National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

2 साल तक नहीं खुलेंगे देश में नए आयुष कॉलेज

नई दिल्ली । देश में 2 साल तक आयुष कॉलेज खोलने की अनुमति केंद्र सरकार नहीं देगी। इसके पीछे सबसे मुख्य कारण बताया जा रहा है कि आयुष डॉक्टरों का एलोपैथी चिकित्सा में उपयोग नहीं हो पाने और एलोपैथिक चिकित्सक द्वारा लगातार विरोध करने से सरकार आयुष कॉलेजों के बारे में नई नीति बनाने जा रही है। नई नीति बनने तक किसी भी कॉलेज को नई अनुमति नहीं दी जाएगी।
उल्लेखनीय है। केंद्र सरकार ने मेडिकल काउंसिल आफ इंडिया को भंग कर दिया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा एक नई कमेटी गठित की गई है। जो चिकित्सा से संबंधित सभी विषयों पर गंभीरता पूर्वक विचार करते हुए नई गाइडलाइन तैयार कर रही हैं। आयुष डॉक्टरों को मेडिकल कॉलेज और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में नियुक्त किए जाने पर मेडिकल काउंसिल आफ इंडिया कड़ा ऐतराज जता रही थी। इसको देखते हुए सरकार अब आयुष कॉलेज के पाठ्यक्रम में बदलाव करके आयुष डॉक्टरों को स्वास्थ्य सेवाओं में बेहतर तरीके से उपयोग करने के संबंध में विचार कर रही हैं।
उल्लेखनीय हैं देशभर में वर्तमान में 710 आयुष कॉलेज संचालित हो रहे हैं। इसमें मध्य प्रदेश में 54 कॉलेज हैं। जिन कालेजों के आवेदन स्वास्थ्य विभाग में लंबित है। उन्हें निरस्त कर दिया जाएगा। नए आवेदन 2 साल तक, जब तक नई नीति घोषित नहीं हो जाती है। तब तक कोई अनुमति जारी नहीं होगी।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar