National Hindi Daily Newspaper
ब्रेकिंग न्यूज़

लोगों की जीवनशैली बना डिजिटल इंडिया कार्यक्रम : पीएम मोदी

बेंगलुरु। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने बेंगलुरु टेक समिट में कहा कि केंद्र सरकार का ‘डिजिटल इंडिया’ कार्यक्रम आज लोगों की जीवनशैली बन गया है, खासकर उन लोगों की जो गरीब हैं, हाशिए पर हैं और जो सरकार में हैं. वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से तीन दिवसीय प्रौद्योगिकी शिखर सम्‍मेलन ‘बेंगलुरु टैक समिट-2020’ का उद्घाटन करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि उनकी सरकार का मॉडल ‘‘प्रौद्योगिकी पहले’’ है जिसका इस्तेमाल लोगों के जीवन में बहुत बदलाव लेकर आया है और इसके जरिए लोगों की गरिमा में वृद्धि हुई है.

‘लोगों की जीनवशैली बना डिजिटल इंडिया’
मोदी ने कहा, “पांच साल पहले हमने डिजिटल इंडिया की शुरुआत की थी. मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि इसे सरकार की किसी सामान्य पहल की तरह नहीं देखा जा रहा है. डिजिटल इंडिया जीवनशैली बन गया है, खासकर उन लोगों की जो गरीब और हाशिए पर हैं तथा तथा जो सरकार में हैं.” प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि डिजिटल इंडिया की वजह से आज देश में मानव केंद्रित विकास हो रहा है. इतने बड़े स्तर पर इसके इस्तेमाल ने नागरिकों के जीवन में कई बदलाव किए हैं और इससे मिल रहे फायदे से हर कोई वाकिफ है.”

‘टेक्नोलॉजी के जरिए एक क्लिक में पहुंची मदद’
उन्होंने कहा, “टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से मानव गरिमा में वृद्धि हुई है. आज करोड़ों किसानों को सिर्फ एक क्लिक के जरिए आर्थिक मदद पहुंचती है. जब देश में लॉकडाउन चरम पर था तब वह टेक्नोलॉजी ही थी जिसने भारत के गरीबों को मदद सुनिश्चित की. उन्होंने कहा कि आज हमारे पास सर्वश्रेष्ठ दिमाग के साथ बड़ा बाजार भी है. हमारे टेक्नोलॉजी जगत के पास वैश्विक होने की क्षमता भी है. अब समय है कि भारत के टेक्नोलॉजी सॉल्यूशंस को विश्व में ले जाएं.

बेंगलुरु टैक समिट में ये हस्तियां होंगी शामिल
‘बेंगलुरु टैक समिट’ में ऑस्‍ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्‍कॉट मॉरिसन, स्विस कॉन्‍फेडरेशन के उपाध्‍यक्ष गाई पार‍मेलिन और कई अन्‍य गणमान्‍य हस्तियां भाग लेंगी. इनके अलावा इस कार्यक्रम में भारत समेत पूरे विश्‍व के लीडिंग थिंकर, इंडस्ट्री फ्रंटलाइन बिजनसमैन, टेक्नीकल एक्सपर्ट्स, रिसर्चर्स, इनोवेटर, इन्वेस्टर्स, पॉलीसी मेकर्स के साथ-साथ शिक्षा क्षेत्र की महत्‍वपूर्ण हस्तियां भी शामिल होंगी.

इनके सहयोग से आयोजित हो रहा समिट
तीन दिनों के इस सम्मेलन का आयोजन कर्नाटक सरकार ने कर्नाटक इनोवेशन एंड टेक्नोलॉजी सोसाइटी (केआईटीएस), कर्नाटक सरकार के इन्‍फॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी संबंधी विजन ग्रुप, बायोटेक्‍नोलॉजी एंड स्‍टार्टअप, सॉफ्टवेयर टेक्‍नोलॉजी पार्क ऑफ इंडिया (एसटीपीआई) और एम.एम. एक्टिव साइंस टैक कम्‍युनिकेशन्‍स के सहयोग से किया है.

Next is Now है समिट का मेन टॉपिक
इस साल सम्‍मेलन का मुख्‍य विषय ‘Next is Now’ है. इसके तहत कोरोना वायरस महामारी के बाद के विश्‍व में उभरती मुख्‍य चुनौतियां और ‘इन्फोर्मेशन टेक्नोलॉजी एंड इलेक्ट्रॉनिक्स और बायोटेक्‍नोलॉजी के क्षेत्र में प्रमुख टेक्नोलॉजी के अलावा इनोवेटिव टेक्नोलॉजी के प्रभाव पर मुख्‍य रूप से चर्चा होगी.’

 

Print Friendly, PDF & Email
Skip to toolbar