National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

बजरंग बली के जयकारे से भाजपा धराशायी

दिल्ली विधान सभा चुनाव में राम पर हनुमान भारी पड़े। भाजपा को आप ने उसी के हथियार से करारी शिकस्त दी। भाजपा का एक लोकप्रिय नारा जय श्रीराम का उद्घोष है जिनका प्रयोग यह पार्टी चुनावों सहित लगभग हर प्रदर्शन और सभाओं में लगाती रहती है। जय श्रीराम से लोगों में जोश का संचार तो होता ही है साथ ही धार्मिक भावनाएं भी मुखर होती है। दिल्ली विधानसभा चुनाव में भी जय श्रीराम का जयकारा लगाने वाली भाजपा की विशाल सेना को करारी हार का सामना करना पड़ा है, जबकि चुनाव में हनुमानजी का आशीर्वाद लेकर रण में उतरे अरविंद केजरीवाल एक बार फिर इतिहास रचने में कामयाब रहे हैं। आम आदमी पार्टी ने भाजपा के इस नारे का जवाब जय बजरंग बली के जयकारे से दिया और देखते देखते यह हिट हो गया और भाजपा को बहुत बुरी और शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा। एक आप नेता के अनुसार एक स्थान पर भाजपा के समर्थक जय श्रीराम के नारों से आसमान गूंजा रहे थे। पुलिस वाले भी उन्हीं का साथ दे रहे थे और आप कार्यकर्ताओं को धकिया रहे थे। ऐसे गरमा गरम माहौल में अचानक आप कार्यकर्ताओं ने जय श्रीराम का जवाब जय बजरंग बली से देना शुरू किया तो आप कार्यकर्ताओं में जोश भर गया और पुलिस वालों ने भी चुप्पी धारण करली। इस तरह अन्ना आंदोलन से निकली केजरीवाल की पार्टी ने भाजपा का चुनाव में सफलता पूर्वक सामना किया और वे दिल्ली की सत्ता पर लगातार तीसरी बार काबिज होने वाले दूसरे मुख्यमंत्री बने ।
भाजपा के पास दिल्ली चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, यूपी के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ सहित चार-चार मुख्यमंत्री, पूर्व मुख्यमंत्री, दर्जनों केंद्रीय मंत्री और 240 सांसदों की विशालकाय फौज थी तो अरविंद केजरीवाल के पास अपनी छोटी सी टीम और दिल्ली की जनता के लिए किए गए अपने कामों का ही सहारा था। उन्होंने साफतौर पर कहा यदि उनकी सरकार ने काम नहीं किया तो जनता उनकी पार्टी को वोट नहीं दे।
भाजपा की चुनावी रणनीति से निपटने के लिए अरविन्द केजरीवाल बजरंग बली की शरण में पहुंच गए। तुलसी दास कृत रामायण जैसे पवित्र धार्मिक ग्रंथ में कहा गया है कि हनुमान जी भगवान श्रीराम के सबसे बड़े भक्त थे। रामायण में बताया गया है कि भगवान राम ने खुद कहा था कि वह अपने परम भक्त हनुमान की भक्ति करने वालों का सदैव साथ देंगे। इसी का फायदा केजरीवाल ने उठाया और चुनाव में हनुमान भक्तों की टोली दिग्गजों की टीम पर भारी पड़ी और ऐतिहासिक जीत दर्ज करने में कामयाब रही।
दिल्ली विधान सभा की 70 में से 62 सीटों पर जीत के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने देश की दूसरी पार्टियों को संदेश भी दिया है। इस प्रचंड जीत के वैसे तो कई फैक्टर हैं, लेकिन इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि भाजपा जैसी भारी भरकम पार्टी और लोकप्रिय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी से लोहा लेने में हनुमान जी ने केजरीवाल के लिए काफी हद तक राह आसान कर दी। आम आदमी पार्टी और केजरीवाल ने अपने प्रचार की शुरुआत पांच साल किए गए अपने पानी, बिजली ,स्वास्थ्य और शिक्षा के कामों के प्रचार के साथ शुरू की थी। भाजपा की कमान सँभालने वाले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अगुआई में भाजपा अपने पुराने चुनावी हथियार राष्ट्रवाद, हिंदुत्व , पाकिस्तान और देशभक्ति के पारंपरिक मुद्दों को केंद्र में रखकर मैदान में उतरी। अपने इन एजेंडे से जनता को जोड़ने के लिए भाजपा ने शाहीन बाग जैसे मुद्दे को पूरी तरीके से उछाला। भाजपा के पूरे प्रचार में यह बताने की कोशिश की गई कि अगर केजरीवाल की पार्टी दोबारा सत्ता में आई तो दिल्ली में फिर से मुगल काल आ जाएगा। आतंकवाद स्थापित हो जायेगा। इसलिए हिंदुओं को एकजुट होकर भाजपा को वोट देना चाहिए ताकि राम राज्य स्थापित हो सके। केजरीवाल ने चुनाव प्रचार के दौरान हुनमान जी के नाम का सहारा लिया। वे टीवी चैनलों पर हनुमान चालीसा भी पढ़ते दिखे। भाजपा की इसी चुनावी रणनीति का सामना केजरीवाल ने उसी के हथियार से दिया और आखिर में हनुमानजी ने केजरीवाल की सुनी और भाजपा का सूपड़ा एक बार फिर साफ हो गया। चुनाव परिणाम आने के बाद भी केजरीवाल ने अपने पहले संबोधन में हनुमान जी का नाम लिया और सबसे पहले कनॉट प्लेस के उसी हनुमान मंदिर में पूजा करने पहुंच गए। गौरतलब है दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने चुनाव के दौरान कनॉट प्लेस स्थित प्राचीन हनुमान मंदिर जाकर पूजा की थी। इसे लेकर भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने तंज कसा है और कहा केजरीवाल ने मंदिर जाकर हनुमान जी को अशुद्ध किया। भाजपा ने अरविंद केजरीवाल की हनुमान भक्ति पर सवाल उठाया, लेकिन केजरीवाल ने इस मुद्दे को भी अपने पक्ष में मोड़ लिया। केजरीवाल ने मंगलवार के दिन चुनाव जीता इसलिए उनके भाषण के दौरान हनुमान जी का जयकारा भी लगना स्वाभाविक था।

बाल मुकुन्द ओझा
वरिष्ठ लेखक एवं पत्रकार
डी .32, माॅडल टाउन, मालवीय नगर, जयपुर
मो.- 8949519406

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar