न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

चलो दिल्ली वोट डालने: आज सुबह 8 बजे से होगी वोटिंग, सुरक्षा के हैं पुख्ता इंतजाम

विजय कुमार दिवाकर
नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में शनिवार (8 फरवरी) को सुबह आठ बजे से कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच वोटिंग होगी। चुनाव अधिकारियों ने शनिवार को होने वाले 70 सदस्यीय दिल्ली विधानसभा चुनाव के मतदान के लिए तैयारियां पूरी कर ली हैं और राष्ट्रीय राजधानी में सुरक्षा इंतजाम कड़े करने के साथ ही शाहीन बाग तथा अन्य संवेदनशील मतदान केंद्रों पर अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है।

5 बूथ संवेदनशील, हर सीट पर पिंक और मॉडल बूथ भी
दिल्ली में 1।47 करोड़ लोगों को मताधिकार प्राप्त है और इस चुनावी मुकाबले में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी, बीजेपी तथा कांग्रेस प्रमुख रूप से मैदान में हैं। मतदान से कुछ दिन पहले ही कांग्रेस और बीजेपी ने अपना प्रचार अभियान बड़े आक्रामक तरीके से चलाया। दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी रणबीर सिंह ने कहा कि सभी ईवीएम की जांच की गई है और वे फुलप्रूफ हैं तथा उनसे छेड़छाड़ नहीं की जा सकती। सुरक्षा कर्मी स्ट्रांग रूम की पहरेदारी कर रहे हैं जहां ईवीएम रखे गए हैं। दिन में सभी विधानसभा क्षेत्रों में चुनाव कर्मी ईवीएम और अन्य मतदान सामग्री कड़ी निगरानी में ले गए।

उन्होंने कहा, ‘मतदान सामग्री मिलने के बाद, बड़ी संख्या में मतदान केंद्र पहले ही स्थापित हो गए हैं और जल्द ही सभी हो जाएंगे। मॉडल मतदान केंद्र सभी 70 निर्वाचन क्षेत्रों में, प्रत्येक में एक हैं। वहां एक-एक पिंक बूथ भी होंगे।’ अधिकारियों ने कहा कि शाहीन बाग में चल रहे संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) विरोधी प्रदर्शनों के मद्देनजर दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय ने क्षेत्र के तहत पड़ने वाले सभी पांच मतदान केंद्रों को ‘संवेदनशील’ की श्रेणी में रखा है और मतदाताओं में विश्वास पैदा करने के लिए लगातार कदम उठाये जा रहे हैं। सिंह ने यह बात दोहराई कि क्षेत्र में पैनी नजर है और जिन क्षेत्रों में मतदान गतिविधियां होंगी, वहां कोई अवरोध नहीं है। इसलिए मतदाताओं को किसी तरह की समस्या का सामना नहीं करना होगा।

70 सीटों पर भाग्य आजमा रहे 672 प्रत्याशी
उन्होंने कहा कि दिल्ली चुनाव में 1,47,86,382 लोगों को मतदान का अधिकार है जिनमें से 2,32,815 मतदाता 18 से 19 साल आयुवर्ग के हैं। चुनाव के लिए तीन सप्ताह से अधिक समय तक चला तूफानी प्रचार गुरुवार को शाम छह बजे थम गया। दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों के लिए 672 उम्मीदवार मैदान में हैं।

इस बार वोटिंग में दिखेगा एप्प का यूज
विशेष पुलिस आयुक्त (आसूचना) प्रवीर रंजन ने बताया कि केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) की 190 कंपनियों को सुरक्षा कारणों से तैनात किया गया है। उन्होंने कहा कि जहां तक संवेदनशील मतदान केंद्रों की बात है तो 516 जगहों पर 3704 बूथ इस श्रेणी में आते हैं। हाल ही में चुनाव कार्यालय के अधिकारियों ने प्रदर्शनकारियों से मिलकर उन्हें मतदान के लिए प्रोत्साहित किया था। इस बार चुनाव में मोबाइल एप्प, क्यूआर कोड, सोशल मीडिया इंटरफेस जैसी तकनीकों का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। दिल्ली के 11 जिलों की एक-एक विधानसभा सीट चुनी गयी हैं जिन पर मतदाता मतदान पर्ची बूथ पर नहीं लाने की स्थिति में स्मार्टफोन के जरिये हेल्पलाइन एप्प से क्यूआर कोड प्राप्त कर सकता है। इनमें सुल्तानपुर माजरा, सीलमपुर, बल्लीमारान, बिजवासन, त्रिलोकपुरी, शकूर बस्ती, नई दिल्ली, रोहतास नगर, छतरपुर, राजौरी गार्डन और जंगपुरा हैं।

रैपिडो मुफ्त में पहुंचाएगी मतदान केंद्र
बाइक टैक्सी सेवा प्रदान करने वाली एप्प आधारित कंपनी रेपिडो शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी में मतदाताओं को मतदान केंद्र तक पहुंचने में मदद करने के लिए मुफ्त सफर कराएगी। दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय के एक अधिकारी ने कहा, ‘रेपिडो मतदाताओं को अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने में मदद पहुंचाने के लिए छोटी सी भूमिका निभाएगी। वह दिल्ली में सभी मतदाताओं को मतदान केंद्र तक के लिए मुफ्त सफर की पेशकश कर रही है। कंपनी दिल्ली में कहीं भी तीन किलोमीटर तक मतदान केंद्र तक पहुंचने के लिए शत प्रतिशत भाड़ा माफ कर देगी।’

शाहीन बाग इलाके में सुरक्षा के सख्त इंतजाम
नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन का केंद्र बने शाहीन बाग में विशेष सुरक्षा बंदोबस्त किए गए हैं। पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा, ‘चुनाव के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। शाहीन बाग में विशेष तौर से बीएसएफ (सीमा सुरक्षा बल) की टुकड़ी को तैनात किया गया है।’ दक्षिण पूर्व दिल्ली के डीसीपी आर। पी। मीना ने कहा, ‘सुरक्षा के कड़े इंतजाम हैं और हम लोगों से अपील कर रहे हैं कि वे अधिक से अधिक संख्या में अपने मताधिकार का इस्तेमाल करें। लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखकर निर्देश दिए गए हैं। मतदान शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो, इसे लेकर पुलिस ने व्यवस्था की है।’ नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध का केंद्र बन चुके शाहीन बाग में सुरक्षा के इंतजाम पर एक पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘चुनाव के मद्देनजर शाहीन बाग में नजर रखने के लिए पुलिस पेट्रोलिंग बाइकर्स तैनात किए गए हैं। यहां के पांच मतदान केंद्रों को संवेदनशील चिन्हित किया गया है। सीसीटीवी के माध्यम से भी निगरानी रखी जा रही है।’

वोटिंग की पूर्व संध्या पर गोलीबारी
दिल्ली विधानसभा से ठीक चंद घंटे पहले उत्तर पूर्वी जिले के जाफरबाद इलाके में गोलीबारी की वारदात को अंजाम दे दिया गया। घटना शुक्रवार दोपहर बाद करीब दो बजे के आसपास की है। गोली किसी को लगी नहीं है। आरोपी हमलावर मोटर साईिकल पर सवार थे। शुक्रवार रात यह जानकारी उत्तर पूर्वी दिल्ली जिले के डीसीपी वेद प्रकाश सूर्या ने दी। उन्होंने बताया, ‘दोपहर बाद करीब दो बजे जिला पुलिस कंट्रोल रूम को जाफराबाद इलाके में गोली चलने की खबर मिली थी। पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस को घटनास्थल पर साबिर (50) मिला। घटनास्थल साबिर की ही दुकान के सामने था। साबिर की कैसेट्स की दुकान है।’

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar