न्यूज के लिए सबकुछ, न्यूज सबकुछ
ब्रेकिंग न्यूज़

Devoleena Bhattacharjee और Nia Sharma के बीच हुई Cat Fight, Pearl Puri को लेकर हुआ झगड़ा

मुंबई। टीवी एक्टर पर्ल पुरी (Pearl Puri) के मामले में टीवी इंडस्ट्री के कई सितारों ने अपनी राय रखी है. लेकिन राय रखते-रखते टीवी की दो एक्ट्रेस आपस में ही भिड़ गईं और ट्विटर पर एक-दूसरे को ऊटपटांग बातें भी सुनाने लगीं.

दो एक्ट्रेस के बीच हुई कैट फाइट
देवोलीना भट्टाचार्जी (Devoleena Bhattacharjee) और निया शर्मा (Nia Sharma) के बीच ट्वीट वॉर सुर्खियों में है. पर्ल वी पुरी पर दोनों ने ट्वीट्स किए जिसके बाद बात बढ़ती चली गई. टीवी ऐक्टर पर्ल वी पुरी पर 2019 में नाबालिग से रेप का आरोप है. उन्हें हिरासत में लेकर 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है. निया (Nia Sharma) पर्ल के सपोर्ट में हैं वहीं देवोलीना (Devoleena Bhattacharjee) विक्टिम को कोसने और गाली-गलौज करने वालों विरोध कर रही थीं. इसी दौरान दोनों आपस में एक-दूसरे के खिलाफ ही ट्वीट करने लगीं.

निया ने देवोलीना को कहा दीदी
निया (Nia Sharma) ने लिखा है, दीदी को कोई बता दो धरना औ कैंडल मार्च नहीं कर सकते पेंडेमिक है अभी भी. साथ ही दीदी को वो बकवास डांस रील्स बनाने से पहले प्रैक्टिस करने की जरूरत है, उन्हें लगता है कि बहुत बढ़िया कर रही हैं.

देवोलीना ने निया को कहा छोटी
देवोलीना ( Devoleena Bhattacharjee) ने इस पर जवाब दिया है, प्लीज छोटी को कोई बता दो, सिर्फ फैशन सिक्ल्स दिखाने से कोई इंसान नहीं बन जाता है. अच्छी सोच और अच्छे दिल की जरूरत होती है, जिसकी कमी दिख रही है. और मैंने अपनी रील्स बढ़िया की या नहीं कीं ये मेरे फैन्स को डिसाइड करने दो. यहां पे भी जज बन गई. बेहतर होगा अपने फोटोशूट्स पर फोकस करो.

देवोलीना ने फिर किया ट्वीट
और वैसे भी मेरे सारे ट्वीट्स उन लोगों के लिए थे जो लोग 7 साल की बच्ची को गाली दे रहे हैं, कोस रहे हैं, ट्रोल कर रहे हैं और गोल्ड डिगर बोल रहे हैं. मिर्ची छोटी को क्यों लगी? या फिर वह उन लोगों में से है जो आर्टिकल पढ़कर रिऐक्ट करने लगती है, बिना फैक्ट चेक किए.

क्या है मामला?
आपको बता दें, देवोलीना (Devoleena Bhattacharjee) ने 6 जून को ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने पर्ल वाले केस में नाबालिग विक्टिम को कोसने वाले लोगों के खिलाफ लिखा था. पर्ल के गिरफ्तार होने के बाद निया (Nia Sharma tweet) ने ट्वीट किया था, सुविधासंपन्न लड़कियों और महिलाओं, रेप जैसे जघन्य आरोप को इतना सामान्य और कैजुअल मत बनाओ कि आने वाली पीढ़ी के लिए इसकी कोई वैल्यू ही न रहे. पर्ल तुम्हें मेरा सपोर्ट है.

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar