National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

Category: विजय न्यूज़ विशेष

Total 85 Posts

सरकार और प्रशासन की नाकामी है दिल्ली दंगे

शाहीनबाग़ संयोग या प्रयोग हो सकता है लेकिन अमरीकी राष्ट्रपति की भारत यात्रा के दौरान देश की राजधानी में होने वाले दंगे संयोग कतई नहीं हो सकते। अब तक इन

विश्व मातृभाषा दिवस 21 फरवरी के लिए विशेष

निश्चित रूप से भाषा धरती की होती है, न किकिसी धर्म या फिरके की। पर इस छोटे से तथ्य की लम्बे समय से अनदेखी होती रही है। इसके अनेकों घातक

हिंदू-मुस्लिम एकता की अनूठी मिसाल है बिहार का यह शिव मंदिर

विजय न्यूज़ ब्यूरो समस्तीपुर जिला मुख्यालय से करीब 17 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम मोरवा प्रखंड के सुल्तानपुर मोरवा में स्थापित हैं- खुदनेश्वर महादेव।मंदिर का नाम खुदनी नामक मुस्लिम महिला के नाम पर

चिकित्सक के साथ ही सामाजिक अग्रदूत भी है बिहार डा राणा एसपी सिंह

अनूप नारायण सिंह। विजय न्यूज़ पटना। सच ही कहा गया है कि इंसान अगर दिल में यह ठान ले कि उसे अपनी मंजिल को प्राप्त करना है तो रास्ते के कांटे

केजरीवाल का महानायक का नया अवतार

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल एक बार फिर नए अवतार की भूमिका में देश विदेश में चर्चा में हैं। उन्होंने चुनावी इतिहास में प्रचंड बहुमत के साथ लगातार तीसरी बार

विश्वास + त्याग = प्रेम

वैलेंटाइन डे पर विशेष   ये इश्क नहीं आसाँ इतना ही समझ लीजे इक आग का दरिया है जिसमें डूब के जाना है जिगर मुरादाबादी ने इश्क को आग का दरिया

प्रेम न बाड़ी ऊपजे, प्रेम न हाट बिकाय !

प्रेम दो आत्माओं के एक होने का नाम है। प्रेम भावनाओं और विश्वास का पवित्र बंधन है। प्रत्येक धर्म में प्रेम करने की बात कही गयी है। प्रेम जीवन का

कैसे कोई कंपनी छूने लगती हैं बुलंदियों को

निश्चित रूप से हम सबने देश की कॉरपोरेट संसार की प्रमुख कंपनियों जैसे रिलायंस, टाटा, बिड़ला, विप्रो, एचसीएल वगैरह के नाम सुने हैं। पर जरा बताइये कि हमसे कितने लोगों

दिल्ली विधानसभा चुनाव: 70 सीटों पर कौन जीता, कौन हारा

दिल्ली विधानसभा चुनाव: 70 सीटों पर कौन जीता, कौन हारा क्रम संख्या विधानसभा क्षेत्र आप उम्मीदवार बीजेपी+ उम्मीदवार कांग्रेस+ उम्मीदवार कौन जीता 1 नरेला शरद चौहान नील दमन खत्री सिद्धार्थ

दिल को सुकून देते हैं बांसुरी के मधुर स्वर

संगीत के सात सुर होते हैं। सा, रे, गा, मा, पा, धा और नि। इन सात सुरों के इर्दगिर्द ही संगीत की कहानी बुनी हुई है। जब ये सात सुर

कैंसर दिवस पर विशेष : ‘जो डर गया समझो मर गया

वह कैंसर की महामारी से ग्रस्त थी। दो बार हमला हुआ। वह शुरू में पीड़ित थी लेकिन उसे कोई खतरा नहीं था। फिर भी डरी हुई थी। मजाल जो कोई

इंसानियत पर भारी चीन की बीमार मानसिकता

कोरोना वायरस आज भारत समेत दुनिया भर में सेहत और जिंदगी के लिए जबरदस्त चुनौती बनकर सामने खड़ा है. पूरी दुनिया में असर भी दिखने लगा है. ईश्वर न करे

बापू, एक बार फिर आ जाओ!

30 जनवरी – शहीदी दिवस पर विशेष पीके फिल्म का एक दृश्य है। अभिनेता आमिर खान गाजर खरीदने के लिए दुकानदार को गांधी जी के चित्र वाली कई तरह की

अब जनता की भी सुनिए सरकार

मोदी सरकार अपने दूसरे कार्यकाल का दूसरा आम बजट पेश करने वाली है। हर साल आने वाले बजट का नाम सुनते ही लोगों की आंखों में उम्मीद की किरण दिखने

महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का राजनीतिक सफर

विजय कुमार दिवाकर महाराष्ट्र में गुरुवार शाम शिवाजी पार्क में नई सरकार का शपथ ग्रहण समारोह हुआ। यहां शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने राज्य के 18वें मुख्यमंत्री के रूप में

महाराष्ट्र की सियासत में किंगमेकर बने शरद पवार

महाराष्ट्र में आखिरकार महा हाईवोल्टेज ड्रामे का पटाक्षेप हो गया है। महाराष्ट्र विवाद में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद राजनीतिक तस्वीर पूरी तरह से बदल गई। देवेंद्र फडणवीस ने

कब और क्यों लगाया जाता है राष्ट्रपति शासन

हम आपको यह समझाने की कोशिश कर रहे हैं कि किसी भी राज्य में राष्ट्रपति शासन किन परिस्थितयों में लगता है और इसके क्या प्रावधान होते हैं. महाराष्ट्र की बात

जानिए कौन हैं वो 5 जज जो देंगे अयोध्या मामला पर फैसला

विजय कुमार दिवाकर राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट में 40 दिनों से चल रही सुनवाई बुधवार को खत्म हो गई और फैसला सुरक्षित रख लिया गया.

अगर आवारा जानवर करे हमला तो ऐसे करें केस, मिलेगा मोटा मुआवजा

अगर आप सड़कों और गलियों पर घूमने वाली आवारा गाय या फिर किसी जानवर के हमले के शिकार हुए हैं, तो आप स्थानीय प्रशासन और सरकार के खिलाफ केस करके

आखिरकार कब मिलेगा भगत सिंह को सरकारी रिकॉर्ड में शहीद का दर्जा?

शहीद-ए-आजम भगत सिंह की 112वीं जयंती पर विशेष: आखिरकार कब मिलेगा भगत सिंह को सरकारी रिकॉर्ड में शहीद का दर्जा? ‘शहीदों की चिताओं पर लगेंगे हर बरस मेले, वतन पर

डाॅ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन : राजनीति में दार्शनिकता के शिखर व्यक्तित्व

महापुरुषों की कीर्ति किसी एक युग तक सीमित नहीं रहती। उनका लोकहितकारी चिन्तन, जीवन मूल्यों को लोकजीवन में संचारित करने की दृष्टि एवं गिरते सांस्कृतिक मूल्यों की प्रतिष्ठा का संकल्प