न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

Category: रामविलास जांगिड़

Total 79 Posts

ऐसे बना बंदर कोरोना विशेषज्ञ

बाहर चारों और कोरोना छलांग लगा रहा था। नंदनवन अपार्टमेंट में एक बंदर कोरोना के सरकारी आंकड़ों की तरह गुलांटी मारा करता। वह लोगों को सरकारी कोरोना की तरह दांत

चीख-चीख कर चीन पर हमला

सूक्ष्मदर्शी से भी दिखाई न देने वाले चीनी वायरस ने पूरी दुनिया को अपनी औकात दिखा दी। चीन सूरमा बनकर घूम रहा है और बाकी देश औंधे पड़े धूल चाट

कृपया राजनीति करते रहें!

आदरणीय! हे सियासत बाजों! मुझ अभागी जनता का सादर प्रणाम! इस संकट की घड़ी में हम एक देश में अनेकता की तरह व्यवहार करते नजर आ रहे हैं। यह बहुत

कोरोना कालीन प्रबंधन- दो दृश्य 

1. अदृश्य कोरोना ने भारी-भरकम दुकान बंद करवा दी है। डबल शटर लगा हुआ है। सूरज उगे कोई एक घंटा बीत गया। आटे-मिर्च की तलाश में एक ग्राहक भटक रहा

सत्यवीर सतीशा का भ्रष्टाचार प्रबंधन!

गांधी सड़क स्थित संतनगर के प्रशासनिक कार्यालय में नियुक्त युवा, तेज-तर्रार, अकर्मठ-अशालीन प्रांतीय निरीक्षक सत्यवीर सतीशा ने गर्दभन्यूज से वार्ता करते हुए, भ्रष्टाचार प्रबंधन के बारे में जानकारी दी। सत्यवीर

यमराज अब प्राण लेवते हारे!

जीवन सारा सिसक रहा है, देखो नेता चहक रहा है। नहीं खाली कोई शमशाना, भर गए सब कब्रिस्ताना। जनकवि कोरोनादास कहते हैं कि सारा जीवन ही सिसक रहा है। हर

बीवी बॉस सदा डरावे!

मैं डरते-डरते कह रहा हूं कि आजकल किसी से नहीं डरता हूं। मैं न कोरोना से डरता हूं, न किसी नेता से। न किसी भूत से डरता हूं और न

सांच बराबर पक्का पाप!

सियासी मार्केट में झूठ ही एकमात्र कारोबार है। झूठ ही सबसे बड़ा धर्म है। राजनीति को झूठनीति ही कहनी चाहिए। हर एक राजनीतिज्ञ महान किस्म का झूठाधिपति ही होता है।

सूर्य के प्रकाश की बिजली फिटिंग!

जिसने मेरे सूर्य के प्रकाश बिजली मिस्त्री को नहीं देखा, समझ लें उसने दुनिया में कुछ भी नहीं देखा। सूर्य का साक्षात प्रकाश ऐसी बिजली फिटिंग करता जैसे कोई नेता

अथ जालीदास फैंकबुक कथाया

कवि जालीदास ने अपना जाल फेकबुक उर्फ फैंकबुक पर फेंका और उसमें कई दोहे फंस कर आ गए। तत्पश्चात टि्वटराने से ये समस्त चराचर में छा गए। फटाक से कवि

तारीफों के पुल बांधने का वक्त!

आज मन कर रहा है कि मैं तारीफों के पुल बांध दूं। बहुत दिन हो गए किसी की तारीफों के पुल नहीं बांधे! अब वक्त आ गया है तारीफों के

मास्क मोरी ठुड्ढी पर सोहे!

कोरोना के खात्मे लिए मैंने खोजबीन कर ली है। मैं जनता के हित के लिए यह रिसर्च रिपोर्ट पब्लिश कर रहा हूं। इस रिपोर्ट पर अमल करने पर कोरोना हंड्रेड

उड़ने दे सूचकांक का गुलाल!

मुझे जीडीपी उर्फ ‘जबरदस्त डरावन पड़ोसी’ अर्थात सकल घरेलू उत्पाद के रूप में पड़ोसियों की डरावनी शकल ही दिखाई देती है। ये मुझे किसी न किसी उत्पाद के खरीदार ही

व्यंग : एजेंडा वही जो वोट दिलाए

वे पार्टी मुख्यालय में गए । उन्होंने गाड़ी को सीधे फव्वारे के नीचे स्नान करने के लिए खड़ा कर दिया । बाहर तेज गर्मी थी । अंदर एयर कंडीशनर में

एमए इन उपेक्षित व्यवहारगत परिवर्तन

पिछले कुछ सालों से मेरे लिए कोई काम नहीं है। अब मेरा एक ही काम है अपने परिचितों से आँखें चुराना। देखते ही कन्नी काट कर इधर-उधर छुप जाना। कारण

खबरिया चैनल की जबरिया न्यूज़ें

न्यूज़ चैनल वाले भाई साहब को हम सब दर्शकों का घनघोर नमस्ते! एंकर भैनजी आप को साष्टांग प्रणाम! आप इन दिनों सुशांत केस को सुलझाने में रात-दिन लगे पड़े हैं।

आत्मनिर्भर बंदर!

बंदरों के मामले में जितना मैं आत्मनिर्भर था उतना ही मेरा दोस्त चंद्रप्रकाश! शुरू से ही हम दोनों बंदरों के बहुत शौकीन थे। लोगों को बंदर परेशानी के रूप में

किचन कैबिनेट में कॉकरोच

अमेरिका की किचन कैबिनेट में कॉकरोच आने पर अमेरिका के राष्ट्रपति ने वर्ल्ड प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई। किचन में कॉकरोच आ जाने पर भारी नाराजगी जताई। इसका कारण रूस को बताया

व्यंग्य रचना: घनघोर आजाद शुभकामनाएं!

मोबाइल में शुभकामनाएं कीड़ों की तरह बिलबिला रही है। जैसे ही मोबाइल खोलता हूं शुभकामनाएं मकोड़ों-चीटियों की तरह बाहर निकल-निकल कर बह रही है। ले लो आजादी की शुभकामनाएं! इस

Skip to toolbar