National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

Category: ललित गर्ग

Total 83 Posts

नरेन्द्र मोदी रूपी रोशनी का भारत 

श्री नरेंद्र मोदी के 70वें जन्म दिवस- 17 सितम्बर 2020 पर विशेष एक संकल्प लाखों संकल्पों का उजाला बांट सकता है यदि दृढ़-संकल्प लेने का साहसिक प्रयत्न कोई शुरु करे।

कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार की चिन्ता

कोरोना महामारी के प्रकोप से निपटने की चुनौतियां लगातार बढ़ रही हैं हर दिन संक्रमण और संक्रमण से होने वाली मौतों के आंकड़े नई ऊंचाई छू रहे हैं। भारत में

महंगा कोरोना इलाज एक त्रासदी

कोरोना महामारी ने भारतीय चिकित्सा क्षेत्र की विसंगतियों एवं दुर्भाग्यपूर्ण स्थितियों की पोल खोल दी है। भले केन्द्र सरकार की जागरूकता एवं जिजीविषा ने जनजीवन में आशा का संचार किया

महंगा कोरोना इलाज एक त्रासदी

कोरोना महामारी ने भारतीय चिकित्सा क्षेत्र की विसंगतियों एवं दुर्भाग्यपूर्ण स्थितियों की पोल खोल दी है। भले केन्द्र सरकार की जागरूकता एवं जिजीविषा ने जनजीवन में आशा का संचार किया

आचार्य विनोबा भावे सर्वोदय की उड़ान: शांति का आह्वान 

आचार्य विनोबा भावे की 126वीं जन्म जयन्ती- 11 सितम्बर, 2020  दिव्य कर्तव्य, मानवतावादी सोच, सबके उदय की कामना, चिन्मयी पुरुषार्थ और तेजोमय शौर्य से मानव-मानव की चेतना को झंकृत करने

हिन्दी की प्रासंगिकता एवं महत्ता समझें

सशक्त एवं स्वतंत्र भारत के निर्माण की शुरूआत कहां से हो? इसी बुनियादी सवाल पर नई शिक्षा नीति में सबसे ज्यादा महत्व एवं बल दिया गया है। भारतीय संस्कृति एवं

हर पात में जस नाम की सम्मोहित झंकार

हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत का दुनिया में विशिष्ट स्थान है, क्योंकि यह सत्यं, शिवं और सौन्दर्य की युगपत् उपासना की सिद्ध एवं चमत्कारी अभिव्यक्ति है। हमने इतिहास में पढ़ा है कि

शुभता एवं श्रेष्ठता के सृजक हैं गणेशजी 

गणेश चतुर्थी – 22 अगस्त, 2020 पर विशेष गणेश चतुर्थी यानी सिद्धि विनायक भगवान गणेश का जन्मोत्सव। दरअसल गणेश सुख-समृद्धि, रिद्धि-सिद्धि, वैभव, आनन्द, ज्ञान एवं शुभता के अधिष्ठाता देव हैं।

कोरोनारूपी अंधेरी सुरंगों से बाहर निकलने के रास्ते

कोरोना महाव्याधि एवं कहर के दौरान हर इंसान सुख, स्वास्थ्य, जीवन-सुरक्षा और शांति की खोज में हैं और पता लगाना चाहता है कि सुखी, स्वास्थ्य, सुरक्षा और शांति है कहां?

कैसे रुकेगा हिंसक एवं धार्मिक उन्माद

बैंगलोर में फेस बुक पर एक विवादास्पद पोस्ट के बाद एक धर्म विशेष के उपद्रवी तत्वों ने जो हिंसक तांडव किया और उसी धर्म के कुछ युवकों ने वीरतापूर्वक एक

यही है आजाद भारत की वास्तविक इबारत

स्वतंत्रता दिवस-15 अगस्त, 2020 पर विशेष एक और आजादी का जश्न सामने हैं, जिसमें कुछ कर गुजरने की तमन्ना भी है तो अब तक कुछ न कर पाने की बेचैनी

क्रांति एवं शांति का समन्वय थे योगी अरविन्द

महर्षि अरविन्द जन्म जयन्ती- 15 अगस्त 2020 पर विशेष हमारा प्रेम, हमारी आजादी, हमारी संवदेनाएं, हमारी आकांक्षाएं, हमारे सपने, हमारा जीवन सबकुछ जब दांव पर लगा था तब एक हवा

श्रीकृष्ण मोहिनी मूरत के बहुआयामी नायक

श्रीकृष्ण का चरित्र अत्यन्त दिव्य, अलौकिक एवं विलक्षण है और उनका जन्मोत्सव का पर्व उससे भी अधिक दिव्य एवं विलक्षण है। श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव-जन्माष्टमी पर हमें उनसे प्रेरणा लेकर जीवन

आर्थिक अंधेरों के बीच उम्मीद के उजाले

कोरोना महामारी के कारण न केवल भारत बल्कि दुनिया की अर्थव्यवस्था डांवाडोल हुई है।   भारत में लॉकडाउन के बाद अर्थव्यवस्था की स्थिति पहले से ज्यादा बिगड़ी है। छोटे व्यापारियों

संतुलित आर्थिक सोच पर मंथन जरूरी

कोरोना के प्रकोप से जूझ रही दुनिया के लिए सबसे बड़ा खतरा यह महामहारी नहीं होकर असंतुलित एवं भौतिकवादी आर्थिक मानसिकता है। हर किसी के मन में उछाल मार रही

लालजी टंडन जुझारू एवं जीवट वाले नेता थे

उत्तरप्रदेश की राजनीति के शीर्ष व्यक्तित्व एवं मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का 85 वर्ष की उम्र में मंगलवार सुबह 5.35 बजे निधन हो गया, उनका मेदांता लखनऊ में कई

कोरोना संकट ने बदलती जीवन की सोच

कोरोना वायरस से उपजे संकट ने मानव जीवन को गहरे घाव दिये हैं। स्वास्थ्य संकट, भय, निराशा, अनिष्ट की आशंका जैसी अनेक मानसिक समस्याएं-परिस्थितियां उभरी हुई हैं। ऐसे नाजुक क्षणों

राजस्थान में भाजपा का उम्मीदभरा चेहरा

राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं उपमुख्यमंत्री सचिन पायलेट के बीच मचे सियासी घमासान ने लोकतंत्र की बुनियाद को गहरा आघात पहुंचाया है। इन दोनों के बीच के संघर्ष ने

नये सुख की सृजना में जुटी मोदी नीतियां

कोरोना कोरोना वायरस से उपजे संकट ने भारत को गहरे घाव दिये हैं। स्वास्थ्य संकट, सीमा विवाद, बेरोजगारी, व्यापार की अस्तव्यस्तता, अनियंत्रित अर्थव्यवस्था जैसी अनेक समस्याएं-परिस्थितियां उभरी हुई है, फिर-फिर

यस बैंक का नो बैंक बन जाना!

निजी क्षेत्र के ‘यस बैंक’ का कंगाली की हालत में पहुंचना एवं इस सन्दर्भ में सरकार द्वारा उठाये गये कदम दोंनो ही स्थितियां प्रश्नों के घेरे में हैं। यह कैसा

शिव हैं संसार और संन्यास के समन्वय

भगवान शिव आदिदेव है, देवों के देव है, महादेव हैं। सभी देवताओं में वे सर्वोच्च हैं, महानतम हैं, दुःखों को हरने वाले हैं। वे कल्याणकारी हैं तो संहारकर्ता भी हैं।

Skip to toolbar