National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

​पंजाब में नशे का छठा दरिया अब बाढ़ का रूप ले चूका

लुधियाना।पंजाब में नशे का छठा दरिया अब बाढ़ का रूप ले चूका है। हर गली, मुहल्ले, गाँव में नौजवान हर तरह के नशे के आदि हो चुके हैं और जानलेवा नशा चीटा और नशे के इंजेक्शन हर रोज नौजवानो की जिंदगी को छीन रहे हैं। बेलन ब्रिगेड की राष्ट्रीय अध्यक्ष अनीता शर्मा ने बताया कि 2014 में संसदीय चुनावों के दौरान उन्होंने अकाली भाजपा सरकार के खिलाफ नशों के खिलाफ आवाज उठाई थी और इस नशो के खिलाफ लहर ने अकाली भाजपा सरकार को सत्ता से बाहर कर दिया था। उस वक्त नशों को खत्म करने की दुहाई देने वाली कांग्रेस सरकार ने इस मुद्द्दे पर सत्ता हासिल कर ली। कांग्रेस सरकार के राज में  आज पंजाब में नशे के हालात यह हो चुके हैं कि हर घर में कोई न कोई नशेड़ी जरूर मिल जाएगा। अनीता शर्मा ने बताया कि पंजाब में शराब का कारोबार सरकार के हाथ में है और शराब को पंजाब सरकार नशा नहीं मानती और यह शराब हर गली मुहल्ले में धड़ल्ले से बिक रही है। बच्चे से लेकर बुजुर्ग तक शराब का सेवन आजकल ऐसे करने लगे हैं जैसे सुबह उठकर लस्सी पीते हैं। जाहिर है शराब  का नशा सरकार परोस रही है और दूसरा चीटे या इंजेक्शनों के नशे का इंतजाम पंजाब के लोग खुद कर रहे हैं। अनीता शर्मा ने कहा कि कांग्रेस सरकार की नशों को ख़त्म करने की पॉलिसी केवल चुनाव जीतने तक ही थी उसके बाद आज के हालात यह हो चुके हैं कि युवक नशे की ओवरडोज से सडक़ों पर मरे पड़े मिलते हैं। उन्होंने कहा कि रैलियां निकालकर, सेमीनार करके, नशा छुड़ाओ केंद्र खोलकर इस समस्या का कोई हल नहीं होने वाला। जब तक पंजाब सरकार नशा करने व बेचने वाले पर कड़ी करवाई नहीं करती और नशा बेचने वाले स्मगलरों को बेनकाब नहीं करती सरकार सरकारी नशा शराब की खपत को कम नहीं करती, तब तक नशों को पंजाब में खत्म नहीं किया जा सकता।
Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar