व सचिव राकेश सिंग्ला ने अपने गांव कोटागढ़ में वोट डाला।
पूर्व केंद्रीय मंत्री तथा भाजपा के वरिष्ठ नेता शांता कुमार ने पालमपुर में वोट डाले। सुरक्षा के कड़े इंतजामों के बीच हिमाचल प्रदेश विधानसभा की सभी 68 सीटों पर सुबह आठ बजे से मतदान चल रहा है। चुनाव के लिए 7525 मतदान केंद्र बनाये गये हैं, जहां 50 लाख से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव संपन्न कराने के लिए 983 मतदान केंद्रों को अतिसंवेदनशील और 399 मतदान केंद्रों को संवेदनशील घोषित किया गया है। इस चुनाव में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों के साथ 11 हजार 50 वीवीपैट का भी पहली बार इस्तेमाल हो रहा है। मतगणना गुजरात विधानसभा चुनाव के साथ ही 18 दिसंबर को होगी।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar