न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

Category: अन्य लेख

Total 243 Posts

व्हाट्सएप और प्राइवेसी का उल्लंघन

नई नीति के तहत, व्हाट्सएप पर चैट को प्रबंधित करने के साथ-साथ व्यवसायों को स्टोर करने के लिए फेसबुक द्वारा होस्ट की गई सेवाओं का उपयोग करने का तरीका बदल

महामारी के खिलाफ, महाअभियान का शंखनाद

महामारी कोरोना वायरस पर जीत की तैयारियों में लगे भारत के लिए के लिए खुशखबरी है। 16 जनवरी से प्रस्तावित वैक्सीनेशन के लिए कोविशील्ड वैक्सीन की पहली खेप पुणे स्थित

किसी भी राष्ट्र का युवा खत्म तो राष्ट्र खत्म !

आज हमारे भारत की युवा ऊर्जा अंगड़ाई ले रही है और भारत विश्व में सर्वाधिक युवा जनसंख्या वाला देश आज बन गया है, इसी युवा शक्ति में भारत की ऊर्जा

भारतीयता के प्रेरणापुंज स्वामी विवेकानंद

भारतीय समाज और राष्ट्र के जीवन में नवीन प्राणों का संचार करने वाले स्वामी विवेकानंद का जीवन जितना रोमांचकारी रहा है उतना ही प्रेरणादायक भी। उन्होंने अपने विचारों से अतीत

 युवा दिवस विशेष: विवेकानंद बनने के सूत्र

सफलता प्राप्त करने के लिए स्वामी विवेकानंद के जीवन पहलुओं को जाने  युवा दिवस विशेष: क्रांतिकारी युवा स्वामी विवेकानंद बनने के सूत्र इस बार हम आपके लिए भारत के क्रांतिकारी

दरकता अमेरिकी लोकतंत्र और भारत की उम्मीदें

( भविष्य में भारत- अमेरिका संबंध बिडेन प्रशासन के तहत कैसे रहेंगे ये अभी भविष्य के गर्त में है.भारत को संवेदनशील मुद्दों पर कड़ी बातचीत करने के लिए तैयार रहना

जयंती पर विशेष: विविदिशानंद से कैसे बने स्वामी विवेकानंद?

इतिहास पुरुष स्वामी विवेकानंद जी का खेतड़ी नरेश राजा अजित सिंह से बहुत गहरा रिश्ता था।खेतड़ी राजा अजित सिंह बहुत दयालु,धार्मिक एवं आध्यात्मिक विचारो के शासक थे।राजा अजित सिंह एवं

इस दुनियां में कमजोर रहना ही सबसे बड़ा अपराध है

एक प्रसिद्ध कहावत है कि शक्ति का प्रयोग रोकने के लिए शक्ति का प्रदर्शन जरूरी है,जैसे कि प्रकृति का,मनुष्यो का,रोगों का, शैतानों का आक्रमण अपने ऊपर न हो इन सभी

वैश्विक फलक पर हिंदी का बढ़ता दबदबा

आज विश्व हिंदी दिवस है। आज ही के दिन 1975 में नागपुर में प्रथम विश्व हिंदी सम्मेलन का आयोजन हुआ। विश्व हिंदी दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य संयुक्त राष्ट्र में

बुजुर्ग हमारे वजूद है न कि बोझ

बदलते परिवेश में एकल परिवार बुजुर्गों को घर की दहलीज से दूर कर रहें है. बच्चों को दादी- नानी की कहानी की बजाय पबजी अच्छा लगने लगा है, बुजुर्ग अपने

हमारी आर्थिक तस्वीर को बदल सकते हैं मछली एवं पशु पालन

कृषि के साथ-साथ पशुधन पालन, डेयरी, मत्स्य पालन गतिविधियाँ सभ्यता के प्रारंभ से मानव जीवन का एक अभिन्न अंग हैं. इन गतिविधियों से खाद्य व्यवस्था में सुधार हुआ और पशुधन

” सबसे पहले अपने ऊपर शासन करना सीखो “

देखो जो व्यक्ति अपने क्रोध पर काबू नहीं पाता है ,क्रोध उस व्यक्ति पर ही अक्सर काबू पा लेता है । एक बार तो क्रोधी व्यक्ति को शेख सादी ने

भारत का सबसे बड़ा हित नेपाल में लोकतंत्र की मजबूती में ही है !

हम भारत और नेपाल का सदियों से बेटी और रोटी का रिश्ता रहा है, भारत में या नेपाल में किसी प्रकार की कोई भी घटनाएं घटती है तो कहीं ना

सावित्रीबाई फुले: आधुनिक भारत की प्रथम शिक्षिका

जन्मदिवस पर विशेष लेख भारतवर्ष में 19वीं शताब्दी का उत्तरार्ध शैक्षिक, सामाजिक एवं सांस्कृतिक आंदोलनों एवं समाज में व्याप्त अस्पृश्यता, बाल विवाह, सती प्रथा, कन्या भ्रूण हत्या एवं अशिक्षा के

खुलने लगे स्कूल, हो न जाये भूल 

बिना परीक्षा कॉलेजों और स्कूलों की बड़ी कक्षाओं के छात्रों को ‘कोरोना सर्टिफिकेट’ देना कोई बेहतर कदम नहीं है।  कोरोना काल में वर्चुअल कक्षाओं ने इंटरनेट को भी शिक्षा की

बढ़ती जनसंख्या नियंत्रण हेतु जनसंख्या नियंत्रण कानून की आवश्यकता

दुनिया को 100 करोड़ की जनसंख्या तक पहुंचने के लिए 20 लाख वर्षों का इंतजार करना पड़ा लेकिन यह आश्चर्य का विषय है कि मात्र 220 वर्ष (1804 से 2024

भारत को नए साल में नए सिद्धांत और क्षमता की आवश्यकता है

वर्ष 2020 तक चल रहे कोरोनावायरस महामारी के कारण कई मोर्चों पर एक चुनौतीपूर्ण रहा है। महामारी के बावजूद, कई महत्वपूर्ण शिखर आयोजित किए गए, इन शिखर सम्मेलनों में, भारत

नए वर्ष का नया संकल्प -26 जनवरी गणतंत्र दिवस होंवे कोरोना योद्धाओं को समर्पित

वर्ष 2020 अपनी कई खट्टी मीठी और कड़वी यादों के साथ विदा हो रहा है और हम नए वर्ष 2021 का पलक पाँवड़े बिछा स्वागत को आतुर हैं ।भारत में

नैतिकता की आस, ग्रेड की प्यास

शिक्षा के मंदिर जो नैतिकता के केंद्र होते हैं अगर वही अनैतिक आचरण करने लगे तो लोगों का शिक्षा व्यवस्था से मोह भंग होना स्वाभाविक है। हैदराबाद स्थित मल्ला रेड्डी

Skip to toolbar