National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

Category: रीतेन्द्र कंवर शेखावत

Total 6 Posts

खेलों से दूर होता बचपन

बचपन बहुत खूबसूरत होता है। एक यही ऐसा विषय है, जिस पर चर्चा करने या इसे याद करने मात्र से ही ज्यादातर चेहरे खिल जाते हैं। बचपन नाम है –

अंतिम दस्तखत का दर्द

एक शाम को काले घने बादल छाए हुए थे और ठंडी हवाएं चल रही थी । रामबाबू आंखे बंद करके बहती हुई इस ठण्डी हवा को अपने चेहरे पर महसूस

देश में बढ़ती बेरोजगारी का दंश

देश में बढ़ती बेरोजगारी गंभीर चिंता का विषय है। हालात इसलिए भी विस्फोटक हैं, क्योंकि उच्च शिक्षित युवाओं की तादाद में तेजी से इजाफा हो रहा है। लेकिन नौकरियां नहीं

कैसे हो वन्य जीवों का सरंक्षण

दुनिया में विभिन्न समुदायों ने अपने ज्ञान , अनुभव व विवेक , लोक सांस्कृतिक परम्पराओं और मूल्यों से ऐसी व्यवस्था को जन्म दिया है जिसके कारण न केवल जंगल बचे

समग्र ग्रामीण विकास और चुनोतियाँ

विभिन्न सरकारी विभाग अपने-अपने स्तर पर ग्रामीण विकास के विभिन्न पक्षों पर कार्यरत हैं। ये कार्य प्राय: लक्ष्य-निर्धारित होते हैं और यथासंभव प्रयास होते हैं कि घोषित लक्ष्य की प्राप्ति

कानून का मख़ौल उड़ाती पंचायते

सही मायनों में जातीय मिथकों, सामुदायिक श्रेष्ठता और गोत्र की नई अस्मिता के संरक्षण से देश की सामाजिक-सांस्कृतिक श्रेष्ठता को खतरा पैदा हो रहा है।  आजादी के बाद आशा बंधी थी

Translate »