न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

कोरोना संक्रमित हैं मुख्तार अंसारी और आजम खान, इलाज के लिए नहीं जाना चाहते जेल से बाहर

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की जेल में बंद कैदियों में दो ऐसे कैदी कोरोना संक्रमित हैं, जिन पर प्रदेश भर की निगाहें लगी हैं. उनकी देखरेख के लिए जिले के सीएमओ से लेकर तमाम डॉक्टर और अधिकारी नजर गड़ाए हुए हैं. बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी बांदा जेल में बंद हैं और समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान सीतापुर जेल में बंद हैं और ये दोनों ही कोरोना पॉजिटिव हैं. दोनों की हालत में सुधार हो रहा है. दोनों को आइसोलेशन में रखा गया है.

सबसे पहले बात यूपी के पूर्व मंत्री और वरिष्ठ सपा नेता आजम खान और उनके बेटे अब्दुल्ला आजम की. वे दोनों ही सीतापुर जेल में बंद हैं. आजम खान का ऑक्सीजन लेवल 97- 98 के बीच चल रहा है. जेल प्रशासन ने आजम खान को एहतियात के तौर पर लखनऊ अस्पताल भेजने की पेशकश भी की. लेकिन आजम खान ने इलाज के लिए बाहर जाने से मना कर दिया. उन्होंने कहा कि वो सीतापुर जेल में ही रहना चाहते हैं. जेल के अफसरों ने आजम खान और उनके बेटे को एक साथ एक ही बैरक में रखा है. डॉक्टरों की टीम लगातार उनकी निगरानी कर रही है.

वहीं, दूसरी तरफ बांदा जेल की बैरक नंबर 15 में बंद बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी का ऑक्सीजन लेवल भी 96-98 चल रहा है. उनको किसी भी तरह की परेशानी नहीं है. जेल के डॉक्टर लगातार मुख्तार अंसारी के स्वास्थ्य की निगरानी कर रहे हैं. उन्हें कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत दी जाने वाली दवाएं दी जा रही हैं.

यूपी के डीजी जेल आनंद कुमार की मानें तो जेल प्रशासन के लिए सभी कैदी बराबर हैं. सभी की देख रेख की जा रही है. कोविड प्रोटोकाल का पालन किया जा रहा है. लेकिन जहां तक मुख्तार अंसारी और आजम खान की बात है. तो दोनों ही कैदियों की सेहत पर जेल के अधिकारी निगाह रखे हुए हैं. आजम खान से उनकी उम्र देखते हुए सीतापुर या लखनऊ के किसी अन्य अस्पताल में भेजने की पेशकश की गई, लेकिन आजम खान ने मना कर दिया.

आनंद कुमार के मुताबिक एमएलए मुख्तार अंसारी और सपा नेता आजम खान के स्वास्थ्य को लेकर मुख्यालय भी अपडेट लेता रहता है. फिलहाल दोनों कोरोना संक्रमित जरूर हैं, लेकिन स्थिति सामान्य है, किसी को कोई परेशानी नहीं है.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar