National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

Category: हेल्थ

Total 125 Posts

युवा भी हो रहे है रीढ़ के विकारों से ग्रस्त

विजय न्यूज़ नेटवर्क आज महानगरों की अरामपसंद जीवनशैली, गलत रहन-सहन, शारीरिक श्रम की कमी, बैठने व सोने के बेतुके ढंग, भीड़ भरी सड़कों पर अधिक समय तक गाड़ी चलाने आदि

हृदय रोगियों को कोरोना वायरस से 11.6 गुना ज्यादा खतरा

विजय न्यूज़ नेटवर्क नई दिल्ली। कोरोना वायरस पूरी दुनिया में तेजी से फैल रहा है। ऐसे में जो लोग पहले से किसी बीमारी से ग्रस्त हैं, उनमें nCOVID19 का खतरा

अब रोकना ही होगा टीबी की बीमारी को ?

24 मार्च विश्व क्षयरोग दिवस पर विशेष टीबी एक संक्रामक बीमारी है। जो संक्रमित लोगों के खांसने, छींकने या थूकने से फैलती है। आमतौर पर यह फेफड़ों को प्रभावित करती

दिल की समस्या बढ़ रही है उच्च रक्तचाप से

विजय न्यूज़ नेटवर्क हाइपरटेंशन या उच्च रक्तचाप शहरी जीवन की सामान्य बीमारियों में से एक हो गई है। आज यदि अपने आस-पास नजर दौडाएं तो आपको कोई न कोई एक

समय रहते इसके लक्षणों की पहचान करके जल्द से जल्द डॉक्टर से परामर्श लेना बहुत जरूरी

हर आयु और वर्ग के लोग रीढ़ की हड्डी के टीबी का शिकार हो सकते हैं विजय न्यूज़ नेटवर्क पीठ दर्द के बहुत सारे मामले जब जांच के लिए पहुंचते

नए कोरोना वायरस के खिलाफ बुनियादी सुरक्षात्मक उपाय

WHO की वेबसाइट पर और अपने राष्ट्रीय और स्थानीय सार्वजनिक स्वास्थ्य प्राधिकरण के माध्यम से उपलब्ध COVID -19 प्रकोप की नवीनतम जानकारी से अवगत रहें। COVID-19 अभी भी चीन में

जीरो ऑयल भोजन मोटापा कम करने में सहायक

विजय न्यूज़ नेटवर्क जीवन को जीने के लिए क्या जरूरी है-भोजन। लेकिन क्या ऐसा होता है कि हमें भोजन के नाम पर कुछ भी दे दिया जाए तो हम खा

पुरुषों की तुलना में महिलाओं को अधिक जोड़ो का दर्द

विजय न्यूज़ नेटवर्क जोड़ों का दर्द एक ऐसी बेचौनी होती है जो किसी भी जोड़ में हो सकती है। जोड़ ऐसा बिंदु जहां दो या अधिक हड्डियां मिलती हैं। जोड़ों

जरा संभल कर होली खेले कहीं रंग में भंग न हो जाएं

विजय न्यूज़ नेटवर्क अक्सर यह देखा गया है कि होली के बाद अस्पतालों में त्वचा और आंखों की समस्याओं से ग्रस्त मरीजों की भीड़ लग जाती है। आंखें शरीर का

होली खेले जरा संभल कर रंग में भंग न हो जाये

उमेश कुमार सिंह। .विजय न्यूज़ नेटवर्क अधिकांश देखा गया है कि होली के बाद अस्पतालों में स्किन और आंख की समस्याओं से ग्रस्त मरीजों की भीड़ लग जाती है। आंख

पीरियड्स में ‘एंडोमेट्रिओसिस‘ को हल्के में न लें

पीरियड में इंडोमीट्रिओसिस से होता है असहनीय दर्द मार्च में इंडोमीट्रिओसिस जागरूकता माह मनाया जाता है इंडोमीट्रिओसिस के चलते महावारी के दौरान महिलाएं असहनीय पीड़ा को सहती हैं। ये समस्या

हृदय रोगों की रोकथाम में कारगर है ‘एडूवेक्सीन’ : डॉ. छज्जर

विजय न्यूज़ नेटवर्क भारत में, पोलियो और स्मॉल पॉक्स (चेचक) को पहले ही खत्म किया जा चुका है, वहीं डॉक्टर बिमल छज्जर का मानना है कि वेक्सीन की मदद से

लो बैक पेन का आधुनिक इलाज

आज कल अधिकांश लोगों में लो बैक पैन यानी कमर दर्द की शिकायत बड़ी आम हो चली है. विशेषज्ञ इसके कई कारण बता रहें हैं. लेकिन एक बड़ा कारण आज

रखें आखों के पर्दो का भी खास ख्याल

अनमोल आंखों के लिए थोड़ी सावधानी और थोड़ी देखभाल बहुत जरूरी है। आखिर आंखें हैं तो दुनिया की तमाम खूबसूरती के हमारे लिए मायने है। यह जानते हुए भी अक्सर

कोलेस्ट्रॉल में वृद्धि से भी बढ़ जाता है दिल की बीमारियों का खतरा

विजय न्यूज़ ब्यूरो 50 वर्षों से भी अधिक समय में आयुविज्ञान के क्षेत्र में इस बात को लेकर अनुसंधान हो रहे थे कि दिल की इलाज करने के लिए ऐसा

मोटापा, बीमारी नहीं बीमारियों का जनक

शाहिद नकवी मोटापा एक मेडिकल कंडीशन है,जिसमें शरीर पर वसा की परतें इतनी मात्रा में जम जाती हैं कि ये स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो जाती हैं। आज दुनिया की

ऑस्टियोआर्थराइटिस  : मिनिमली इनवेसिव सर्जरी से इलाज

ऑस्टियोआर्थराइटिस रूमेटॉयड की दूसरी सबसे आम समस्या है, जो भारत में 40 प्रतिशत आबादी को अपना शिकार बनाए हुए है। यह एक प्रकार की गठिया (अर्थराइटिस) की समस्या है, जो

उच्च रक्तचाप हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण और उपचार

वर्तमान समय मे भाग- दौड़ के व्यस्त जीवन मे मानसिक तनाव एवं अनियमित खान – पान उच्च रक्तचाप की मुख्य वजह है। उच्च रक्तचाप की समस्या आज आम बात हो

हृदय रोगों की रोकथाम में कारगर है ‘एडूवेक्सीन’ : डॉ. छज्जर

भारत में, पोलियो और स्मॉल पॉक्स (चेचक) को पहले ही खत्म किया जा चुका है, वहीं डॉक्टर बिमल छज्जर का मानना है कि वेक्सीन की मदद से अब दिल की

गूंजेगी किलकारी: लाइलाज नहीं है बांझपन

उमेश कुमार सिंह। विजय न्यूज़ किसी महिला के लिए सृष्टि की सबसे बड़ी नियामत है, उसका मां बनना। अगर किसी भी कारणवश ऐसा नहीं होता है तो उसे बांझ की

सियाटिका के दर्द का आतंक अब कम हुआ

हम सभी वैसे तो कई तरह के दर्द के शिकार रहा करते हैं लेकिन फिलहाल मानव शरीर से जुड़े दर्द की बात हो रही है। जब कभी भी शरीर के