न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

मतदान केन्द्रों पर मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराई जाए : मण्डलायुक्त

गन्ना बकाया का भुगतान न करने वाली मिलों के विरूद्ध कार्यवाही की जाए

सहारनपुर। मण्डलायुक्त श्री ए0वी0राजमौलि ने पंचायत चुनाव में महिला कर्मियों की समुचित सुरक्षा और मतदान केन्द्रों पर शौचालयों, पानी, बिजली सहित सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराई जाए। उन्होंने कहा कि अपराधिक छवि वाले उम्मीदवारों के विरूद्ध निरोधात्मक कार्यवाही में और अधिक तेजी लाई जाए। उन्होंने कहा कि कोविड-19 की गाइडलाईन का सख्ती से पालन सुनिशिचत कराया जाए। बिना माॅस्क और सोशल डिस्टेसिंग की अनदेखी करने वालों के विरूद्ध भी कार्यवाही की जाएं। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि गेहूँ क्रय केन्द्रों से कोई भी किसान बिना गेहूँ दिये वापिस न भेजा जाए। गेहूँ क्रय केन्द्रों पर कोविड-19 का पालन करने के साथ ही किसानों को समुचित व्यवस्था उपलब्ध कराई जाए। उन्होंने जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि गन्ना किसानों के बकाया का तत्काल भुगतान कराया जाना सुनिशिचत करें। श्री ए0वी0राजमौलि आज यहां पंचायत, कोविड-19, गेहूँ खरीद और गन्ना मूल्य बकाया भुगतान के कार्यों की वर्चुअल समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार किसानों के हितों के लिए कृतसंकल्प है और किसानों की फसल का उचित दाम मिलें इस दिशा में कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि मण्डल में लगभग 175 गेहँू क्रय केन्द्र संचालित है। आवश्यकता पड़ने पर और अधिक गेहूँ क्रय केन्द्रों की व्यवस्था की जा सकती है। उन्होंने कहा कि किसी भी गेहूँ क्रय केन्द्र पर किसानों की अनदेखी और अनावश्यक रूप से परेशान न किया जाए। उन्होंने जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि गेहूँ क्रय केन्द्रों पर नियमित रूप से स्वयं अथवा अपने अधीनस्थ अधिकारियों के माध्यम से भ्रमण करें। उन्होंने कहा कि अगर गेहूँ खरीद में कही बिचैलियों की भागीदारी होती है तो ऐसे लोगों को चिन्हित कर प्रभावी कार्यवाही की जायें। उन्होंने कहा कि सभी क्रय केन्द्रों पर कोविड-19 के नियमों का सख्ती से पालन सुनिश्चित किया जाए। किसानों को गेहूँ क्रय केन्द्रों पर बैठने और शुद्ध पेयजल की व्यवस्था के साथ ही माॅस्क लगाना और सोशल डिस्टेसिंग का भी पालन कराया जाए। उन्होंने कहा कि क्रय केन्द्र व्यवस्थापक यह भी सुनिश्चित करें कि किसी भी किसाना को अनावश्यक रूप से नहीं रोके रखा जाए। उन्होंने कहा कि गन्ना बकाया का भुगतान न करने वाली चीनी मिलों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जाए। किसानों के हितों से कोई समझौता न किया जाए।
श्री ए0वी0राजमौलि ने कहा कि मतदान कार्य में लगी महिलाओं की सुरक्षा के पुख्ता इंतेजाम सुनिश्चित किये जाएं। उन्होने कहा कि सभी मतदान स्थलों पर पानी, प्रकाश, विद्युत, शौचालयों, साफ-सफाई एवं सुरक्षा की शत-प्रतिशत व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होने कहा कि मतदान की समाप्ति के बाद रात्रि में महिलाओं को गन्तव्य स्थलों तक पंहुचाने के लिए सुरक्षा व साधन का इंतेजाम किया जाए। महिला कार्मिकों को किसी भी प्रकार की समस्या न आने पाए। उन्होंने कहा कि मतदान केन्द्रों पर सभी जरूरी कदम उठाएं जाए। मतदान केन्द्रों के बाहर कोविड हेल्प डेस्क बनाने के साथ ही हर मतदाता का थर्मल स्केनिंग कराई जाए।
पुलिस उपमहानिरीक्षक श्री उपेन्द्र अग्रवाल ने कहा कि पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी आपसी समन्वय से कार्य करें। उन्होंने कहा कि अपराधियों के विरूद्ध कार्यवाही में कोई ढील न दी जाए। उन्होंने कहा कि हर बूथ पर मानक के अनुरूप पुलिस बल तैनात किया जायेंगा। उन्होंने कहा कि निरोधात्मक कार्यवाही में और तेजी लाई जाए। पंचायत चुनाव में गड़बड़ी की आशंका वाले लोगों को भी चिन्हित कर उनके विरूद्ध सुसंगत धाराओं में प्रभावी कार्यवाही की जाए।
जिलाधिकारी श्री अखिलेश सिंह ने बैठक में बताया कि पंचायत चुनाव को लेकर जनपद में सभी तैयारियों पूरी कर ली गई है। संवदेनशील और अतिसंवेदनशील मतदान केन्द्रों पर पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था के लिए पुलिस बल की तैनाती की जायेंगी। प्रशासनिक और पुलिस अधिकारी संयुक्त रूप में ग्रामीणों के साथ बैठक कर रहे है। उन्होंने बताया कि भ्रमण के दौरान ग्रामीणों को कोविड-19 के प्रति जागरूक करने के साथ ही माॅस्क और समाजिक दूरी बनाये रखने के सम्बन्ध में भी जानकारी दी जा रही है। उन्होंने बताया कि अपराधिक छवि वाले उम्मीदवारों पर पुलिस की पैनी निगाह है।
श्री ए0वी0राजमौलि ने जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि अपने-अपने जनपदों में चिन्हित तालाबों को खुदवाकर उनमें जल भरवाने की कार्यवाही में भी तेजी लाई जाए। उन्होंने कहा कि सभी को शुद्ध पेयजल मिलें इसके लिए समुचित व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि सभी जलाश्यों की सूची तैयार कर उनकी जी0आई0एस0मैपिंग कराइ जाए। उन्होंने कहा कि मृदा स्तर पर जल की उपलब्धता के सम्बन्ध में वैज्ञानिक ढ़ंग से कार्ययोजना बनाकर जल का संरक्षण कराया जाए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि सभी ग्राम पंचायतों में जी0आई0एस0 आधारित जल संग्रहण विकास योजनाएं बनाई जाए।
बैठक में अपर आयुक्त (प्रशासन) श्री डी.पी.सिंह, जिलाधिकारी सहारनपुर श्री अखिलेश सिंह, मुजफ्फरनगर श्रीमती सेल्वा कुमारी जे.,शामली श्रीमती जसजीत कौर, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सहारनपुर डाॅ. एस चनप्पा, पुलिस अधीक्षक शामली सुकिर्ति माधव, मुख्य विकास अधिकारी प्रणय सिंह, आर0एफ0सी0 सहित स्वास्थ्य, खाद्ध विपणन, पंचायत विभाग सहित सभी विभागों के मण्डलीय अधिकारी मौजूद थे।

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar