National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

23 सितंबर से बंद BHU आज खुलेगा ,सुरक्षा व्‍यवस्‍थाएं बढ़ाईं

वाराणसी। 23 सितंबर से बंद काशी हिदू विश्वविद्यालय (बीएचयू)तीन अक्टूबर से खुल रहा है। इसको लेकर अधिकारियों के माथे पर बल है। हास्टल खाली कराने की नीयत से भेजे गए विद्यार्थी अब वापस आ गए हैं। बीएचयू का यह बवाल छेड़खानी के विरोध में धरना देने वाली छात्राओं पर लाठीचार्ज के बाद बढ़ा था। मंगलवार से विश्वविद्यालय के खुलने को लेकर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। सिंहद्वार से लेकर हर गेट पर सीसीटीवी कैमरे व सुरक्षा व्यवस्था दुरुस्त कर ली गई है। किसी भी स्थिति से निबटने के लिए बीएचयू प्रशासन ने जिला प्रशासन एवं पुलिस से मदद की गुहार लगाई है। आइआइटी के प्राक्टोरियल बोर्ड से भी मदद मांगी गई है। इसको लेकर चीफ प्राक्टर प्रो. रॉयना सिंह ने सोमवार को अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को चौकन्ना रहने का निर्देश दिया। उधर, पुलिस भी इसको लेकर काफी चिंतित है। स्थानीय पुलिस से लेकर पीएमओ भी इस मामले को लेकर पल-पल की खबर ले रहा है। ताकि आगे कोई घटना न हो।

तैनात होंगी महिला गार्ड
डीएम के निर्देश पर बीएचयू में महिला गार्ड नियुक्त कर ली गई हैं। आइआइटी, बीएचयू ने भी 15 महिला गार्डों की मांग की है।

प्रतिबंधित होगा हास्टल एरिया
छेड़खानी व बवाल की घटनाओं को लेकर बीएचयू में हास्टल एरिया को प्रतिबंधित करने की तैयारी चल रही है ताकि बाहरी लोगों के अनावश्यक आवागमन पर रोक लगे।

छात्राओं ने दिया बयान
बीएचयू में छेड़खानी के खिलाफ धरने पर बैठने वाली छात्राओं पर हुए लाठीचार्ज एवं बवाल की जांच को लेकर सोमवार को प्रदेश की टीम विश्वविद्यालय में धमकी। टीम में प्रदेश के अपर मुख्य सचिव आरपी सिंह प्रमुख थे। टीम ने त्रिवेणी व एमएमवी हास्टलों की छात्राओं सहित कुछ अधिकारियों से भी पूछताछ की। छात्राओं ने बवाल के लिए बीएचयू प्रशासन को घेरते हुए बयान दिया।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar