National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

Category: अन्य लेख

Total 131 Posts

इंसानियत का आईना बन रहे हैं सेवा भावी लोग

समाज के मानवीय गुणों से भरे लोगों को और उनके प्रणम्य कार्यो को इस संकट की घड़ी में हम सकारात्मकता पूर्वक ले जिससे हम निराश न हो। कोरोना महामारी ने

अप्रत्याशित संकटों के अनुभवों से भावी सीख

अभावग्रस्त और संकटकालीन जीवन का अनुभव मानव जाति को भावी आपदाओं और उनसे उत्पन आनुषंगिक परिस्थितियों के कारण और निवारण हेतु लड़ाई लड़ने का हौसला अवश्य पैदा करता है। करोना

कोरोना ने विज्ञान को कटघरे में खड़ा किया

कभी कभी दुनिया कुछ ऐसी बीमारियां जन्म ले लेती है जिनका जवाब डॉक्टर तो दूर विज्ञान के पास भी नही होता । कुछ ऐसा ही वर्तमान में नजर आ रहा

हास्य-व्यंग्य : कोरोना भगाओ यज्ञ का आयोजन

फिलहाल हम लोग कोरोना को भगाने के लिए अपनी कालोनी में आध्यात्मिक प्रयास बहुत तेज कर दिए हैं। पूजा-पाठ निरन्तर सबके घरों में दिन-रात हो रहा है। घर-घर से चंदा

जनता कर्फ्यू एक अभिनव शब्द या प्रयोग

करोना जैसे वायरस से उत्पन्न संकट की घड़ी में “जनता कर्फ्यू” एक अभिनव व अदभुत प्रयोग सिद्ध होता नजर आया।देश के प्रधान मंत्री द्वारा 22मार्च को एक दिन स्वयं द्वारा

लोक जीवन में रचा बसा विक्रमी संवत्सर

चैत्र शुक्ल पक्ष प्रतिपदा अर्थात् वर्ष प्रतिपदा, यह तिथि हिन्दू काल गणनानुसार नव वर्ष के प्रारम्भ का शुभ दिन है। 25 मार्च ‘प्रमादी’ नामक विक्रम सम्वत 2077 का प्रथम दिवस

हास्य-व्यंग्य : थाली-शंख बजाओ कोरोना भगाओ

चलो मित्रों ये बहुत अच्छा हुआ कि कोराना भगाने के लिए एक बहुत अच्छा टोटका मिल गया। पूरी दुनिया में जब कोरोना भगाने के लिए हाहाकार मचा हुआ है। हजारों

संकल्पित होकर लॉक डाउन के नियमों का पालन करें

घर पर ही रहे-लक्ष्मण रेखा पार न करें समय आ गया है कुछ कर दिखाने का, स्वयं को सुरक्षित रखते हुए परिवार, समाज और राष्ट्र को सुरक्षित रखने का। कृतसंकल्पित

व्यंग्य : अहिंसावादी रामलुभाया जी और लेखक

जैसा कि आप सभी को यह मालूम ही होगा कि हमारे राष्ट्र पिता महात्मा गांधी जी ने अहिंसा को जीवन में बहुत बड़ा स्थान दिया था। अहिंसा, वास्तव में है

ऐ गौरैया जाने तुम कहां चली गई…?

सर्दी हो या गर्मी, बारिश हो या तूफान, रामलुभाया जी जो कि हमारे लंगोटिया हैं, उनकी एक आदत बहुत अच्छी है, वे रोजाना पक्षियों को दाना चुग्गा जरूर डालते हैं।

हास्य-व्यंग्य : बुजुर्ग हकीम ने ईजाद की कोरोना की दवा

एक कस्बाई प्राइवेट बस में अपने गन्तव्य पर जाने के लिए मैं बैठा हूं, बस यात्रियों से फुल है। अब चले, तब चले यही गझिन चिन्ताएं यात्रियों के चेहरों पर

उफ ये क्वॉरेंटाइन….!

आजकल अंग्रेजी का एक शब्द बहुत सुर्खियों में है।आप शायद सुर्खियों में आ रहे इस शब्द को पहली बार सुनेंगे, मेरा मतलब पढ़ेंगे, वह भी तब जब आप मेरे इस

नकली नौकरियां एक चेतावनी

कैसे देश के युवाओं को रेलवे में नौकरी के नाम पर ठगा गया है। इस गिरोह ने पिछले 10 सालों में लगभग 300 लोगों से करोड़ों रुपये की ठगी की

कोरोना वायरस का बढ़ता प्रकोप

मध्य चीन के वुहान शहर में 2019 के मध्य दिसंबर से एक नए किस्म के कोरोना वायरस के संक्रमण की शुरुआत हुई है ।एक अनुमान के अनुसार यह देखा गया

होली के रंगों में समाहित है स्नेह की मिठास

रंगों का त्योहार और वह भी शेखावाटी अंचल के साथ तो बड़े बड़े भी उत्साह व उमंग से सरोबार हो जाते है। होली के रंग-बिरंगे रंगों में प्यार ,स्नेह की

सशक्त महिला सशक्त समाज

महिलाएं आज हर क्षेत्र में पुरुषों के साथ कंधे से कन्धा मिलाकर चल रही है। चाहे शिक्षा का क्षेत्र हो या व्यापार का अथवा देश को चलाने की बात हो

सुशासन और बेदाग छवि से लोकप्रिय हैं नीतीश कुमार

अपने 69वें जन्मदिन के अवसर पर बिहार के लोकप्रिय मुख्यमंत्री को जब पटना के ऐतिहासिक गाँधी मैदान में संबोधित करने का अवसर जद यू कार्य सम्मेलन में मिला तो उन्होंने

ढूंढो-ढूंढो रे नौकरिया दूजा प्रदेश में

बसंत आगमन के साथ ही बिहार की फिजाओं में भी चुनावी रंग चढ़ने लगा है।सभी अपनी अपनी बीन के साथ मैदान में उतरने लगे हैं।लेकिन आज भी विपक्ष को एक

मन से ही जीत हार होती है सुनिश्चित : ए.के. मिश्रा

विजय न्यूज़ नेटवर्क आप में से कई लोगों ने एल्विन टॉफलर द्वारा लिखित ‘फ्यूचर शॉक’ नामक पुस्तक अवश्य पढ़ी होगी. उनके अनुसार हम तेजी से बढ़ते सूचना एवं ज्ञान से

देश विरोधी अराजकता के खिलाफ न्यायपालिका लचर रवैया

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार विरोध-प्रदर्शन के नाम पर प्रदेश में अराजकता का माहौल पैदा करने वालों के साथ सख्ती के साथ पेश आ रही है,यह दिल्ली सहित तमाम राज्यों