न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

अदाणी की गुजरात जायंट्स ने भारत की पहली मुक्केबाजी लीग में नॉक : आउट पंच लगाया

‘गुजरात जायंट्स ने द बिग बाउट इंडियन बॉक्सिंग लीग के सेमीफाइनल के लिए क्‍वालिफाई किया’
‘अदाणी ग्रुप का उद्देश्य देश के युवाओं को प्रेरित करके अपरंपरागत खेलों को लोकप्रिय बनाना है’

विजय न्यूज़ ब्यूरो
अहमदाबाद। वैश्विक खेलों के अपनी पहचान बना चुके भारतीय खिलाड़ियों की तलाश करने और उनका सहयोग करने की अपनी दीर्घकालिक सोच पर चलते हुए, अदाणी ग्रुप ने हाल ही में बॉक्सिंग के क्षेत्र में प्रवेश किया है। राष्ट्र-निर्माण के अपने व्यापक दर्शन के साथ, अदाणी ग्रुप ने एक मल्टी-टीम बॉक्सिंग लीग- बिग बाउट इंडियन बॉक्सिंग लीग – के उद्घाटन संस्करण में एक टीम को चुना है।
गुजरात जायंट्स की टीम में एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता और विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप के रजत पदक विजेता अमित पंघल ने अपने पहले तीन मैचों में जीत की हैट्रिक दर्ज की है, और प्रतियोगिता के सेमीफाइनल के लिए क्‍वालिफाई किया है। इसमें सरिता देवी, दुर्योधन नेगी, आशीष कुमार, पूनम, राजेश नरवाल, चिराग और स्कॉटलैंड के विदेशी खिलाड़ी स्कॉट फॉरेस्ट भी शामिल हैं।
गुजरात जायंट्स, भागीदारी करने वाली छह टीमों में से एक है जो बिग बाउट लीग जीतने के लिए पसंदीदा टीम हैं। लीग का समापन 21 दिसंबर को होगा।
अपनी सफल और लोकप्रिय कबड्डी टीम के बाद, अदाणी ग्रुप से जुड़ी यह दूसरी स्पोर्ट्स फ्रैंचाइज़ी है। मुक्केबाजी और कुश्ती जैसे खेलों में तेजी से अपनी मौजूदगी दर्ज करते हुए, अदाणी ग्रुप भारत में ऐसे खेलों को व्यापक पहुंच और कवरेज के साथ लोकप्रिय बनाने के मिशन पर काम कर रहा है, जिन खेलों की चर्चा कम होती है। इसमें ‘गर्व है’ जैसी खेलकूद संबंधी पहल भी शामिल है, जिसका उद्देश्‍य जमीनी स्तर की प्रतिभाओं की तलाश करना तथा उन खिलाड़ियों और एथलीटों को उनकी पहचान दिलाना है जिसके वे योग्‍य हैं और जो सबसे बड़े खेलकूद के आयोजनों में भारत का प्रतिनिधित्व करते हैं।
श्री प्रणव अदाणी, प्रबंध निदेशक – तेल, कृषि और गैस, अदाणी ग्रुप ने बताया कि “मुक्केबाजी और कुश्ती जैसे कॉम्बैट स्‍पोर्ट्स में विश्व स्तर पर भारत की सफलता का ट्रैक रिकॉर्ड साबित हो चुका है। बिगआउट लीग में भागीदारी करने के पीछे हमारी सोच है कि इन खेलों को जमीनी स्तर पर मजबूत बनाने में योगदान दिया जाये। मेरा दृढ़ विश्वास है कि टेलीविजन के अधिक प्रचार-प्रसार के कारण न सिर्फ ये खेल लोकप्रियता हासिल करेंगे, बल्‍कि राष्ट्र के लिए खेल नायकों की एक नई पीढ़ी को प्रेरित भी करेंगे।”
बिग बाउट लीग की अन्य टीमों में पंजाब पैंथर्स, ओडिशा वॉरियर्स, बॉम्बे बुलेट्स, एनई राइनोज और बेंगलुरु ब्रॉवलर्स शामिल हैं।
एमसी मैरीकॉम के नेतृत्‍व में खेलने वाली टीम, पंजाब पैंथर्स पर 5-2 की शानदार जीत के बाद, गुजरात जायंट्स की सरिता देवी ने कहा कि “मुझे खुशी है कि हम सेमीफाइनल में पहुंच गए। मैच जीतने के लिए पूरी टीम ने अपना पूरा जोर लगा दिया था। हम फाइनल जरूर जीतेंगे। हर कोई कहता था कि मेरी उम्र (37) और मेरा माँ होना मेरे खेल पर असर डलेगा, और यही मेरे लिए सबसे बड़ी चुनौती थी और इस चुनौती का मुकाबला मैंने कल अपने प्रतिद्वंद्वी को हराकर किया है। हम आने वाले मैचों में कड़ी मेहनत करेंगे और मुझे पूरा यकीन है कि हम ट्रॉफी ले आयेंगे।”
हाल ही में फ्लाइवेट श्रेणी में पुरुषों की विश्व शौकिया मुक्केबाजी रैंकिंग में वर्ल्ड नंबर वन बने चर्चित मुक्‍केबाज अमित पंघल भी अदाणी ग्रुप की पहल ‘गर्व है’ का हिस्सा है। ‘गर्व है’ पहल का उद्देश्य पदक जीतने के लिए भारत के नवोदित एथलीटों की तैयारी में सहयोग एवं समर्थन देना है, ताकि वे उच्च स्तर पर आयोजित होने वाले खेलों में पदक हासिल कर सकें और भारत की खेलकूद की विरासत को और अधिक ऊंचाइयों तक ले जा सकें।
गुजरात जायंट्स के टाइटल चार्ज और ओलंपिक 2020 के लिए उनकी तैयारी के बारे में बताते हुए, उन्होंने कहा कि “मुझे बहुत खुशी है कि हमने पंजाब पैंथर्स जैसे बहुत ही मजबूत प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ जीत हासिल की है। हम आने वाले मैचों में इससे भी बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं। मुझे कल किसी तरह का दबाव महसूस नहीं हुआ क्योंकि मैं पहले ही इस मुक्केबाज के खिलाफ खेल चुका हूं और यह जानकर कि मैं विश्व रैंकिंग में शीर्ष पर हूं, मेरे आत्मविश्वास का स्तर ऊंचा हो गया। खेलकूद की मेरी इस सफलता में मेरा साथ देने के लिए अपने देश और अपने मुक्केबाजी परिवार को धन्यवाद देना चाहता हूं। मैं हर दिन कड़ी मेहनत कर रहा हूं, और मुझे भरोसा है कि मैं ओलंपिक पदक जीत कर लाऊंगा।”

गुजरात जायंट्स के बारे में
गुजरात जायंट्स, मुक्केबाजी से संबंधित फ्रेंचाइजी है, जो अदाणी ग्रुप के संस्थापकों की निजी-स्वामित्व वाली अदाणी स्पोर्ट्सलाइन से जुड़ी है। भारत के इस विशाल एवं वैविध्‍यपूर्ण बिजनेस ग्रुप का राजस्‍व 13 बिलियन अमेरिकी डॉलर है। नवंबर 2019 में लॉन्च किये गये, अदाणी स्पोर्ट्सलाइन को एक व्यापक सोच के आधार पर बनाया गया था, ताकि जमीनी स्तर पर खेल संस्कृति विकसित हो और भविष्य के चैंपियनों के लिए वैश्विक प्रतिस्पर्धी अवसर उपलब्‍ध हों। अदाणी ग्रुप की राष्ट्र-निर्माण की सोच के साथ तालमेल बनाते हुए, इस बहु-आयामी दृष्टिकोण के तीन व्यापक आयाम हैं। इसमें हमारे खिलाड़ियों के लिए चलाये जा रहे दीर्घकालिक खिलाड़ी विकास कार्यक्रम, ‘गर्व है’ के अंतर्गत चयनित सीनियर और जूनियर एथलीटों को तैयार करना, रणनीतिक रूप से लीग में निवेश करना जो भारत में सीमित पहुंच वाले खेलों की लोकप्रियता और उपस्‍थिति बनाने में मदद करे, और देश में खेलकूद के लिए स्‍टेट-ऑफ-द-आर्ट इन्फ्रास्ट्रक्चर बनाना शामिल है, जो वर्तमान पीढ़ी के ग्लोबल स्पोर्ट्स आइकन को तैयार करने के प्‍लेटफॉर्म के रूप में कार्य करे।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar