National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

मेष (Aries) : अगस्त 2020, मासिक राशिफल

सामान्य
मेष राशि के जातकों को इस महीने काफी यात्राएं करनी पड़ सकती हैं, चाहे वे सैर सपाटे के लिए हों या फिर मनोरंजन अथवा तीर्थाटन के लिए। इस महीने के पूर्वार्ध में स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें. महीने के उत्तरार्ध में स्थितियां आपके पक्ष में रहने वाली हैं। आंखों के प्रति संवेदनशील रहें। अत्यधिक तेज रोशनी में ना रहें और आंखों में दिक्कत होते ही तुरंत डॉक्टर को दिखाएं। दोस्तों के साथ आपके संबंध काफी घनिष्ठ होंगे और मौज मस्ती में समय बिताएंगे। इसके अतिरिक्त आर्थिक तौर पर स्थितियां धीरे-धीरे अनुकूल होती रहेंगी और कुल मिलाकर यह महीना आपके लिए ठीक ठाक कहा जा सकता है।

कार्यक्षेत्र
यदि आपके करियर की बात की जाए तो दशम भाव में बैठे शनि देव आपको पूरी तरह से काम के प्रति आसक्त बनाएँगे और आप काम के प्रति अधिक जागरूक होने की वजह से अत्यधिक काम करेंगे और शरीर को थका लेंगे, इसलिए ध्यान रखें कि अत्यधिक काम के प्रति आसक्त होना भी अच्छी बात नहीं होती। हालांकि आपकी मेहनत आपके लिए भविष्य का मार्ग बनाएगी और आप प्रशंसा के हक़दार बनेंगे। महीने की शुरुआत में सूर्य और शनि का आमने सामने का गोचर आपको किसी बात को लेकर परेशान कर सकता है। ऐसा भी संभव है कि आप जिस प्रतिष्ठा या पद की उम्मीद कर रहे थे, वह आपको ना मिले या आपको किसी प्रकार से अपना अपमान महसूस हो, लेकिन महीने का उत्तरार्ध काफी बेहतर जाएगा और सूर्य के राशि बदलते ही आपके कार्यक्षेत्र में अनुकूल परिवर्तन आपको दिखने लगेंगे और आपकी पद प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। यदि आप कोई व्यापारी अथवा व्यवसायी हैं तो आप के लिये परिणाम सकारात्मक रहेंगे। इसमें विशेष तौर पर आपके बिज़नेस पार्टनर का योगदान रहेगा, इसलिए उनसे अच्छे संबंध बनाए रखना आपको सुकून देगा और बिज़नेस में तरक्की भी। कोई बुजुर्ग व्यक्ति आपके काम में आपका मार्गदर्शक बनेगा।

आर्थिक
आपके आर्थिक दृष्टिकोण की बात की जाए तो महीना ठीक-ठाक गुज़र जाएगा। हालांकि महीने की शुरुआत खर्चों से भरी रहेगी, लेकिन धीरे-धीरे खर्चों में गिरावट आने लगेगी। महीने के उत्तरार्ध में जब मंगल आपकी राशि में गोचर करेगा और सूर्य पंचम भाव में गोचर करेगा, तब आपकी आमदनी में जबरदस्त वृद्धि के योग बनेंगे और इसकी वजह से आपकी आर्थिक चुनौतियाँ कम होंगी। आर्थिक तौर पर आप समृद्धि की ओर बढ़ेंगे। नवम भाव के स्वामी बृहस्पति की दृष्टि लग्न पर है तथा पंचम भाव पर है और वह स्वयं नवम भाव में बैठे हैं, इसके फलस्वरूप भी आपको आमदनी से संबंधित कोई दिक्कत नहीं होगी। इस दौरान आप अपने भाई बहनों को भी आवश्यकता के अनुसार धन दे सकते हैं और उनकी मदद कर सकते हैं। व्यापारियों को इस महीने अच्छे मुनाफ़े की उम्मीद करनी चाहिए क्योंकि उनकी युक्तियां उनके काम आएँगी और आर्थिक चुनौतियों को दूर करेंगी।

स्वास्थ्य
यदि आपके स्वास्थ्य की बात की जाए तो स्वास्थ्य के मामले में आप मिश्रित परिणामों के साथ इस महीने को व्यतीत करेंगे। महीने की शुरुआत में आपकी राशि का स्वामी बारहवें घर में होगा और उस पर शनि की दृष्टि भी होगी। तीसरा और नवम भाव भी पीड़ित होगा। इसकी वजह से स्वास्थ्य समस्याएं परेशान कर सकती हैं, लेकिन महीने के उत्तरार्ध में जब 16 अगस्त को मंगल का गोचर आपकी ही राशि में होगा, तो वह आपको बलवान बनाएगा और पुरानी चली आ रही बीमारियों से आपको मुक्ति मिलेगी तथा आपके अंदर गजब का उत्साह और ताज़गी देखने को मिलेगी। आपको विशेष रुप से किसी प्रकार के इंफेक्शन से बचना चाहिए और किसी भी प्रकार की चोट या दुर्घटना से बचने की पूरी तैयारी करके रखें तथा वाहन सावधानी पूर्वक चलाएँ। हालांकि महीने का उत्तरार्ध अपेक्षाकृत अनुकूल रहने वाला है।

प्रेम व वैवाहिक
आपके प्रेम जीवन की बात की जाए तो यह महीना काफी उथल-पुथल से भरा रह सकता है. तीसरे भाव में उपस्थित राहु, बुध और शुक्र की युति आपको प्रेम संबंधों में काफी चंचल बनाएगी और आप एक से अधिक लोगों में अपनी रुचि दिखा सकते हैं, जो अंततः आपके प्रेम जीवन के लिए घातक साबित होगी। आप इस दौरान अपना अधिकांश समय अपने निकटतम दोस्तों में बिताएंगे, जिसमें विपरीत लिंगी दोस्त भी होंगे, जिनसे आपकी नज़दीकियां बढ़ेंगी, लेकिन आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि प्यार किसी एक से होता है, बाकियों के साथ आकर्षण अवश्य हो सकता है। आपको मर्यादित आचरण करना चाहिए। बुध का गोचर आपके चतुर्थ तथा पंचम भाव में होगा, जो स्थितियों को संभालने में सहायक साबित होगा और आपसी बातचीत से मामला सुलझ जाएगा, लेकिन यदि आप किसी रिलेशनशिप में पहले से हैं तो आपको सावधान रहना चाहिए क्योंकि ऐसी स्थिति जिसमें आप अन्य लोगों के प्रति भी वही भाव रखते हों, आप के लिए घातक हो सकती है। अपने प्रियतम के प्रति समर्पित रहें और ईमानदार बनें, चाहें तो उनके साथ कोई लॉन्ग ड्राइव प्लान कर सकते हैं।
यदि शादीशुदा हैं तो दांपत्य जीवन में कुछ चुनौतियाँ रहेंगी और आप दोनों के बीच तनातनी की स्थिति बन सकती है। आप कुछ गुस्से वाले भी रहेंगे, जिसका असर आपके दांपत्य जीवन पर पड़ेगा और आपका जीवन साथी आपके व्यवहार से उखड़ जाएगा और इसका असर आपके दांपत्य जीवन को खराब कर सकता है। हालांकि गुरूदेव की कृपा लग्न पर होने कारण समय रहते आपको स्वतः ही ज्ञान हो जाएगा और आप अपनी ग़लतियों के प्रति पछतावा भी कर सकते हैं, लेकिन ध्यान रखें, ज्यादा देर ना हो जाए, इसलिए समय रहते स्थिति को बिगड़ने से रोकने का प्रयास करें। जीवन साथी आपके साथ किसी यात्रा पर जाने का प्रयास करेगा। आपको उनका साथ देना चाहिए और अपने रिश्ते को मधुर बनाने के लिए कोई छोटी यात्रा अवश्य करनी चाहिए।

पारिवारिक
पारिवारिक जीवन की बात की जाए तो महीने का पूर्वार्ध काफी चुनौतीपूर्ण रहने वाला है क्योंकि आपके चतुर्थ भाव में सूर्य अवस्थित है, जिस पर शनि की दृष्टि भी है। ऐसी स्थिति परिवार में कलह अथवा क्लेश को जन्म दे सकती है और परिवार के लोगों का स्वास्थ्य भी पीड़ित हो सकता है। इसके बाद महीने के उत्तरार्ध में जब सूर्य का गोचर पंचम भाव में होगा तो आपके पारिवारिक जीवन में कुछ सुकून आएगा और आप जिन परिजनों के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित थे, उनकी बीमारी में भी अब कमी आएगी क्योंकि उनका स्वास्थ्य सुधारने लगेगा। बुध का गोचर चतुर्थ से पंचम भाव में होने से पारिवारिक जीवन की स्थितियां बेहतर बनेंगी। वहीं शुक्र की तृतीय भाव में राहु के साथ उपस्थिति के परिणाम स्वरूप कुटुंब के लोग आपके साथ मिलकर किसी यात्रा पर जा सकते हैं। इस दौरान काफी यात्राएं हो सकती हैं और तीर्थाटन भी संभव है तथा आपके भाई बहनों को भी आपकी मदद की आवश्यकता पड़ सकती है।

उपाय
मेष राशि वालों को इस महीने उपाय के तौर पर मंगल देव की उपासना करनी चाहिए और संभव हो तो मंगलवार अथवा बृहस्पतिवार का व्रत अवश्य रखें तथा उत्तम गुणवत्ता का मूँगा रत्न भी आप 16 अगस्त के बाद पहन सकते हैं। इसके अतिरिक्त बुधवार के दिन गौ माता को अपने हाथों से 1 दिन पहले से पानी में भिगोकर रखी गई साबुत मूंग दाल खिलाएं और उनकी सेवा करें। साथ ही साथ छोटी कन्याओं के पाँव छूकर आशीर्वाद लें और घर की महिलाओं का सम्मान करें।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar